Sunday, August 1, 2021
Homeफ़ैक्ट चेक'दुनिया की सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी वाले मुल्क की सड़कों पर खून की बाढ़,...

‘दुनिया की सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी वाले मुल्क की सड़कों पर खून की बाढ़, बहुत बड़ा अपशकुन’ : FACT CHECK

इंडोनेशिया में भारी बारिश हुई है और कई इलाकों में अभी भी बाढ़ की स्थिति है। इसी बीच वहाँ सड़कों पर लाल-लाल 'खून' के बहने की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है।

इंडोनेशिया की सड़कों पर कुछ लाल-लाल सा बहता दिख रहा है, जिसकी कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं। जहाँ कई लोगों ने इसे सोशल मीडिया पर अपशकुन के रूप में देखा, वहीं कुछ लोगों ने बाइबिल की बातें करते हुए इसे ‘खून की बाढ़’ बता खतरे की आशंका जताई। दुनिया ख़त्म होने से लेकर खून की बारिश तक, न जाने लोगों ने कैसी-कैसी बातें की। इंडोनेशिया में भारी बारिश हुई है और कई इलाकों में अभी भी बाढ़ की स्थिति है।

आपको बता दें कि ये तस्वीरें वास्तविक हैं। ये घटना जेंग्गोट की है। ये गाँव पेकालोंगन क्षेत्र की है। ये क्षेत्र ‘Batik’ के निर्माण के लिए खासा प्रसिद्ध है, जो एक वैक्स-रेजिस्ट डाईंग है। इसका उपयोग विभिन्न वस्तुओं के रंगरोगन में किया जाता रहा है। व्हाट्सएप्प पर भी वायरल हो रहे एक संदेश में कहा जा रहा है, “दुनिया की सबसे बड़ी मुस्लिम आबादी वाले इंडोनेशिया की सड़कें खून से लाल है। कोई जवाब है इसका?”

इंडोनेशिया में सड़कों पर ‘खून फैलने’ की अफवाह

अब आपको बताते हैं कि इसकी सच्चाई क्या है। इससे पहले ये बताना ज़रूरी है कि कुछ ही महीनों पहले इंडोनेशिया की सड़कों पर हरे रंग का द्रव्य बहता हुआ दिखा था। असल में जो इंडोनेशिया की सड़कों पर बह रहा है, वो ‘बाटिक डाई’ का ही कमाल ही है। वहाँ की कई फैक्ट्रियों में बाढ़ का पानी घुस गया है, जिसमें बाटिक डाई मिक्स हो गया। इससे जिस रंग का डाई था, उसी रंग का पानी भी बन गया और वो पानी फिर सड़कों पर बह निकला।

इंडोनेशिया के बोर्नेओ द्वीप पर अब तक 15 से अभी अधिक लोगों की बाढ़ के कारण मौत हो चुकी है और जनवरी महीने में ही हजारों लोगों को वहाँ से स्थानांतरित किया जा चुका है। इंडोनेशिया में बाढ़ के कारण भूस्खलन भी हो रहा है। 17,000 द्वीपों वाले इस देश के अधिकतर लोग पहाड़ों या फिर नदी के किनारे बने मैदानों में निवास करते हैं। अधिकारियों ने कहा है कि बारिश के और पानी के साथ मिलने के बाद ये लाल रंग गायब हो जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी चीन को भूले, Covid के लिए भारत को ठहराया जिम्मेदार, कहा- विश्व ‘इंडियन कोरोना’ से परेशान

पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि दुनिया कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने की कगार पर थी, लेकिन भारत ने दुनिया को संकट में डाल दिया।

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,277FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe