Friday, December 2, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनJNU में वामपंथी छात्रों का समर्थन करने पहुँचीं दीपिका पादुकोण, मुंबई का फ़िल्मी गैंग...

JNU में वामपंथी छात्रों का समर्थन करने पहुँचीं दीपिका पादुकोण, मुंबई का फ़िल्मी गैंग भी सड़क पर

पीएम मोदी के अंधविरोध में बॉलीवुड के लोगों ने जेएनयू के असली गुनहगारों के ख़िलाफ़ एक शब्द भी नहीं बोला। अब देखना यह है कि जेएनयू विरोध प्रदर्शन के नाम पर वामपंथी अजेंडे को आगे बढ़ाने में लगे फ़िल्मी गैंग की अगली प्रतिक्रिया क्या रहती है।

फ़िल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने भी जेएनयू हिंसा को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। मुंबई में दीया मिर्ज़ा, अनुराग कश्यप और विशाल भारद्वाज सहित कई फ़िल्मी हस्तियों ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। बावजूद इसके कि जेएनयू प्रशासन ने जेएनयू छात्र संगठन की अध्यक्ष आइशी घोष सहित 19 छात्रों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है। दीपिका पादुकोण ने कहा कि उन्हें इस बात से गर्व होता है कि आज लोग बिना डरे अपनी आवाज़ रख रहे हैं। दीपिका के विरोध प्रदर्शन में देखे जाने के बाद कई लोगों ने उनकी आलोचना भी की।

फ़िल्मी हस्तियाँ लगातार वामपंथी गुंडों को बचाने में लगी है। फ़िल्म निर्देशक अनुराग कश्यप ने तो भाजपा को ही आतंकवादी संगठन करार दिया। कश्यप ने पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को आतंकवादी बताया था। दीपिका पादुकोण ने अब तक इस मामले में चुप्पी साध रखी थी लेकिन अब जेएनयू विरोध प्रदर्शन में उन्होंने भाग लिया है। दीपिका पादुकोण की ‘छपाक’ रिलीज होने जा रही है, जिसमें उन्होंने एक एसिड अटैक पीड़िता का किरदार निभाया है।

जेएनयू हिंसा मामले में लगातार कई वीडियो वायरल हो रहे हैं। वामपंथी गुंडों के ख़िलाफ़ एक के बाद एक सबूत आ रहे हैं। बावजूद इसके बॉलीवुड का वामपंथी गैंग एबीवीपी पर हिंसा का इल्जाम डाल कर वामपंथी गुंडों को बचाने में प्रयासरत है।

पीएम मोदी के अंधविरोध में बॉलीवुड के लोगों ने जेएनयू के असली गुनहगारों के ख़िलाफ़ एक शब्द भी नहीं बोला। अब देखना यह है कि जेएनयू विरोध प्रदर्शन के नाम पर वामपंथी अजेंडे को आगे बढ़ाने में लगे फ़िल्मी गैंग की अगली प्रतिक्रिया क्या रहती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मंदिर की जमीन पर शव दफनाने की अनुमति नहीं’: मद्रास हाईकोर्ट ने दिया अतिक्रमण हटाने का निर्देश

मद्रास हाईकोर्ट ने कहा कि शवों को दफनाने के लिए मंदिर की जमीनों का उपयोग नहीं किया जा सकता। कोर्ट ने अतिक्रमण हटाने का आदेश दिया है।

हिंदुओं के 40 साल तक अवैध पार्टनर, मुस्लिम फॉर्मूला से 18 साल में लड़की की शादी करो… उपजाऊ जमीन में बीज बोओ: बदरुद्दीन अजमल

"आप उपजाऊ जमीन में बीज बोएँगे तभी खेती अच्छी होगी। 18-20 साल की उम्र में लड़कियों की शादी करा दो और फिर देखो कितने बच्चे पैदा होते हैं।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,564FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe