Saturday, May 18, 2024
Homeव्हाट दी फ*अगर किसी लड़की को 'दिल' दिया तो 5 साल तक जेल में पिसेंगे चक्की:...

अगर किसी लड़की को ‘दिल’ दिया तो 5 साल तक जेल में पिसेंगे चक्की: सऊदी अरब और कुवैत में यह उत्पीड़न, बना कानून

वॉट्सऐप पर 'दिल भेजना' न सिर्फ आपको जेल में चक्की पिसवा सकती है, बल्कि लगभग सवा पाँच लाख भारतीय रुपए तक का जुर्माना भी लग सकता है।

दिल न लिया… दिल न दिया…, दिल दिया है जान भी देंगे… जैसे गानों की लाइनों से ‘ऐ दिल है मुश्किल’… वाला मामला हो गया है कुवैत और सऊदी अरब में। यहां वॉट्सऐप पर भी ‘दिल’ लेना-देना हो गया और इसकी रिपोर्ट कर दी गई तो आप सीधे पहुँच जाएँगे जेल। जी हाँ, सऊदी अरब के बाद अब कुवैत ने भी वॉट्सऐप पर ‘दिल का इमोजी भेजने’ को गैर-कानूनी घोषित कर दिया है। तो अगर किसी लड़की को आपने ‘दिल’ दिया और उसकी शिकायत उसने पुलिस में कर दी तो फिर आपको न सिर्फ जुर्माना भरना पड़ेगा, बल्कि जेल की हवा भी खानी पड़ेगी।

गल्फ न्यूज की रिपोर्ट में कुवैती वकील हया अल शलाही ने बताया है कि वॉट्सऐप पर ‘दिल भेजना’ न सिर्फ आपको 2 साल के लिए जेल भेज सकती है, बल्कि लगभग सवा पाँच लाख भारतीय रुपए यानि 2000 कुवैती दीनार तक का जुर्माना भी लग सकता है।

सोचिए जरा, वॉट्सऐप पर दिल का इमोजी भेजना आपको कितना महँगा पड़ सकता है। कुवैती अधिकारियों ने दिल की इमोजी को भेजना उत्पीड़न करने वाला कृत्य माना है, जिस पर सजा देने का भी प्रावधान कर दिया गया है।

सऊदी अरब में पहले से कानून

वॉट्सऐप पर ‘दिल भेजना’ सऊदी अरब में पहले से गैर-कानूनी है। यहाँ सजा 2 से 5 साल तक हो सकती है। हालाँकि सहमति से दोनों तरफ दिलों का आदान-प्रदान हो रहा है, तो कोई बात नहीं है। लेकिन अगर मोहतरमा बिगड़ गईं, तो फिर आपकी किस्मत पर आपको रोना ही पड़ेगा। वैसे ये नियम ‘लाल दिल’ पर ही है, साथ ही वॉट्सऐप के अलावा भी बाकी सभी सोशल मीडिया साइटों पर ये नियम लागू होता है।

हमारे यहाँ क्या होता है?

हमारे यहाँ हर इंसान दर्जनों वॉट्सऐप ग्रुप में जुड़ा रहता है। काम की भी बात आजकल वॉट्सऐप पर ही होती है। और हर रिएक्शन दिल वाला देता रहता है। जैसे कि हमारा खुद का भी। हम तो कोई खबर भी पसंद आने पर ग्रुप में सबके सामने दिल वाला इमोजी-रिएक्शन में डाल देते हैं। सोचिए, ऐसा गजब नियम हिंदुस्तान में आ गया तो?

हिंदुस्तान में ऐसा होगा तो असली अपराधी-कैदी कहाँ जाएँगे? क्योंकि हम में से हर कोई दिल वाला इमोजी-रिएक्शन में जरूर डालता है। लेकिन अगर आप कुवैत या सऊदी अरब जा रहे हैं, तो ऐसा करने की भी मत सोचना। बाकी हिंदुस्तान में दिल पर गाने बनेंगे, लोग दिन भर सुनेंगे। दिल वाला रिएक्शन भेजते रहेंगे। भाई हो, दोस्त हो, पत्नी हो, प्रेमिका हो, मम्मी हों या डैडी, खूब भेजिए दिल।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -