Wednesday, July 6, 2022
HomeवीडियोSatire | व्यंग्यवामपंथी रोस्ट रील: गंजा, झबरा, रवीश, राहुल कँवल, राहुल गाँधी | Leftist roast reel...

वामपंथी रोस्ट रील: गंजा, झबरा, रवीश, राहुल कँवल, राहुल गाँधी | Leftist roast reel by Ajeet Bharti

अब टुटपूंजी चंपुओं की एक और लॉबी सक्रिय हो गई है। इसमें प्रतीक सिन्हा नाम का गंजा है जो फेक न्यूज के नाम पर खुद ही प्रोपेगेंडा खेलते रहता है। इसके पूरे गिरोह का यही काम है। सबके गुर्दे छीले जाएँगे...

अब टुटपूंजी चंपुओं की एक और लॉबी सक्रिय हो गई है। इसमें प्रतीक सिन्हा नाम का गंजा है जो फेक न्यूज के नाम पर खुद ही प्रोपेगेंडा खेलते रहता है। इसके पूरे गिरोह का यही काम है। सबके गुर्दे छीले जाएँगे…

पूरी वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अजीत भारती
अजीत भारती
पूर्व सम्पादक (फ़रवरी 2021 तक), ऑपइंडिया हिन्दी

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अभिव्यक्ति की आज़ादी सिर्फ हिन्दू देवी-देवताओं के लिए क्यों?’: सत्ता जाने के बाद उद्धव गुट को याद आया हिंदुत्व, प्रियंका चतुर्वेदी ने सँभाली कमान

फिल्म 'काली' के पोस्टर में देवी को धूम्रपान करते हुए दिखाया गया है। जिस पर विरोध जताते हुए शिवसेना ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता हिंदू देवताओं के लिए ही क्यों?

‘किसी और मजहब पर ऐसी फिल्म क्यों नहीं बनती?’: माँ काली का अपमान करने वालों पर MP में होगी कार्रवाई, बोले नरोत्तम मिश्रा –...

"आखिर हमारे देवी देवताओं पर ही फिल्म क्यों बनाई जाती है? किसी और धर्म के देवी-देवताओं पर फिल्म बनाने की हिम्मत क्यों नहीं हो पाती है।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,883FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe