Sunday, July 5, 2020
Home हास्य-व्यंग्य-कटाक्ष 120 सीटें... सूमो बाबू ही करा सकते हैं: भोलानाथ ठाकुर (टेलीग्राफ वाले) ने देर...

120 सीटें… सूमो बाबू ही करा सकते हैं: भोलानाथ ठाकुर (टेलीग्राफ वाले) ने देर रात CM की बढ़ाई टेंशन

120 सीटों से कम कुछ भी मान लेना खतरनाक हो सकता है। सूमो बाबू ही हैं, जो यह करा सकते हैं। भले उसके लिए उन्हें कुछ अपनी पार्टी में तोड़-मरोड़ करनी पड़े। उन्होंने सूमो बाबू को मिलने के लिए संदेशा भेजा और काम में जुट गए।

ये भी पढ़ें

pakodewallahhttp://ajaxngp.blogspot.com/
Pakodewallah is a conservative, capitalist and global warming denier. Engaged in Sales Management and Training for living. Tweets @pakodewallah

सेक्रेटरी: CM साहब, ठाकुर आया है।

इतनी रात गए, CM सोच मे पड़ गए? पहले सोचा कल बुला लेते हैं। नजर उठा के सेक्रेटरी को प्रश्नसूचक नजरों से देखा। सेक्रेटरी समझ गया। खुद ही बोल पड़ा- टेलीग्राफ वाला।

ऐसा नहीं था कि CM साहब जानते नहीं थे। पर सेक्रेटरी का मतलब था, “मिल लीजिए।” मुख्यमंत्री अनिच्छा से बोले, “भेजिए।”

ठाकुर भी मानो दरवाजे से लगा ही खड़ा था, झट से अंदर आ गया। CM साहब ने दूर से ही संबोधित किया, “आओ ठाकुर… अब देश का राजधानी छोड़ हमारा राजधानी पसंद आने लगा?” ठाकुर संकोचपूर्वक मुस्कुरा कर एक-एक कदम धीरे-धीरे रखता आगे आया। मुख्यमंत्री जी हँस कर बोले, “अरे आओ बैठो। तुमसे मिलने के लिए तो मै हमेशा बेताब रहता हूँ।”

भोलानाथ ठाकुर CM साहब को सालों से जानता था, पर आज भी वे उसके बारे में क्या सोचते थे, इसकी थाह नहीं पाता था। वह धीरे से सामने वाली कुर्सी पर बैठ गया। मेज पे रखा पानी पिया और चाय का कप हाथ में लेकर, बिना समय नष्ट किए सीधा मुद्दे पे आया, “यह मजदूरों का इशू गरमाया हुआ है। आपके बंधू पार्टी वाले भी पूरा फायदा लेंगे।”  ठाकुर, चाय की चुस्की लेने के लिए रुका, CM साहब, ध्यान देके सुन रहे थे।

“इन सबमें, सबसे ज्यादा हमारी छवि को नुकसान हुआ है।” 

CM की नजर में सवाल था। “राज्य की छवि को…” ठाकुर ने स्पष्ट किया। CM, “क्यों, UP में तो हमसे ज्यादा लोग वापस गए?” ठाकुर, “CM साहब, UP की बात अलग है। वहॉं तो कुछ गलत हो नहीं सकता। वहाँ आपके कर्मठ मित्र कुछ गलत होने नहीं देंगे।”

CM ने आग में तेल डाला, “तो यह कौन सा पराया राज्य है।” ठाकुर, “क्या सर, आप मुझ से ही मजाक कर रहे हैं? आप भी जानते हैं सच्चाई क्या है। सरजी, यह सुशासन बाबू का इमेज बनने में 15 साल लगे। यह एक कोरोना पूरा बॅंटाधार कर देगा।” CM साहब ने ठाकुर को पैनी नजर से देखा, “ठाकुर बात तो तुमने सही कही, पर यह या तो हम जानते हैं या तुम। और अगर हम तुमको ठीक से जानते है तो, यह बतलाने के लिए तो तुम ना आए।”

ठाकुर शर्माया, बोला, “आप तो दिल की बात पकड़ लेते हैं। CM साहब, ये जो अपने डॉक्टर साहब हैं, कमाल का काम करते है टीवी पर…” और अंदाज़ा लेने के लिए रुक गया। CM सुन रहे थे, “पर कभी-कभी बहुत ज्यादा मात्रा हो जा रहा रामधुन का… और देशभक्ति का… लगता है अपनी अपनी पार्टी के हैं भी कि नहीं।”

CM सोच में दिखे। उसने  फिर बोलना शुरू किया, “उनकी बातों का हमको तो कोई फायदा होता हुआ नहीं दिख रहा। इनसे अच्छे तो वही थे।”     

इस बात से CM का गुस्सा उमड़ पड़ा, “अरे धत्त…क्या  बोल रहे हैं? आप तो जानते है हमको। यही सब हमको अच्छा नहीं लगता आप पत्रकार लोगों का। चरवाहों के साथ? एक बार आपही के बात में आकर… और वोह आपकी दिल्ली वाली TV स्टार पत्रकार। पूरा टाइम उसी के साथ फोटो, इंटरव्यू…और हमारा सामने तरफदारी। जब बाद में जेल हुआ तब? सब गायब?”     

और CM रुक गए। ठाकुर को कुछ पल के लिए लगा, कहीं भगा न दे। ऐसा कुछ नहीं हुआ। पर वह उठ के खड़े हो गए, बोले “और बताओ कब तक हो?” ठाकुर समझ गया। बोला “चलते-चलते एक बात कहने की इजाजत दीजिए। छोड़िए उनको। मैडम के साथ जाने में क्या खराबी है?” बिना जवाब दिए CM उठ के चल दिए। ठाकुर भी उनके पीछे-पीछे चल पड़ा। 

CM काफी देर ठाकुर की बात पर सोचते रहे। नेशनल लीडर बनने का उनका ख्वाब, हिन्दू पॉलिटिक्स के चक्कर मे एक बार चकनाचूर हो चुका था। अब क्या यह ब्राह्मण-बनिया पार्टी मेरी इस कुर्सी की भी क़ुर्बानी लेगी? कैसे इतना सबकुछ बदल सकता है सिर्फ दो लोगों से? हजारों नेताओ की, लाखों कार्यकर्ताओं की और करोड़ों सदस्यों की पार्टी सिर्फ 2 लोगों ने बदल दी? 

उनको 20 साल पुराना समय याद आया। कैसा सौहार्द्रपूर्ण वातावरण था दोनों पार्टियों में। फिर 2002 भी याद आया। तभी अगर कविवर, गुजरात मे किसी और को CM बना देते, तो आज NDA अपनी गिरफ्त में होता। और शायद आज प्रधानमंत्री भी…

पर 2014 तक तो सब ठीक ही था। ये दोनों जब से दिल्ली पहुँचे हैं सब बदल गया। अब तो डर लगता है हिन्दू शब्द से और इस पार्टी से। लगता है खा जाएँगे किसी दिन। ठाकुर बात तो सही कर रहा था। PK की  बात से मेल खाती!!!

PK की याद से CM के हृदय में आश्वासन का भाव जागा।  

सुबह इस खबर से हुई कि डिजिटल रैली को लोगों ने जबरदस्त सराहा है। CM को यह भी ठीक नहीं लगा था। अभी सीट शेयरिंग भी नहीं हुई और ये निकल भी पड़े, TV से लोगों को लुभाने। Seat Sharing से उनको तीसरे हिस्सेदार को भी समायोजित करना हैं, यह बात फिर चुभी। यह कौन कम थे, तो साथ में इनके मामा के लड़के…मौसम वैज्ञानिक बाप-बेटा। (राष्ट्रप्रेमी पार्टी के एक प्रेमी पत्रकार ने TV पर CM को भी मौसम वैज्ञानिक बुलाया था यह बात अलग है) हमेशा कुछ न कुछ माँगते रहते हैं… पिछड़ा-पिछड़ा बोल के मलाई खींचने के काम करते हैं दोनों। 

इन सब चिंताओं के साथ में कोरोना (corona) का डर था ही। पर CM को migrant labour वाली बात खाए जा रही थी। अगर ये नवंबर तक वापस नहीं गए तो? कितनी सीट पर असर होगा? CM जानते थे, मोटा भाई उनको 100 से ज्यादा सीटे देना नहीं चाहते। इस माइग्रेंट लेबर इश्यू के चलते CM को मोलभाव करनते की ताकत क्षीण होती दिख रही थी।

PK और ठाकुर जैसे अवसरवादियों की बातों पे गौर करना तो ठीक है, पर इस परिस्थिति में क्या इन पर भरोसा कर सकते हैं? CM इसका जवाब जानते थे। ऐसे में उनको लगा, उनके सबसे पुराने साथी, भले ही वो उस तरफ हो, पर उन पर ही भरोसा करना ठीक रहेगा।

CM को पूरा भरोसा था सूमो बाबू पर! पर उनकी दिल्ली में आज की परिस्थिति में कितनी सुनी जाती है? खैर, और कोई चारा नजर नहीं आ रहा था। चारा- यह शब्द कितने पुराने समीकरण याद दिला देता था।

शाम होते-होते CM के मन में योजना तैयार हो गई थी। 120 सीटों से कम कुछ भी मान लेना खतरनाक हो सकता है। सूमो बाबू ही हैं, जो यह करा सकते हैं। भले उसके लिए उन्हें कुछ अपनी पार्टी में तोड़-मरोड़ करनी पड़े।  उन्होंने सूमो बाबू को मिलने के लिए संदेशा भेजा और काम में जुट गए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

pakodewallahhttp://ajaxngp.blogspot.com/
Pakodewallah is a conservative, capitalist and global warming denier. Engaged in Sales Management and Training for living. Tweets @pakodewallah

ख़ास ख़बरें

जाकिर नाइक की तारीफ वाला महेश भट्ट का वीडियो वायरल, भगोड़े इस्लामी प्रचारक को बताया था- गौरव, बेशकीमती खजाना

फ़िल्म सड़क-2 की रिलीज डेट आने के बाद सोशल मीडिया में फिल्म डायरेक्टर महेश भट्ट का एक वीडियो वायरल हो रहा है।

हॉस्पिटल से ₹4.21 लाख का बिल, इंश्योरेंस कंपनी ने चुकाए सिर्फ ₹1.2 लाख: मनोज इलाज की जगह ‘कैद’

मनोज कोठारी पर यह परेशानी अकेले नहीं आई। उनके परिवार के 2 और लोग कोरोना संक्रमित हैं। दोनों का इलाज भी इसी हॉस्पिटल में। उनके बिल को लेकर...

CARA को बनाया ईसाई मिशनरियों का अड्डा, विदेश भेजे बच्चे: दीपक कुमार को स्मृति ईरानी ने दिखाया बाहर का रास्ता

CARA सीईओ रहते दीपक कुमार ने बच्चों के एडॉप्शन प्रक्रिया में धाँधली की। ईसाई मिशनरियों से साँठगाँठ कर अपने लोगों की नियुक्तियाँ की।

नक्सलियों की तरह DSP का काटा सर-पाँव, सभी 8 लाशों को चौराहे पर जलाने का था प्लान: विकास दुबे की दरिंदगी

विकास दुबे और उसके साथी बदमाशों ने माओवादियों की तरह पुलिस पर हमला किया था। लगभग 60 लोग थे। जिस तरह से उन लोगों ने...

बकरीद के पहले बकरे से प्यार वाले पोस्टर पर बवाल: मौलवियों की आपत्ति, लखनऊ में हटाना पड़ा पोस्टर

"मैं जीव हूँ मांस नहीं, मेरे प्रति नज़रिया बदलें, वीगन बनें" - इस्लामी कट्टरपंथियों को अब पोस्टर से भी दिक्कत। जबकि इसमें कहीं भी बकरीद या...

उनकी ही संतानें थी कौरव और पांडव: जानिए कौन हैं कृष्ण द्वैपायन, जिनका जन्मदिन बन गया ‘गुरु पूर्णिमा’

वो कौरवों और पांडवों के पितामह थे। महाभारत में उनकी ही संतानों ने युद्ध किया। वो भीष्म के भाई थे। कृष्ण द्वैपायन ने ही वेदों का विभाजन किया। जानिए कौन थे वो?

प्रचलित ख़बरें

जातिवाद के लिए मनुस्मृति को दोष देना, हिरोशिमा बमबारी के लिए आइंस्टाइन को जिम्मेदार बताने जैसा

महर्षि मनु हर रचनाकार की तरह अपनी मनुस्मृति के माध्यम से जीवित हैं, किंतु दुर्भाग्य से रामायण-महाभारत-पुराण आदि की तरह मनुस्मृति भी बेशुमार प्रक्षेपों का शिकार हुई है।

गणित शिक्षक रियाज नायकू की मौत से हुआ भयावह नुकसान, अनुराग कश्यप भूले गणित

यूनेस्को ने अनुराग कश्यप की गणित को विश्व की बेस्ट गणित घोषित कर दिया है और कहा है कि फासिज़्म और पैट्रीआर्की के समूल विनाश से पहले ही इसे विश्व धरोहर में सूचीबद्द किया जाएगा।

‘…कभी नहीं मानेंगे कि हिन्दू खराब हैं’ – जब मानेकशॉ के कदमों में 5 Pak फौजियों के अब्बू ने रख दी थी अपनी पगड़ी

"साहब, आपने हम सबको बचा लिया। हम ये कभी नहीं मान सकते कि हिन्दू ख़राब होते हैं।" - सैम मानेकशॉ की पाकिस्तान यात्रा से जुड़ा एक किस्सा।

काफिरों को देश से निकालेंगे, हिन्दुओं की लड़कियों को उठा कर ले जाएँगे: दिल्ली दंगों की चार्ज शीट में चश्मदीद

भीड़ में शामिल सभी सभी दंगाई हिंदुओं के खिलाफ नारे लगा रहे और कह रहे थे कि इन काफिरों को देश से निकाल देंगे, मारेंगे और हिंदुओं की लड़कियों को.......

इजरायल ने बर्बाद किया ईरानी परमाणु ठिकाना: घातक F-35 विमानों ने मिसाइल अड्डे पर ग‍िराए बम

इजरायल ने जोरदार साइबर हमला करके ईरान के परमाणु ठिकानों में दो विस्‍फोट करा दिए। इनमें से एक यूरेनियम संवर्धन केंद्र है और दूसरा मिसाइल निर्माण केंद्र।

नेपाल के कोने-कोने में होऊ यांगी की घुसपैठ, सेक्स टेप की चर्चा के बीच आज जा सकती है PM ओली की कुर्सी

हनीट्रैप में नेपाल के पीएम ओली के फँसे होने की अफवाहों के बीच उनकी कुर्सी बचाने के लिए चीन और पाकिस्तान सक्रिय हैं। हालॉंकि कुर्सी बचने के आसार कम बताए जा रहे हैं।

जाकिर नाइक की तारीफ वाला महेश भट्ट का वीडियो वायरल, भगोड़े इस्लामी प्रचारक को बताया था- गौरव, बेशकीमती खजाना

फ़िल्म सड़क-2 की रिलीज डेट आने के बाद सोशल मीडिया में फिल्म डायरेक्टर महेश भट्ट का एक वीडियो वायरल हो रहा है।

हॉस्पिटल से ₹4.21 लाख का बिल, इंश्योरेंस कंपनी ने चुकाए सिर्फ ₹1.2 लाख: मनोज इलाज की जगह ‘कैद’

मनोज कोठारी पर यह परेशानी अकेले नहीं आई। उनके परिवार के 2 और लोग कोरोना संक्रमित हैं। दोनों का इलाज भी इसी हॉस्पिटल में। उनके बिल को लेकर...

उत्तराखंड: रात में 15 साल की बच्ची को घर से उठाया, जुनैद और सुहैब ने किया दुष्कर्म

रेप की यह घटना उत्तराखंड के लक्सर की है। आरोपित एक दारोगा के सगे भाई बताए जा रहे हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

उस रात विकास दुबे के घर दबिश देने गई पुलिस के साथ क्या-क्या हुआ: घायल SO ने सब कुछ बताया

बताया जा रहा है कि विकास दुबे भेष बदलने में माहिर है और अपने पास मोबाइल फोन नहीं रखता। राजस्थान के एक नेता के साथ उसके बेहद अच्छे संबंध की भी बात कही जा रही है।

अपने रुख पर कायम प्रचंड, जनता भी आक्रोशित: भारत विरोधी एजेंडे से फँसे नेपाल के चीनपरस्त PM ओली

नेपाल के PM ओली ने चीन के इशारे पर नाचते हुए भारत-विरोधी बयान तो दे दिया लेकिन अब उनके साथी नेताओं के कारण उनकी अपनी कुर्सी जाने ही वाली है।

काली नागिन के काटने से जैसे मौत होती है उसी तरह निर्मला सीतारमण के कारण लोग मर रहे: TMC सांसद कल्याण बनर्जी

टीएमसी नेता कल्याण बनर्जी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को लेकर विवादित बयान दिया है। उनकी तुलना 'काली नागिन' से की है।

‘अल्लाह ने अपने बच्चों को तनहा नहीं छोड़ा’: श्रीकृष्ण मंदिर में मालिक ने की तोड़फोड़, ‘हीरो’ बता रहे पाकिस्तानी

पाकिस्तान के स्थानीय मुसलमानों ने इस्लामाबाद में बन रहे श्रीकृष्ण मंदिर में तोड़फोड़ मचाने वाले मलिक को एक 'नायक' के रूप में पेश किया है।

रोती-बिलखती रही अम्मी, आतंकी बेटे ने नहीं किया सरेंडर, सुरक्षा बलों पर करता रहा फायरिंग, मारा गया

कुलगाम में ढेर किए गए आतंकी से उसकी अम्मी सरेंडर करने की गुहार लगाती रही, लेकिन वह तैयार नहीं हुआ।

CARA को बनाया ईसाई मिशनरियों का अड्डा, विदेश भेजे बच्चे: दीपक कुमार को स्मृति ईरानी ने दिखाया बाहर का रास्ता

CARA सीईओ रहते दीपक कुमार ने बच्चों के एडॉप्शन प्रक्रिया में धाँधली की। ईसाई मिशनरियों से साँठगाँठ कर अपने लोगों की नियुक्तियाँ की।

पाकिस्तानी घोटाले से जुड़े हैं हुर्रियत से गिलानी के इस्तीफे के तार, अलगाववादी संगठन में अंदरुनी कलह हुई उजागर

सैयद अली शाह गिलानी के इस्तीफ को पाकिस्तान के मेडिकल कॉलेज में एडमिशन को लेकर गड़बड़ियों से जोड़कर देखा जा रहा है।

हमसे जुड़ें

234,622FansLike
63,120FollowersFollow
269,000SubscribersSubscribe