Thursday, September 23, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकमीडिया फ़ैक्ट चेकबागपत: मीडिया ने फैलाई मासूम से रेप के बाद हत्या की बात, पोस्टमॉर्टम में...

बागपत: मीडिया ने फैलाई मासूम से रेप के बाद हत्या की बात, पोस्टमॉर्टम में सामने आई अलग ही कहानी

बागपत जिले में शनिवार देर रात एक सात साल की बच्ची का शव गन्ने के खेत से बरामद हुआ है। मीडिया रिपोर्ट में कहा गया था कि परिजनों ने पड़ोसियों पर दुष्कर्म के बाद हत्या करने का आरोप लगाया।

उत्तर प्रदेश स्थित बागपत जिले के सिंघावली थाना क्षेत्र के एक गाँव के खेत में सात वर्षीय मासूम बच्ची की हत्या कर दी गई। मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया गया कि इस घटना का किसी को पता न चले, इसलिए बच्ची के शव को खेत में ही छिपा दिया गया। खबरों के अनुसार, ग्रामीणों ने आशंका जताई थी कि दुष्‍कर्म के बाद हत्‍या की गई है। लेकिन सूचना के बाद पहुँची पुलिस ने शव का रात में ही पोस्‍टमार्टम कराया। अगली सुबह जब रिपोर्ट आई तो इसमें पुष्टि हुई कि बच्ची के साथ दुष्कर्म नहीं किया गया था।

इस घटना पर बागपत के पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने 20 फरवरी 2021 को जानकारी देते हुए कहा, “जनपद बागपत के थाना सिंघावली अहीर क्षेत्रान्तर्गत कल रात एक सात वर्षीय बच्ची का शव बरामद हुआ था। उनके परिवार वालों के तहरीर पर नामजद, 302, 301 का मुकदमा दर्ज किया गया। नामजद अभियुक्त मनोज को गिरफ्तार करके उससे पूछताछ की जा रही है। प्रकरण की संवेदनशीलता को देखते हुए रात में ही बच्ची की डेड बॉडी का पोस्टमॉर्टम करवाया गया था। पोस्टमॉर्टम में मौत का कारण एन्टी मॉर्टम इन्जरी की वजह से हुआ शॉक एंड हैमरेज है। एन्टी मॉर्टम इन्जरी जानवर के काटने की वजह से बताई जा रही है। इसमें बच्ची के साथ किसी भी प्रकार का दुष्कर्म या लैंगिक अपराध नहीं हुआ है। मेरा ये निवेदन है कि किसी प्रकार का कोई अफवाह न फैलाएँ और यदि कोई इस प्रकार का अफवाह फैलाता है तो हम इसका खंडन करते हैं।”

इसके साथ ही, बागपत पुलिस ने इस संबंध में एक बयान भी जारी किया है। इसमें कहा गया है, “उक्त घटना थाना क्षेत्र सिंघावली अहीर के बिल्लौचपुरा गाँव से संबंधित है, जहाँ पर महावीर द्वारा अपनी 7 वर्षीय पोती की हत्या करने का आरोप पड़ोसी मनोज एवं उसकी पत्नी के विरुद्ध लगाया गया है। इनका पूर्व में भी आपस में झगड़ा हुआ था। तत्काल सुसंगत धाराओं 302, 301 आईपीसी में अभियोग पंजीकृत कर आरोपित मनोज को हिरासत में लिया गया है। शव का पोस्टमॉर्टम डॉक्टरों के पैनल से कराया गया है। जिसमें दुष्कर्म अथवा लैंगिक हमले की पुष्टि नहीं हुई है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में एन्टी मॉर्टम इन्जरी जंगली जानवर की पाई गई है। आवश्यक वैधानिक कार्रवाई की जा रही है।”

बता दें कि बागपत जिले में शनिवार देर रात एक सात साल की बच्ची का शव गन्ने के खेत से बरामद हुआ है। मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया कि उसके शरीर पर चोट के निशान मिले और शव गन्ने की पत्तियों को छिपाकर रखा गया था। बच्ची शनिवार की शाम से लापता थी। मीडिया रिपोर्ट में कहा गया था कि परिजनों ने पड़ोसियों पर दुष्कर्म के बाद हत्या करने का आरोप लगाया। हालाँकि बागपत के एसपी ने इस आरोपों का खंडन किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,821FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe