Tuesday, October 4, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनNCB के 25 अधिकारी, साथ में CISF... बीच समंदर ड्रग पार्टी पर ऐसे पड़ा...

NCB के 25 अधिकारी, साथ में CISF… बीच समंदर ड्रग पार्टी पर ऐसे पड़ा छापा: आर्यन खान ड्रग्स केस में जानें सब कुछ

"उस समय हमें इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी कि ये बच्चे कौन थे। हमने तय किया था कि एनसीबी अधिकारी पार्टी में जाने वालों लोगों के बीच शामिल होंगे, क्योंकि यही ड्रग्स लेने वालों को रंगे हाथों पकड़ने का एकमात्र तरीका था।''

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) को मुंबई की ड्रग्स पार्टी का भंडाफोड़ करने और बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को गिरफ्तार करने में एक सप्ताह का समय लगा है। मिड-डे ने अपनी रिपोर्ट में इसका खुलासा किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि मुंबई तट से दूर कॉर्डेलिया क्रूज में रेव पार्टी का भंडाफोड़ करने के लिए नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने एक प्लान बनाया था।इस हाई-प्रोफाइल छापेमारी के लिए NCB ने अपने 25 अधिकारियों को काम पर लगाया था।

मिड-डे के अनुसार, उनमें से 6 अधिकारी पार्टी के कपड़े पहनकर क्रूज शिप पर चढ़े थे। इस दौरान उन्हें आर्यन काफी घबराए हुए लग रहे थे, जिससे एनसीबी के अधिकारियों का शक और बढ़ गया कि समुद्र के बीच ये आरोपित ड्रग्स लेने की तैयारी कर रहे हैं। एक हफ्ते पहले NCB को सूचना मिली थी कि अमीर परिवारों के कुछ बच्चे क्रूज शिप पर ड्रग्स लेने की योजना बना रहे हैं, जिसे वे मिड-सी पार्टी में ले सकते हैं। जैसे-जैसे अधिकारी इस मामले की तह तक गए उन्हें पता चला कि ड्रग्स लेने की तैयारी कॉर्डेलिया क्रूज़ पर की जा रही है।

एनसीबी के एक अधिकारी ने कहा, “उस समय हमें इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी कि ये बच्चे कौन थे। हमने तय किया था कि एनसीबी अधिकारी पार्टी में जाने वालों लोगों के बीच शामिल होंगे, क्योंकि यही ड्रग्स लेने वालों को रंगे हाथों पकड़ने का एकमात्र तरीका था।”

उन्होंने आगे बताया, ”कई बार नशीले पदार्थों की छापेमारी में अधिकारियों के पहुँचने से पहले ही अपराधियों को अक्सर सतर्क कर दिया जाता है। इससे वह ड्रग्स को ठिकाने लगाने में कामयाब हो जाते हैं और हमें मामले को साबित करने के लिए अदालत में बहुत मुश्किल हो जाती है।”

एनसीबी ने छह अधिकारियों को रेवेलर्स के रूप में क्रूज लाइनर में जाने के लिए तैयार किया था। इसके लिए हर एक अधिकारी ने टिकट के लिए 80,000 रुपए खर्च किए थे। किसी को उन पर शक न हो इसके लिए उन्होंने ऑनलाइन तीन अलग-अलग स्लॉट पर टिकट बुक किए थे। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने समुद्र के बीच में छापेमारी करने के लिए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) से भी मदद माँगी थी।

वीआईपी मेहमानों को फ्री पास देने पर CISF हुआ राजी

योजना के अनुसार, एनसीबी अधिकारी दक्षिण मुंबई में ग्रीन गेट के जरिए क्रूज जहाज पर चढ़े। बैकअप टीम स्थिति पर नजर रखने के लिए किनारे पर इंतजार करती रही। इसके तुरंत बाद, अंडरकवर अधिकारियों ने एंट्री गेट पर मेहमानों की बॉडी लेंग्वेज को नोट करना शुरू कर दिया। एक अधिकारी के अनुसार, एनसीबी ने इन्वाइट किए गए लोगों पर कड़ी नजर रखी।

एनसीबी अधिकारी ने आगे कहा, “हमने एंट्री गेट पर उन लोगों की बॉडी लेंग्वेज को नोट करना शुरू कर दिया था, ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या वे वही हैं, जिनकी हम तलाश कर रहे थे।” उन्होंने बताया कि सीआईएसएफ कर्मचारियों को वीआईपी मेहमानों को फ्री ट्रेवल करने की अनुमति देने के लिए कहा गया था। हालाँकि, सीआईएसएफ ने सभी वीआईपी मेहमानों की अनिवार्य जाँच के बाद ही इस पर सहमति जताई। जैसे ही आर्यन खान और अरबाज मर्चेंट वीआईपी गेस्ट के रूप में अंदर आए उनकी जाँच शुरू कर दी गई।

नर्वस हो गए थे आर्यन खान

एनसीबी अधिकारी ने बताया कि सीआईएसएफ ने उनके आई-कार्ड की जाँच की और अरबाज मर्चेंट के जूते सहित उनके सामान को स्कैन करना शुरू कर दिया। इससे आर्यन खान घबरा गए। उनके इस व्यवहार से एनसीबी के अधिकारियों यह पता लगाने में जरा भी देर नहीं लगी कि जिनकी वे तलाश कर रहे थे, ये वही लोग हैं। एनसीबी अधिकारियों ने जब आर्यन के जूतों और बैग की तलाशी ली तो उसमें ड्रग्स पाया गया। इसके बाद अरबाज और आर्यन को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था।

आर्यन और अरबाज के बताने पर कि उनके साथ 8 और लोग भी इस पार्टी का हिस्सा हैं। एनसीबी ने तुरंत उनकी तलाश शुरू कर दी। ये सभी पहले से ही क्रूज पर चढ़ चुके थे। बाद में इनको भी हिरासत में लिया गया।

अधिकारी ने कहा, ”जब एनसीबी ने क्रूज के अंदर छापेमारी शुरू की तो कुछ लोग जो एंट्री प्वाइंट पर थे, वे वहीं से ही वापस चले गए। उस दौरान जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ग्रीन गेट के पास थे। जैसे ही ड्रग्स बरामद हुआ हमने उन्हें सूचित किया और वह क्रूज में आ गए।”

कॉन्ग्रेस ने सवाल उठाए

वहीं कॉन्ग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की कार्रवाई को लेकर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि आपको ऐसा नहीं लगता कि एनसीबी कुछ ग्राम ड्रग्स के लिए बड़ा नाटक कर रहा है। सावंत ने भारत के नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की विशेष अदालत द्वारा रविवार को आर्यन खान को ड्रग्स मामले में एक दिन की कस्टडी दिए जाने के बाद ये सवाल उठाया था। आर्यन की कस्टडी सोमवार को 7 अक्टूबर 2021 तक बढ़ा दी गई है।

बता दें कि मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में गिरफ्तार बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धामेचा को गुरुवार (7 अक्टूबर 2021) तक नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की हिरासत में भेजा गया है। एनसीबी के वकील ने सोमवार (4 अक्टूबर 2021) को मुंबई की एक अदालत के समक्ष दावा किया कि आर्यन खान और दो अन्य आरोपितों की व्हाट्सएप चैट में चौंकाने वाली और आपत्तिजनक सामग्री मिली है। यह आपत्तिजनक सामग्री अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थों की तस्करी को दर्शाती है। उन्होंने कहा, ”आरोपित आर्यन खान, व्हाट्सएप चैट में ड्रग्स (नशीले पदार्थों) खरीदने के लिए किए जाने वाले भुगतान के तरीकों पर बात कर रहा है। वह कई कोड वर्ड का इस्तेमाल भी कर रहा है। सभी आरोपितों का आमना-सामना कराना होगा। अंतरराष्ट्रीय लेनदेन की जाँच की जरूरत है।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक मिनट में दागेगा 750 गोलियाँ, ऊँचाई वाले स्थानों पर दुश्मन की खैर नहीं: जानें 5800 किलो के स्वदेशी ‘प्रचंड’ के बारे में, जो...

'प्रचंड' चॉपर दुश्मनों के लड़ाकू विमानों को ध्वस्त करने, आतंकवाद विरोधी अभियानों को अंजाम देने, कॉम्बैट सर्च और बचाव कार्यों में सक्षम हैं।

कॉन्ग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने भारत आए चीतों को बताया लंपी वायरस का कारण, नामीबिया को बताया ‘नाइजीरिया’: BJP नेता ने कहा – इनको...

महाराष्ट्र कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा है कि देश में फैले हुए लंपी वायरस के लिए 'नाइजीरिया' से आए चीते जिम्मेदार हैं। हुई जगहँसाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
226,129FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe