Tuesday, October 19, 2021

विषय

बलूचिस्तान

पाकिस्तान: ग्वादर के मरीन ड्राइव पर लगी मोहम्मद अली जिन्ना की प्रतिमा को बम से उड़ाया

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के तटीय शहर ग्वादर में विद्रोहियों ने मोहम्मद अली जिन्ना की प्रतिमा को बम धमाके से नष्ट कर दिया।

चीन-पाकिस्‍तान की बढ़ी साझा मुश्किल: खैबर पख्‍तूनख्‍वा में CPEC को लेकर विद्रोही समूह ने किया हिंसक विरोध तेज

तालिबान के करीबी नूर वली महसूद के नेतृत्व वाले टीटीपी ने पाक की सीमा से लगते संवेदनशील क्षेत्रों में अपने सुरक्षा बलों को फिर से तैनात कर दिया ​है।

Pak ने शाहीन-3 मिसाइल टेस्ट फायर किया, हुए कई घर बर्बाद और सैकड़ों घायल: बलूच नेता का ट्वीट, गिरना था कहीं… गिरा कहीं और!

"पाकिस्तान आर्मी ने शाहीन-3 मिसाइल को डेरा गाजी खान के राखी क्षेत्र से फायर किया और उसे नागरिक आबादी वाले डेरा बुगती में गिराया गया।"

पाकिस्तान के बलूचिस्तान में अपहरण के बाद 11 कोयला खनिकों की गोली मारकर हत्या

बलूचिस्तान के माच इलाके में रविवार को आतंकवादियों ने 11 कोयला खनिक को गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया।

2016 की रक्षाबंधन पर PM मोदी से कहा- आप मेरे भाई हैं…, 2020 में कनाडा में लाश मिली: करीमा को किसने मारा?

करीमा की संदिग्ध मौत से उन खबरों को बल मिला है जिसमें कनाडा में ISI एजेंट्स की सक्रियता बढ़ने का दावा किया जा रहा है।

बलूचिस्तान के 40 करोड़ टन के सोने व ताम्बे के खदान चीन को सौंपे: कंगाल Pak के खिलाफ बलूचों ने किया विरोध प्रदर्शन

पाकिस्तान भले ही 100 अरब डॉलर के लोन के साथ कंगाली की ओर बढ़ रहा है लेकिन बलूचिस्तान में उसने चीन को खुली छूट दे रखी है। स्थानीय लोग इसके विरोध में उतर आए हैंपाकिस्तान भले ही 100 अरब डॉलर के लोन के साथ कंगाली की ओर बढ़ रहा है लेकिन बलूचिस्तान में उसने चीन को खुली छूट दे रखी है। स्थानीय लोग परेशान।

पाकिस्तानी सेना के टैंक से नहीं डरे बलूच प्रदर्शनकारी, सैनिकों को खदेड़ा, चेक पोस्ट फूँका: देखें Video

बलूचिस्तान में पाकिस्तानी सैनिकों को खदेड़ने का वीडियो सामने आया है। प्रदर्शनकारियों ने चेक पोस्ट को भी आग के हवाले कर दिया।

2 महीने से लापता साजिद हुसैन की लाश नदी ​में मिली, पाकिस्तानी सेना के निशाने पर थे बलूच एक्टिविस्ट

साजिद हुसैन बलूचिस्तान में पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे मानवाधिकार उल्लंघनों पर बेबाकी से लिखते थे। उन्होंने स्वीडन में शरण ले रखी थी।

POJK पर जब पाकिस्तान आक्रामक ढंग से आगे बढ़ रहा था, तब हम कान में तेल डाले सो रहे थे

महात्मा गाँधी की सलाह को प्रधानमंत्री नेहरू ने अनदेखा किया। शेख ने भी अपनी बात रखने में बहुत वक्त लगा दिया। प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव से पहले ही POJK को वापस लेने के लिए भारत सरकार को अपनी नीतियाँ स्पष्ट कर देनी थीं। लेकिन अफसोस यह है कि...

‘अमेरिका से भीख के लिए पाक के कठपुतली प्रधानमंत्री ने मानी आतंकवादियों को प्रशिक्षित करने की बात’

इमरान खान के बयान से साफ झलक रहा है कि वो केवल अमेरिका से अपने भीख के कटोरे में धन प्राप्त करने के लिए ऐसा बोल रहे हैं। हर कोई पाकिस्तान, उसकी सैन्य नेतृत्व और इसकी कठपुतली सरकार की वास्तविकता को जानता है।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,026FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe