Wednesday, May 18, 2022
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेकहाथ में बल्ब-सिर पर इस्लामी टोपी, दावा- कोरोना वैक्सीन लगवाने पर बाँह से पैदा...

हाथ में बल्ब-सिर पर इस्लामी टोपी, दावा- कोरोना वैक्सीन लगवाने पर बाँह से पैदा होती है बिजली: जानें वायरल वीडियो की सच्चाई

“कोविड-19 टीकों में धातु या माइक्रोचिप नहीं होता है और ना ही वैक्सीन लेने के बाद मानव शरीर में कोई चुंबकीय प्रभाव या विद्युत धारा उत्पन्न होती है।”

वैश्विक कोरोना महामारी के दौर में तमाम तरह की अफवाहें सामने आईं हैं। कोई वैक्सीन लगवाने पर मौत का दावा कर रहा तो कोई नपुंसक होने का। इन दावों की पोल खुलने के बाद अब एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि कोविड-19 वैक्सीनेशन के बाद टीका लगाए हुए बाँह से बिजली पैदा होती है।

वीडियो में आप देख सकते हैं कि एक शख्स हाथ में बल्ब लिए हुए है और वह कहता है कि हाथ में कहीं भी बल्ब को टच करने से कुछ नहीं हो रहा। लेकिन जिस जगह पर कोरोना की वैक्सीन लगी है, वहाँ टच करने से बल्ब जल उठता है। सोशल मीडिया में यह वीडियो धड़ल्ले से शेयर हो रहा।

क्या है सच?

पीआईबी की फैक्टचेक टीम ने वायरल वीडियो की सच्चाई उजागर की है। पीआईबी का कहना है कि यह दावा फर्जी है कि जिस बाँह में टीका लगाया गया है, वहाँ से बिजली पैदा हो रही है। पीआईबी के मुताबिक, “कोविड-19 टीकों में धातु या माइक्रोचिप नहीं होता है और ना ही वैक्सीन लेने के बाद मानव शरीर में कोई चुंबकीय प्रभाव या विद्युत धारा उत्पन्न होती है।”

पीआईबी ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि कोरोना वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। ऐसी फर्जी सूचनाओं पर विश्वास न करें, टीकाकरण जरूर करवाएँ। देश के बड़े-बड़े डॉक्टरों और विशेषज्ञों से लेकर सरकार भी यह कह चुकी है कि कोरोना वैक्सीन पूरी तरह असरदार है, इसके कोई गंभीर साइड-इफेक्ट नहीं हैं। 

देश में अगर टीकाकरण की बात करें तो स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, अब तक लोगों को 21 करोड़ से अधिक कोरोना वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है और यह एक बड़ी उपलब्धि है। हर दिन लाखों लोगों को टीका लगाया जा रहा है। चूँकि हाल के कुछ दिनों में संक्रमण के मामले काफी बढ़ गए थे, लेकिन अब एक बार फिर इसमें कमी देखने को मिल रही है। 

हालाँकि विशेषज्ञों ने आगाह किया है कि मामले कम हो रहे हैं, लेकिन कोरोना खत्म नहीं हुआ है। लिहाजा सतर्क और सुरक्षित रहने की जरूरत है। साथ ही संक्रमण से बचाव के लिए मास्क जरूर पहनें। रक्षित शारीरिक दूरी बनाए रखें और हाथों को साबुन-पानी से धोते रहें या सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सबा नकवी ने एटॉमिक रिएक्टर को बता दिया शिवलिंग, विरोध होने पर डिलीट कर माँगी माफ़ी: लोग बोले रहे – FIR करो

सबा नकवी ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में सबसे बड़े शिवलिंग की खोज हुई। व्हाट्सएप्प फॉरवर्ड बता कर किया शेयर।

गुजरात में बुरी तरह फेल हुई AAP की ‘परिवर्तन यात्रा’, पंजाब से बुलाई गाड़ियाँ और लोग: खाली जगह की ओर हाथ हिलाते रहे नेता

AAP नेता और पूर्व पत्रकार इसुदान गढ़वी रैली में हाथ दिखाकर थक चुके थे लेकिन सामने कोई उनकी बात का जवाब नहीं दे रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,677FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe