Thursday, September 29, 2022
Homeविविध विषयधर्म और संस्कृति'सनातन की रक्षा के लिए योगी का सत्ता में लौटना ज़रूरी': रविंद्र पुरी बने...

‘सनातन की रक्षा के लिए योगी का सत्ता में लौटना ज़रूरी’: रविंद्र पुरी बने अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष, नरेंद्र गिरी की मौत के बाद खाली था पद

"कॉन्ग्रेस मुक्त भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने के हम साथ हैं। सनातन की रक्षा तभी होगी, जब BJP सरकार आएगी। उत्तराखंड में भी भाजपा को फिर से लाना है। जो राम को मानता है, हम उसके ही साथ हैं। कुंभ जैसे पहले होता आया है, वैसे ही होगा।"

रविंद्र पुरी को ‘अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद’ का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया है। महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत के बाद ये पद खाली हुआ था। रविंद्र पुरी ने ऐलान किया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दोबारा सत्ता में लाना साधु-संतों का फ़िलहाल सबसे बड़ा लक्ष्य है। प्रयागराज के दारागंज में श्री पंचायती निरंजनी अखाड़े के सचिव रवींद्र पुरी महाराज को सोमवार (25 अक्टूबर, 2021) को अखाड़ा परिषद का मुखिया चुना गया।

रविंद्र पुरी ने अध्यक्ष बनने के बाद ऐलान किया कि साधु-संतों का समर्थन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ है। उन्होंने कहा, “योगी ही ऐसे हैं, जो साधु-संतों के मापदंडों पर खरे उतरते हैं, क्योंकि वह एक संत हैं। इसलिए, हम लोग हमेशा योगी आदित्यनाथ का समर्थन करते रहेंगे और लोगों से अपील करेंगे कि वह भी योगी आदित्यनाथ का समर्थन करें।” 13 में से 8 अखाड़ों के समर्थन से रविंद्र पुरी अध्यक्ष बने हैं।

अखाड़े के महामंत्री हरि गिरी ने बताया कि जहाँ 7 अखाड़ों ने बैठक में अपने प्रतिनिधि भेजे थे, निर्मोही अखाड़ा के मदन मोहन दास ने पत्र भेज कर बैठक को समर्थन दिया। रविंद्र पुरी ने कहा कि अखाड़ा के नियम व परंपरा अनुसार ही ये चुनाव हुआ है। हरि गिरी ने कहा कि नियमानुसार महेंद्र गिरी का कार्यकाल बचा होने तक निरंजनी अखाड़े से ही किसी को ये पद दिया जाता है। उन्होंने कहा कि जो नाराज़ हैं, उन्हें मना लिया जाएगा।

हरिद्वार में 24 अक्टूबर को एक अन्य गुट द्वारा बुलाई गई बैठक पर उन्होंने कहा कि इसका कोई औचित्य नहीं है। साधु-संतों ने कहा कि योगी आदित्यनाथ ही हैं जो राम मंदिर बनवा सकते हैं, वरना किसी और के सत्ता में आने से ये काम रुक जाएगा। सभी ने एकमत से कहा कि सीएम योगी सर्वजन सुखाय-सर्वजन हिताय की बात करते हुए सब को साथ लेकर चलते हैं। रविंद्र पुरी ने कहा कि देश-प्रदेश की समस्याओं के समाधान के लिए मोदी और योगी सरकार अच्छा कार्य कर रही है।

‘अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद’ के नए अध्यक्ष ने कहा, “कॉन्ग्रेस मुक्त भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने के हम साथ हैं। सनातन की रक्षा तभी होगी, जब BJP सरकार आएगी। उत्तराखंड में भी भाजपा को फिर से लाना है। जो राम को मानता है, हम उसके ही साथ हैं। कुंभ जैसे पहले होता आया है, वैसे ही होगा।” बैठक में बद्रीनाथ का नाम बदलने की साजिश का आरोप लगाते हुए देवबंद के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया गया। साथ ही ये माँग भी उठी कि कई साधु-संतों के लापता होने और उनकी हत्याओं पर CBI जाँच कराई जाए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कैसा है वह ‘साहेब कोना’ जहाँ पहली बार हिंदू बने ईसाई: 1906 में जहाँ से भागे थे पादरी, 2022 में हमें भागना पड़ा

छत्तीसगढ़ के खड़कोना में 1906 में पहली बार हिंदुओं का धर्मांतरण हुआ। उसके बाद जो सिलसिला शुरू हुआ, उसने जशपुर को ईसाई धर्मांतरण के बड़े केंद्र में बदल दिया।

‘गौमूत्र पियो, गोबर खाओ हरा@*$’: बर्मिंघम में ‘अल्लाह-हू-अकबर’ बोल हिंदू मंदिर पर टूटी कट्टरपंथियों की भीड़, PM मोदी को दी माँ की गाली; Videos...

ब्रिटेन के बर्मिंघम में हिंदू मंदिर पर इस्लामी भीड़ ने हमला किया। वहाँ हिंदुओं को तो गंदी गालियाँ दी ही गईं। साथ में पीएम मोदी की माँ को भी गाली बकते कट्टरपंथी सुनाई पड़े।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,129FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe