Tuesday, September 21, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकराजनीति फ़ैक्ट चेकथरूर और पवार ने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की 'मौत की खबर' फैलाई,...

थरूर और पवार ने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की ‘मौत की खबर’ फैलाई, बाद में डिलीट किए ट्वीट्स

कॉन्ग्रेस नेता शशि थरूर, NCP सुप्रीमो शरद पवार और उनकी बेटी सुप्रिया सुले ने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को श्रद्धांजलि दे दी... पुराने दिनों को याद भी कर लिया। जबकि सच्चाई यह है कि...

कॉन्ग्रेस नेता शशि थरूर ने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को श्रद्धांजलि दे दी! शशि थरूर ने ट्विटर पर लिखा, “पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन के गुजर जाने से मैं बेहद दुःखी हूँ। मैं उनके साथ अपनी कई सकारात्मक बातचीत को याद करता हूँ। एक बार उन्होंने और दिवंगत केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मुझे BRICS की बैठक के लिए मॉस्को जाने वाली संसदीय समिति का नेतृत्व करने को कहा था।”

‘न्यूज़ 18’ ने चलाई सुमित्रा महाजन के ‘निधन’ की खबर

दरअसल, ‘न्यूज़ 18’ ने मध्य प्रदेश के इंदौर से लगातार 30 वर्षों तक सांसद रहीं सुमित्रा महाजन के निधन की खबर चलाई थी। चैनल ने गुरुवार (अप्रैल 22, 2021) को रात 11:19 बजे ये खबर चलाई, जिसे बाद में डिलीट कर लिया गया। अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय मंत्री रहीं सुमित्रा महाजन को NCP सुप्रीमो शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले ने भी ‘भावपूर्ण श्रद्धांजलि’ देते हुए इसे राजनीतिक और सामाजिक क्षति करार दिया।

वहीं महाराष्ट्र के सुपर CM कहे जाने वाले शरद राव पवार ने भी ट्विटर पर लिख डाला कि उन्हें ‘सुमित्रा महाजन के निधन’ का दुःख है और परिजनों को शक्ति मिले, ऐसी वो कामना करते हैं। पत्रकार रुबिका लियाकत ने भी लिखा, “सुमित्रा महाजन नहीं रहीं! ॐ शांति।” इसी तरह सोशल मीडिया पर कई लोगों ने उन्हें श्रद्धांजलि दे दी। हालाँकि, अधिकतर ने बाद में अपने ट्वीट्स डिलीट कर लिए। अब आपको बताते हैं कि सच्चाई क्या है।

मध्य प्रदेश में भाजपा के नेता कैलाश विजयवर्गीय ने बताया है कि ‘ताई’ एकदम स्वस्थ हैं और साथ ही उनकी लंबी उम्र की भी कामना की है। इसके बाद थरूर ने अपने ट्वीट डिलीट करते हुए विजयवर्गीय को धन्यवाद दिया और लिखा, “मुझे समझ नहीं आता कि किस चीज से दुष्प्रेरित होकर लोग इस तरह की बुरी ख़बरें फैलाते हैं। मैं सुमित्रा जी के लंबे जीवन और अच्छे स्वास्थ्य के लिए कामना करता हूँ।”

थरूर ने लिखा कि उन्होंने एक स्रोत को विश्वसनीय समझते हुए उस पर भरोसा किया था, लेकिन अब वो ये जान कर खुश हैं कि सुमित्रा महाजन ज़िंदा हैं। उन्होंने लिखा कि वो अपनी बात को वापस लेते हुए भी खुश हैं। सुमित्रा महाजन के परिजनों ने भी किसी अफवाह पर विश्वास न करने की सलाह देते हुए कहा कि वो एकदम स्वस्थ हैं। उनके छोटे बेटे मंदार महाजन ने वीडियो जारी कर के बताया कि उनकी माँ की कोरोना रिपोर्ट भी नेगेटिव आई है।

वहीं खुद पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने भी इन ख़बरों पर प्रतिक्रिया देते हुए पूछा कि आखिर न्यूज़ चैनल्स बिना इंदौर प्रशासन से पुष्टि किए हुए इस तरह की खबर कैसे चला सकते हैं? उन्होंने बताया कि उनकी भतीजी ने शशि थरूर के दावे का जवाब दिया है, लेकिन साथ ही पूछा कि इस तरह से सार्वजनिक रूप से घोषणा करने की कौन सी हड़बड़ी थी? बता दें कि उन्हें बस हल्का बुखार आया था, जिसके बाद उन्होंने कोविड टेस्ट कराया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमित शाह के मंत्रालय ने कहा- हिंदू धर्म को खतरा काल्पनिक’: कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता को RTI एक्टिविस्ट बता TOI ने किया गुमराह

TOI ने एक खबर चलाई, जिसका शीर्षक था - 'RTI: हिन्दू धर्म को खतरा 'काल्पनिक' है - केंद्रीय गृह मंत्रालय' ने कहा'। जानिए इसकी सच्चाई क्या है।

NDTV से रवीश कुमार का इस्तीफा, जहाँ जा रहे… वहाँ चलेगा फॉर्च्यून कड़ुआ तेल का विज्ञापन

रवीश कुमार NDTV से इस्तीफा दे चुके हैं। सोर्स बता रहे हैं कि देने वाले हैं। मैं मीडिया में हूँ, मुझे सोर्स से भी ज्यादा भीतर तक की खबर है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,490FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe