Friday, July 30, 2021
Homeव्हाट दी फ*अपाहिज बीवी के प्राइवेट पार्ट में नींबू, फिटकरी, शराब... फिर बनाता है अप्राकृतिक संबंध:...

अपाहिज बीवी के प्राइवेट पार्ट में नींबू, फिटकरी, शराब… फिर बनाता है अप्राकृतिक संबंध: शिकायत दर्ज

पीड़ित महिला की शादी 14 साल पहले हो चुकी है। 2 बच्चे भी हैं। लेकिन अब वो नीचता की सारी हदें पार कर चुका है। हाथ-पैर से अपाहिज महिला ने थाने पहुँच कर वो सब कुछ बताया, जो वो भुगत रही है।

हरियाणा के पानीपत में पति-पत्नी के पवित्र रिश्ते को झकझोर कर रख देने वाली घटना सामने आई है। यहाँ एक अपाहिज महिला ने अपने पति पर रूह को कँपा देने वाले अंदाज में शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना देने का आरोप लगाया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पानीपत में हाथ-पैर से अपाहिज एक महिला ने अपने पति पर आरोप लगाया है कि वह उसके प्राइवेट पार्ट में शराब, नींबू और फिटकरी डालता है। साथ ही उसने पति पर अप्राकृतिक संबंध बनाने का भी आरोप लगाया है। पीड़िता ने अपने पति के खिलाफ महिला थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

पीड़िता ने पुलिस पर लगाया कार्रवाई न करने का आरोप

पीड़िता ने साथ ही पुलिस की कार्यशैली को भी कटघरे में खड़ा करते हुए कहा है कि उसके साथ हुई इतनी निर्दयता के बावजूद पुलिस प्रशासन उसके पति के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, डीएसपी सतीश कुमार वत्स ने महिला की शिकायत मिलने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि शिकायत के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

14 साल पहले हुई थी पीड़िता की शादी

पीड़िता की शादी 14 साल पहले पानीपत के एक गाँव के निवासी अरुण नामक शख्स से हुई थी। पीड़िता और अरुण के दो बच्चे हैं।

पीड़िता का आरोप है कि शादी के बाद से ही पति की प्रताड़ना का सिलसिला भी शुरू हो गया था। लेकिन उसका पति अब नीचता की सारी हदें पार कर चुका है। पीड़िता ने पुलिस से अपने पति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की अपील की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वतंत्र है भारतीय मीडिया, सूत्रों से बनी खबरें मानहानि नहीं: शिल्पा शेट्टी की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा कि उनका निर्देश मीडिया रिपोर्ट्स को ढकोसला नहीं बताता। भारतीय मीडिया स्वतंत्र है और सूत्रों पर बनी खबरें मानहानि नहीं है।

रामायण की नेगेटिव कैरेक्टर से ममता बनर्जी की तुलना कंगना रनौत ने क्यों की? जावेद-शबाना-खान को भी लिया लपेटे में

“...बंगाल मॉडल एक उदाहरण है… इसमें कोई शक नहीं कि देश में खेला होबे।” - जावेद अख्तर और ममता बनर्जी की इसी मीटिंग के बाद कंगना रनौत ने...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,014FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe