Saturday, May 25, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनपैगंबर मुहम्मद, जीसस... शादी के बाहर सेक्स करते थे? - बॉलीवुड एक्टर के ट्वीट...

पैगंबर मुहम्मद, जीसस… शादी के बाहर सेक्स करते थे? – बॉलीवुड एक्टर के ट्वीट पर लोग पूछ रहे – ‘अंग्रेजी नहीं आती क्या’

"ये सभी मनुष्य ही तो थे। ईश्वर की निश्चित रचना थे। वो सभी एकदम आपकी तरह ही थे। वो भोजन करते थे, विवाहेतर सेक्स करते थे, वो शौच करते थे और उन सबकी मृत्यु भी हुई।"

सोशल मीडिया पर अक्सर विवादों में रहने वाले अभिनेता सिद्धार्थ एक बार फिर से अपनी ट्वीट की वजह से चर्चा में हैं। मुख्यतः तमिल फिल्मों में काम करने वाले सिद्धार्थ ने बॉलीवुड और तेलुगु में भी फ़िल्में की हैं। उन्होंने सोशल मीडिया पर दावा कर डाला है कि पैगंबर मुहम्मद, जीसस क्राइस्ट, बुद्ध, साईं बाबा और गुरु गोविंद सिंह – ये सभी विवाहेतर शारीरिक सम्बन्ध बनाते थे, अर्थात शादी के बाहर सेक्स करते थे।

सिद्धार्थ ने ट्विटर पर इन पाँचों के बारे में लिखा, “ये सभी मनुष्य ही तो थे। ईश्वर की निश्चित रचना थे। वो सभी एकदम आपकी तरह ही थे। वो भोजन करते थे, विवाहेतर सेक्स करते थे, वो शौच करते थे और उन सबकी मृत्यु भी हुई। आप ख़ास हो। आप ईश्वर हो। अपने-आप से प्यार करो। दूसरों की सहायता करो। एक ईश्वर की तरह बनो। ईश्वर की संतान की तरह बनो। प्यार हमें स्वतंत्र करेगा।” इस ट्वीट के बाद उन्हें लोगों के गुस्से का भी सामना करना पड़ा।

जहाँ कई लोगों ने उनकी अंग्रेजी पर सवाल उठाए, तो कई ने आशंका जताई कि जीसस क्राइस्ट, पैगंबर मुहम्मद, गुरु गोविंद सिंह, साईं बाबा और महात्मा बुद्ध के बारे में ऐसी टिप्पणी कर के उन्होंने इन सबके अनुयायियों को नाराज़ कर दिया है। कुछ ने उनसे कहा कि आप अपने ट्वीट डिलीट मत करना। कुछ ने उन्हें याद दिलाया कि इनमें से एक तो मृत्यु के 3 दिनों बाद जीवित हो गए थे। एक यूजर ने उन्हें याद दिलाया कि रावण, कंस और दुर्योधन भी खुद को भगवान मानते थे।

हालाँकि, कुछ लोगों ने आशंका जताई कि वो ठीक चीज कहना चाह रहे हैं, लेकिन उन्होंने ‘Fornicated’ शब्द का इस्तेमाल शायद गलती से या बिना इसका अर्थ समझे कर दिया है। एक यूजर ने ‘ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB)’ से पूछा कि क्या वो इससे इत्तिफ़ाक़ रखते हैं? एक यूजर ने कहा कि ये स्टार्स सिर्फ फ़्लूएंट इंग्लिग की ट्रेनिंग लेते हैं, उन्हें ठीक तरह से अंग्रेजी नहीं आती। कुछ ने इसे ‘ओवर स्मार्टनेस’ करार दिया।

हाल ही में कई सेलेब्रिटीज ने रिहाना, ग्रेटा थनबर्ग और मिया खलीफा जैसों की ट्वीट के खिलाफ ‘इंडिया स्टैंड्स टुगेदर’ और ‘इंडिया अगेंस्ट प्रोपेगंडा’ टैग के साथ देश का समर्थन किया था, जिसका ट्विटर पर अक्सर वामपंथी एजेंडा लेकर चलने वाले सिद्धार्थ ने मजाक बनाया था। उन्होंने इंग्लैंड और भारत में चल रही टेस्ट सीरीज को लेकर बयान दिया था कि ‘भारत बोलिंग, बैटिंग और फील्डिंग’ जानता है, उसे ‘बाहरी हस्तक्षेप’ की जरूरत नहीं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुजरा करने दो विपक्ष को… मैं खड़ा हूँ एसी-एसटी और ओबीसी के आरक्षण के साथ’ : PM मोदी की बिहार-यूपी में हुंकार, बोले- नहीं...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि वो एससी/एसटी ओबीसी के आरक्षण के साथ हर हाल में खड़े हैं। वो वंचितों का अधिकार नहीं छिनने देंगे।

ईवीएम पर नहीं लगा था BJP का टैग, तृणमूल कॉन्ग्रेस ने झूठ फैलाया: चुनाव आयोग ने खोली पोल, बताया- क्यों लिए जाते हैं मशीन...

भारतीय निर्वाचन आयोग ने टीएमसी के आरोपों का जवाब देते हुए झूठे दावे की पोल खोली और बताया कि ईवीएम पर कोई भाजपा का टैग नहीं हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -