Monday, June 24, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकमीडिया फ़ैक्ट चेक'माँ-बाप की मर्जी से शादी, वरना वेश्यावृत्ति' : पढ़ें News 24 ने कैसे किया...

‘माँ-बाप की मर्जी से शादी, वरना वेश्यावृत्ति’ : पढ़ें News 24 ने कैसे किया बिहार DGP के बयान के साथ खिलवाड़, अब लग रही लताड़

न्यूज 24 के बयान से अलग यदि डीजीपी के बयान की पूरी वीडियो देखें तो पता चलता है कि डीजीपी ने अपने बयान में अनुभव की बात बताई है जो समाज में घटित हो रही घटनाओं के आधार पर है।

किसी के बयानों को तोड़-मरोड़कर पेश करना हमेशा से मीडिया की आदत रही है। इसी आदत के चलते इस बार न्यूज-24 को सोशल मीडिया पर लताड़ लग रही है। दरअसल, मीडिया चैनल ने 30 दिसंबर 2021 को बिहार पुलिस डीजीपी एस के सिंघल की एक वीडियो पोस्ट की और ऐसे दर्शाया मानो उनका कहना हो कि जो लड़कियाँ माँ-बाप को छोड़कर घर से भागती हैं उन्हें आखिर में वेश्यवृत्ति में जाना पड़ता है। 

नीचे ट्वीट के स्क्रीनशॉट में देख सकते हैं कि कैसे न्यूज 24 ने डीजीपी की वीडियो का एक क्लिप शेयर करके डीजीपी के नाम पर कहा है, “माँ-बाप की मर्जी से करें शादी, वरना वेश्यावृत्ति में जाना पड़ सकता है।- बिहार पुलिस के डीजीपी एस के सिघल की लड़कियों को नसीहत।”

जबकि, यदि पूरी वीडियो देखें तो पता चलता है कि डीजीपी ने अपने बयान में उस अनुभव की बात बताई है जो समाज में घटित हो रही घटनाओं के आधार पर है।

इस वीडियो में उन्होंने कहा, “एक और समस्या जो आ रही है। वो ये है कि कई सारी लड़कियाँ हमारी बेटियाँ बिना माँ-पिता की मर्जियों के चली जाती हैं। इसके इतने दुखद परिणाम निकलते हैं। कइयों की तो हत्या हो जाती है लड़का हो या लड़की हो। कई सारी जो हमारी बेटियाँ हैं वो वेश्यावृत्ति तक में पहुँच जाती हैं। उनका कोई ठिकाना नहीं रहता कि वो जिंदगी में क्या कर पाएँगी क्या नहीं कर पाएँगी। वो कुछ सही प्रकार से नहीं होता। उसका बहुत ज्यादा दुख परिवार के सदस्यों और माता-पिता को उठाना पड़ता है। मैं अनुरोध करूँगा कि बेटा-बेटी से लगातार बात करें उन्हें अच्छे से अच्छे संस्कार दें, उनकी भावनाओं को अच्छे से समझें और अपने परिवार को बहुत मजबूती के साथ जोड़ें।”

अब इस बयान को अगर पंक्ति दर पंक्ति पढ़ें तो पता चलेगा कि इस बयान में कुछ भी गलत नहीं है और कहीं से कहीं तक वो संदेश नहीं जा रहा जो न्यूज 24 ने रिपोर्ट किया। इसकी अंतिम लाइन में तो स्पष्ट तौर पर है कि डीजीपी ने लड़कियों को नसीहत नहीं दी बल्कि माँ-बाप से अनुरोध किया है कि वो अपने बच्चे को समझें ताकि उनके बच्चे परिवार से जुड़े रहें और सारी बातें परिवार से साझा कर  सकें। रही बात तो ‘वेश्यावृत्ति’ शब्द के इस्तेमाल की तो डीजीपी सिंघल के बयान से साफ है कि ये विचार उन्हीं घटनाओं से उपजे हैं जब समाज में ऐसा हुआ। इसलिए ऐसा कहना है कि डीजीपी सलाह दे रहे थे कि अगर कोई लड़की माँ-बाप की पसंद से शादी न करे तो वेश्यावृत्ति में चली जाती है, सरासर गलत है और यही वजह कि तोड़-मरोड़ कर रिपोर्ट करने के लिए न्यूज 24 को आलोचना सहनी पड़ रही है।

राष्ट्रीय सुरक्षा मामलों के एनालिस्ट दिव्य कुमार सोती ने इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, “डीजीपी ने ऐसा कुछ भी नहीं कहा है। वो अनुभव के आधार पर सिर्फ बता रहे हैं कि घर पर बिना बताए गायब होने में कुछ जोखिम हैं। सलाह वो पेरेंटस् को दे रहे हैं कि बच्चों से दोस्तों जैसा व्यवहार करें। ये सबको पता है कि बिहार एक सक्रिय मानव तस्करी रूट पर स्थित है। आप समाज में चरस बोना बंद करें।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तू क्यों नहीं करता पत्रकारिता?’: नाना पाटेकर ने की ऐसी खिंचाई कि आह-ओह करने लगे राजदीप सरदेसाई, अभिनेता ने पूछा – तुझे सिर्फ बुरा...

राजदीप सरदेसाई ने कहा कि 'The Lallantop' ने वाकई में पत्रकारिता के नियम को निभाया है, जिस पर नाना पाटेकर पूछ बैठे कि तू क्यों नहीं इसको फॉलो करता है?

13 लोग ऐसे भी जो घर में सोने आए, लेकिन फिर कभी जगे नहीं: तमिलनाडु में जहरीली शराब से अब तक 56 मौतें, चुप्पी...

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को तमिलनाडु में जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में एक पत्र लिखा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -