Tuesday, August 3, 2021

विषय

मीडिया फैक्ट चेक

बिजनेस स्टैंडर्ड ने लद्दाख में भारत-चीन के बीच फिर से करवा दी झड़प, सेना ने खोली झूठ की पोल

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट ने दावा किया गया था कि लद्दाख में भारत-चीन के बीच दोबारा उसी जगह झड़प हुई जहाँ पिछले साल हुई थी।

PETA वाली महिला गोरिल्ला के वीर्य से हुई गर्भवती… प्रजाति बचाने के लिए उठाया कदम – Fact Check

चिड़ियाघर में रहने वाले 12 साल के अफ्रीकी गोरिल्ला को मौली हीथर के गर्भ में पल रहे भ्रूण का पिता माना जा रहा है।

‘Ketto के पैसे मेरे पर्सनल अकाउंट में नहीं आए’- प्रोपेगेंडा पत्रकार राणा अयूब का दावा: जानिए क्या है सच

राणा आयूब का यह पहला कैम्पेन नहीं है जो संदेह के दायरे में आया है। इससे पहले उन्होंने महाराष्ट्र, बिहार और असम में राहत कार्यों के लिए कैम्पेन चलाया गया था। इस कैम्पेन में 68 लाख रुपए इकट्ठा हुए थे।

अनुभव शर्मा को परिवार ने छोड़ा, मोहम्मद युनूस ने किया दाह संस्कार: मीडिया गिरोह के प्रोपेगेंडा की खुली पोल

अनुभव के भाई ने कहा कि उन्हें हँसी का पात्र बना दिया गया। वायरल लेकिन झूठे पोस्ट से वह लोग बहुत आहत हैं। किसी ने ये प्रकाशित करने से पहले...

ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुआ वीर अब्दुल हमीद के बेटे का इंतकाल, फेक न्यूज़ लेकर AAP नेता संजय सिंह ने CM योगी को...

तबीयत बिगड़ने के बाद अली हसन को अस्पताल लाया गया, वहाँ 14 लीटकर ऑक्सीजन दी गई। लेकिन हालत में कोई सुधार नहीं हुआ। 23 अप्रैल को उपचार के दौरान उनकी मृत्यु हो गई।

Covaxin के लिए जमा कर लीजिए पैसे, कंपनी चाहती है ज्यादा से ज्यादा कीमत: मनी कंट्रोल में छपी खबर – Fact Check

मनी कंट्रोल ने अपने लेख में कहा, "बाजार में कोविड वैक्सीन की कीमत 1000 रुपए, भारत बायोटेक कोवैक्सीन के लिए चाहता है अधिक से अधिक कीमत"

‘भारत में कोरोना के डबल म्यूटेशन ने दुनिया को चिंता में डाला’: मीडिया द्वारा बनाए जा रहे ‘डर के माहौल’ का FactCheck

'ब्लूमबर्ग' की रिपोर्ट में दावा किया गया कि भारत के इस डबल म्यूटेशन ने दुनिया को चिंता में डाल दिया है। जानिए क्या है इसके पीछे की सच्चाई।

मोदी सरकार ने चुपके से हटा दी कोरोना वॉरियर्स को मिलने वाली ₹50 लाख की बीमा: लिबरल मीडिया के दावों में कितना दम

दावा किया जा रहा है कि कोरोना की ड्यूटी के दौरान जान गँवाने वाले स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 50 लाख की बीमा योजना केंद्र सरकार ने वापस ले ली है।

जिसके लिए लॉजिकल इंडियन माँग चुका है माफी, द वायर के सिद्धार्थ वरदाराजन ने फैलाई वही फेक न्यूज: जानें क्या है मामला

अब इसी क्रम में सिद्धार्थ वरदाराजन ने फिर से फेक न्यूज फैलाई है। हालाँकि इसी फेक न्यूज के लिए एक दिन पहले ही द लॉजिकल इंडियन सार्वजनिक रूप से माफी माँग चुका है।

परीक्षा पे चर्चा: क्या वाकई पीएम मोदी ने छात्रों को एग्जाम में कठिन प्रश्नों को पहले हल करने का सुझाव दिया? जानिए सच्चाई

परीक्षा पे चर्चा में पीएम मोदी ने कहा कि परीक्षा में सरल प्रश्नों को पहले हल करने का सुझाव दिया जाता है लेकिन पढ़ाई के दौरान इसके उलट व्यवहार करना चाहिए।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,775FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe