Monday, June 17, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'फ्लाइट में बैठने से सुशांत को लगता था डर' - रिया चक्रवर्ती के 'राजदीप...

‘फ्लाइट में बैठने से सुशांत को लगता था डर’ – रिया चक्रवर्ती के ‘राजदीप इंटरव्यू’ की अंकिता लोखंडे ने खोली पोल

"सुशांत को फ्लाइट में बैठने से डर लगता था। वह उसके लिए दवाई भी लेते थे।" - राजदीप सरदेसाई को 'सुपर एक्सप्लोसिव इंटरव्यू' देते हुए रिया चक्रवर्ती ने यह बात बोल तो दिया लेकिन सुशांत की 6 साल तक गर्लफ्रेंड रहीं अंकिता ने एक ऐसा वीडियो शेयर किया, जिससे...

आजतक पर राजदीप सरदेसाई को ‘सुपर एक्सप्लोसिव इंटरव्यू’ देते हुए रिया चक्रवर्ती ने अपने ऊपर लग रहे कई आरोपों पर जम कर सफाई दी। उन्होंने राजदीप से अपने व सुशांत के यूरोप ट्रिप पर बातें की। 

इस बीच उन्होंने एक जगह ये बोल दिया कि सुशांत को फ्लाइट में बैठने से डर लगता था। वह उसके लिए दवाई भी लेते थे। अब उनके इसी बयान ने तूल पकड़ लिया है। सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता ने एक वीडियो पोस्ट करके रिया पर पलटवार किया है

अंकिता ने सुशांत की उस वीडियो को ट्वीट किया, जिसमें वह खुद ही प्लेन उड़ा (हालाँकि यह शायद flight simulator हो) रहे थे। उन्होंने लिखा, “क्या यह Claustrophobia है? (सुशांत) तुम हमेशा उड़ना चाहते थे और तुम उड़े भी। हम सभी को तुम पर गर्व है।”

बता दें कि अंकिता लोखंडे सुशांत को लंबे समय से जानती थीं। वह उनके साथ पवित्र रिश्ता में काम करने के दौरान रिलेशन में आईं। बाद में दोनों के बीच 6 साल तक रिश्ता रहा। इसके बाद साल 2016 में दोनों के अलग होने की खबरें मीडिया में आईं। मगर, दोनों ने कभी भी एक दूसरे के लिए कुछ नहीं बोला।

सुशांत के जाने के बाद से ही अंकिता उनके परिवार के साथ खड़ी नजर आ रही हैं। अंकिता ने ही सुशांत की मौत के पीछे सबसे पहले डिप्रेशन के कारण को नकारा था। उन्होंने सुशांत के भीतर की जिजीविषा को उदाहरण दे देकर सबके सामने रखा था। उन्होंने ही मीडिया को बताया था कि सुशांत जैसा इंसान जिसके सपने इतने ऊँचे हों, वह डिप्रेशन में कैसे हो सकता है।

बता दें कि अंकिता लोखंडे के दावे के अलावा सुशांत के इंटरव्यू भी इस बात साक्ष्य हैं कि सुशांत को ऊँचाइयों से या प्लेन से कभी डर नहीं लगता था। वह अक्सर ये बातें कहते थे कि उनके जीवन का लक्ष्य प्लेन उड़ाने के लिए लाइसेंस पाना था। इसके अलावा वह अंतरिक्ष और चांद पर जाने की इच्छा भी कई बार जाहिर कर चुके थे।

इसके अलावा उन्हें नासा जाने का मौका भी मिला था। उस समय सुशांत ने कहा था “मैंने 2 साल पहले नासा के साथ एक वर्कशॉप की थी, जिन्होंने मुझे ट्रेनिंग दी थी। मुझे वहाँ पर इंस्ट्रक्टर का सर्टिफिकेट भी मिला था। मैं सोच रहा हूँ कि अब मैं अपनी ट्रेनिंग पूरी करने हॉस्टन चला जाऊँ। वह पर स्पेस से जुड़ी काफी बातें बताते हैं।”

सुशांत ने उस दौरान यह भी बताया कि उन्होंने चाँद पर एक प्लॉट खरीदा है और नासा 2024 में कुछ एस्ट्रोनॉट्स को चाँद पर भेजेगा। उन्होंने यह भी कहा था, “मैं भी चाँद पर जाना चाहता हूँ। मैं उसके लिए पूरी तैयारी करूँगा, बाकी मेरी किस्मत पर डिपेंड करता है कि मैं जा पाता हूँ या नहीं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -