Friday, June 14, 2024

विषय

समाजवादी पार्टी

लोकसभा चुनाव: सपा ने जारी की छः उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, देखें कौन लड़ेगा कहाँ से चुनाव

समाजवादी पार्टी ने अपने छः उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट के मुताबिक सपा संस्थापक एवं संरक्षक मुलायम सिंह यादव मैनपुरी से चुनाव लड़ेंगे, जबकि धर्मेंद्र यादव बदायूँ से।

राजनीतिक बहस बनी जानलेवा: सपा कार्यकर्ता आपस में भिड़े, 1 की मौत

माहौल इस क़दर बिगड़ा कि आपस में हाथापाई हुई और कुर्सियों को एक-दूसरे पर फेंका गया। इस अफ़रा-तफरी में भालचंद्र यादव समर्थकों के साथ मारपीट हुई और धनघटा विस क्षेत्र के पूर्व अध्यक्ष लाल बहादुर यादव का पैर टूट गया।

सपा-बसपा गठबंधन पर मुलायम हुए नाराज़, कहा: ‘अपने ही लोग पार्टी को खत्म कर रहे हैं’

सपा के पूर्व मुखिया ने कहा कि वह अखिलेश से ज्यादा अनुभवी हैं। ऐसे में उन्हें संरक्षक तो बनाया गया है लेकिन उनके पास कोई जिम्मेदारी नहीं है।

‘पक्का मर्डर होगा’ – अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोकने वाले दो अफ़सरों को धमकी

बीते मंगलवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ के चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डे पर उड़ान भरने से रोक दिया गया था।

अखिलेश को आई कॉन्ग्रेस की याद, चल गया प्रियंका का जादू?

"सपा का गठबंधन सिर्फ़ बसपा के साथ का नहीं हैं, बल्कि कॉन्ग्रेस भी इसमें शामिल है। आरएलडी, निशाद पार्टी और पीस पार्टी भी है।"

‘मेरे मजहब के कारण मेरे मुक़दमों पर विपक्ष मेरे साथ खड़ा नहीं… दीदी के साथ सब हैं’

आज़म खान की शिक़ायत है, "मेरे ख़िलाफ़ 250 मुक़दमे दर्ज हैं। लेकिन, मेरे लिए कोई भी लड़ने वाला नहीं हैं।

जया प्रदा ने किया खुलासा, SP नेता आज़म खान ने तेज़ाब फेंकने का किया था प्रयास

जया ने अपनी बातचीत में समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रमुख मुलायम सिंह पर उनके बचाव में नहीं आने का आरोप लगाया।

कॉन्ग्रेस को गठबंधन में न रखकर सुधारा है अपना ‘चुनावी अंकगणित’ – अखिलेश यादव

अखिलेश का सीटों पर किए बँटवारे पर कहना है कि सीटों पर समझौता करके उन्होंने विपक्षी एकता को मज़बूत किया है।

हमारे बारे में अच्छी ख़बर लिखिए, ₹50,000/महीने का सरकारी इंतज़ाम हो जाएगा: अखिलेश यादव

साथ ही, प्रदेश में साधु-संतों को पेंशन देने की खबरों के बीच अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ सरकार से हर जगह पर रामलीला में काम करने वाले सभी कलाकारों को भी पेंशन देने की माँग कर दी है।

आज़म ख़ान ममता के महागठबंधन से नाख़ुश, कहा मुस्लिम प्रतिनिधित्व नदारद

रैली में सभी नेताओं का एक मंच पर आने का मक़सद केवल वर्तमान सरकार के ख़िलाफ़ अपनी एकजुटता को प्रदर्शित करना था।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें