Monday, September 26, 2022

विषय

Ram

भगवान राम के ससुराल में ‘समधी साला है’: वो गाली जिसे सुन जगद्गुरु हुए भाव-विभोर, वायरल वीडियो पर बड़े-बड़े लोग कर रहे कॉमेंट

रामभद्राचार्य जनकपुर पहुँचे तो वहाँ की महिलाएँ समधी (गुरुदेव वशिष्ठ) के भाव से पारंपरिक गाली ‘समधी साला है’ सुनाने लगीं।

रावण और मंदोदरी की बेटी थीं सीता: वो कौन हैं, जो इस कहानी को मानते हैं… किसने लिखी है यह ‘अद्भुत’ रामायण?

अद्भुत रामायण में सीता को रावण और मंदोदरी की बेटी बताया गया है। रावण के अपने विनाश के बीज भी तार्किक रूप से इन्हीं कथाओं में गुथे गए हैं।

श्रीराम को ‘शातिर’ और रावण को ‘नेक’ बताने वाली LPU प्रोफेसर ने मंदिर में हाथ जोड़ कर माँगी माफ़ी, कहा – मैं डिप्रेशन में...

"उस समय में डिप्रेशन थी, या यूँ कह सकते हैं कि फिजिकल हेल्थ इशू की वजह से मुझे समझ में नहीं आया कि मैं क्लास में बच्चों से क्या कह रही हूँ।"

राम के अस्तित्व को कॉन्ग्रेस की महिला MP ने नकारा, पूछा- कौन हैं, तमिलनाडु में उनका मंदिर भी नहीं देखा

तमिलनाडु की कॉन्ग्रेस नेता ने हाल में बयान दिया कि उन्हें नहीं पता कि राम कौन थे? वो मंदिर जाती हैं पर अपने पूर्वजों का अनुसरण करने।

‘राम रामायण के पात्र, मैं भगवान नहीं मानता’: बिहार के पूर्व CM मांझी ने कहा- सवर्ण बाहरी, ब्राह्मणों से पूजा ना कराएँ दलित

जीतन राम मांझी का कहना है कि अनुसूचित जाति के लोगों को पूजा-पाठ नहीं करनी चाहिए। राम केवल रामायण की कल्पना मात्र हैं।

गुजरात हिंसा में विदेशी फंडिंग, पहले से ही रच ली गई थी साजिश: ईंट-पत्थर और लाठी-डंडे जुताई थे: गिरफ्तार मौलवियों से पूछताछ में खुलासा

गुजरात के आनंद जिले के खंभात में रामनवमी पर हिंसा को अंजाम देने के लिए मौलवियों ने जिले के बाहर से लोगों को बुलाया था। तीनों गिरफ्तार हुए।

‘हवन में डालेंगे हड्डी, तुम्हें फेल करवा देंगे’ : JNU में रामनवमी पूजा से भड़के वामपंथी-कट्टरपंथी, SFI अध्यक्ष की पत्थरबाजी करते वीडियो वायरल

राम नवमी के मौके एबीवीपी ने पहली बार पूजा का आयोजन किया था। उनका दावा है कि वामपंथी पहले से धमकी दे रहे थे कि वो पूजा नहीं होने देंगे

‘राम हमारे पूर्वज, उनके बिना हमारा कोई अस्तित्व नहीं’: काशी में मुस्लिम महिलाओं ने रामनवमी पर की आरती, कहा- जो राम से अलग हुआ,...

रामनवमी के अवसर पर मुस्लिम महिलाओं ने काशी में भगवान राम और माता सीता की आरती की और आशीर्वाद लेकर विश्व शांति की कामना की।

…वो वक्त जब हिमालय जाकर प्रायश्चित करना चाहते थे भगवान श्रीराम, एक गलत काम करने का था उनको पश्चाताप

रामनवमी के दिन से ही राम को अपने व्यक्तित्व का हिस्सा बनाएँ, राम के वंशज होने के कारण हमें यह बात गाँठ बाँध लेनी चाहिए। जय श्री राम!

‘अल्लाह-हू-अकबर बोल कर मचाई तबाही, 35 लाख लोग मरे’ : मनोज मुंतशिर ने फिर साधा मुगलों पर निशाना, राम सेतु को बताया प्रेम प्रतीक

गीतकार मनोज मुंतशिर ने मुगलों को लुटेरा बताते हुए कहा कि प्रेम की असली निशानी ताजमहल नहीं, राजा राम द्वारा समुद्र पर बनाया गया पुल है।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,319FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe