Wednesday, July 28, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकमीडिया फ़ैक्ट चेकआखिर CM रावत ने India Today से ये क्यों कहा- भ्रामक खबर फैलाने से...

आखिर CM रावत ने India Today से ये क्यों कहा- भ्रामक खबर फैलाने से बचें?

सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इंडिया टुडे चैनल के बुलेटिन को ट्वीट करते हुए लिखा, "कृपया इस तरह की अफ़वाहों पर ध्यान ना दें- सरकार ने ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है। @IndiaToday - आपसे आग्रह है कि ऐसी भ्रामक खबरें फैलाने से बचें!"

समाचार चैनल ‘India Today’ ने अपने रोजाना के फर्जी अजेंडा और सत्ता विरोधी दुष्प्रचार में एक नया कारनामा कर दिखाया है। इंडिया टुडे ने अपने समाचार चैनल पर दावा किया कि उत्तराखंड सरकार ने देहरादून में रविवार, 29 नवम्बर से लॉकडाउन घोषित किया है। ख़ास बात यह है कि उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से India Today की इस खबर को फर्जी बताया है।

सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इंडिया टुडे चैनल के बुलेटिन को ट्वीट करते हुए लिखा, “कृपया इस तरह की अफ़वाहों पर ध्यान ना दें- सरकार ने ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है। @IndiaToday – आपसे आग्रह है कि ऐसी भ्रामक खबरें फैलाने से बचें!”

गौरतलब है कि कोरोना महामारी हो या फिर सामाजिक अपराध, इंडिया टुडे का कई प्रकार की अफवाह और ख़बरों को बिना सत्यापित किए हुए प्रकाशित करने का इतिहास रहा है। इस बार भी बिना शासन और सरकार से जानकारी लिए हुए ‘व्हाट्सऐप’ आधारित खबरों को प्रकाशित करने की जल्दबाजी के कारण इण्डिया टुडे ने फर्जी खबर फ़ैलाने का काम किया है।

इसी चैनल के पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने इसी प्रकार के उतावलेपन में पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की मौत की खबर को भी उनकी मौत से कई दिन पहले ट्वीट किया था। इसी तरह से उत्तर प्रदेश के हाथरस में इंडिया टुडे चैनल की विरोधी राजनीतिक दलों से प्रभावती ‘रिपोर्टिंग’ भी लोगों के बीच चर्चा का कारण बनी रही।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जाति है कि जाती नहीं… यूपी में अब विकास दुबे और फूलन देवी भी नायक? चुनावी मेंढक कर रहे अपराधियों का गुणगान

किसी को ब्राह्मण के नाम पर विकास दुबे और श्रीप्रकाश शुक्ला तो किसी को निषाद के नाम पर फूलन देवी याद आ रही है। वोट के लिए जातिवाद में अपराधियों को ही नायक क्यों बनाया जाता है?

‘बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता’: तमिलनाडु के मंत्री KN नेहरू, DMK ने प्रशांत किशोर को बनाया था रणनीतिकार

तमिलनाडु के मंत्री व सत्ताधारी पार्टी DMK नेता KN नेहरू ने सरकारी नौकरियों को लेकर कहा कि बिहारियों के पास हमारी तरह ज्यादा दिमाग नहीं होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,617FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe