Sunday, May 29, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनमहेश बाबू के सपोर्ट में उतरीं कंगना रनौत, कहा- 'तेलुगू फिल्मों से सीखने के...

महेश बाबू के सपोर्ट में उतरीं कंगना रनौत, कहा- ‘तेलुगू फिल्मों से सीखने के लिए काफी कुछ, बॉलीवुड उन्हें अफॉर्ड नहीं करता सकता’

"महेश बाबू सही थे कि बॉलीवुड उन्हें अफॉर्ड नहीं कर सकता। मैं उनसे सहमत हूँ। मैं जानती हूँ कि कई फिल्ममेकर्स ने उन्हें अपनी फिल्मों के लिए अप्रोच किया है।"

साउथ सुपरस्टार महेश बाबू (Mahesh Babu) बॉलीवुड को लेकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करने के बाद से ​चर्चा में हैं। हालाँकि, इसको लेकर वह अपनी सफाई भी दे चुके हैं। बीते दिनों ‘प्रिंस’ महेश बाबू ने तीखा जवाब देते हुए कहा था, “बॉलीवुड उन्हें अफॉर्ड नहीं कर सकता है, इसलिए वह हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में फिल्में करने में अपना समय बर्बाद नहीं करेंगे।” इस बयान के बाद जहाँ कुछ लोगों ने उनकी आलोचना की थी, वहीं कुछ लोग उनका सपोर्ट भी कर रहे हैं। सपोर्ट करने वालों में अभिनेत्री कंगना रनौत भी शामिल हैं।

कंगना से गुरुवार (12 मई 2022) को उनकी अपकमिंग फिल्म ‘धाकड़’ के सेकंड ट्रेलर इवेंट के दौरान महेश बाबू के मुद्दे पर सवाल किया गया। इसके जवाब में एक्ट्रेस बोलीं, “महेश बाबू सही थे कि बॉलीवुड उन्हें अफॉर्ड नहीं कर सकता। मैं उनसे सहमत हूँ। मैं जानती हूँ कि कई फिल्ममेकर्स ने उन्हें अपनी फिल्मों के लिए अप्रोच किया है।”

‘थलाइवी’ फिल्म की अभिनेत्री यहीं नहीं रुकती हैं। वह आगे कहती हैं, “महेश बाबू की जनरेशन ने अपने बलबूते पर तेलुगू इंडस्ट्री को भारत की नंबर बन इंडस्ट्री बनाया है। अब बॉलीवुड तो यकीनन उन्हें अफॉर्ड नहीं कर सकता। मुझे नहीं पता क्यों इस बात का इतना बड़ा विवाद बना दिया गया है। मैं नहीं जानती किस सेंस में महेश बाबू ने ये बयान दिया, लेकिन मैं और कई लोग अक्सर मजाक करते हैं कि हॉलीवुड हमें अफॉर्ड नहीं कर सकता।”

एक्ट्रेस ने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा, “मुझे नहीं लगता कि छोटी छोटी बातों पर कॉन्ट्रोवर्सी होनी चाहिए।” धाकड़ गर्ल ने यह भी कहा, “महेश बाबू ने अपनी इंडस्ट्री की तरफ ढेर सारी इज्जत दिखाई है और हम इस बात को नकार नहीं सकते कि तेलुगू फिल्में पिछले 10-15 सालों में काफी ऊँची उठी हैं। यहाँ तक कि उन्होंने तमिल फिल्म इंडस्ट्री को भी पीछे छोड़ दिया है। उन्हें सब कुछ थाली में परोसकर नहीं मिला। हमारे पास उनसे (तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री) सीखने के लिए काफी कुछ है।”

महेश बाबू ने हाल ही में अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा था, “मेरे बयान को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया है। मैं सभी इंडस्ट्री और भाषाओं का सम्मान करता हूँ, लेकिन मुझे अपने जीवन में जो स्टारडम और इज्जत यहाँ (साउथ) से मिली है, वो बहुत बड़ी बात है। इसलिए मैं अपनी इंडस्ट्री को छोड़कर किसी दूसरी इंडस्ट्री का हिस्सा बनने के बारे में सोच भी नहीं सकता हूँ।” मुकेश भट्ट, राम गोपाल वर्मा, सुनील शेट्टी सहित कई लोगों ने उनके कमेंट पर अपना रिएक्शन दिया था।

बता दें कि एक्ट्रेस की सोशल मीडिया पर लाखों में फैन-फॉलोइंग है। कंगना की फिल्म धाकड़ की बात करें तो इसमें अर्जुन रामपाल और उनके अलावा दिव्या दत्ता भी अहम रोल में हैं। रजनीश घई के डायरेक्शन में बनने वाली फिल्म 20 मई को सिनेमाघरों में दस्तक देने वाली है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

प्रोपेगंडा से आहत महंत ने रोते हुए छोड़ा पद, ‘The Lallantop’ ने चला दिया था शिवलिंग को फव्वारा बताने वाला बयान: कहा – 9...

गणेश शंकर उपाध्याय ने काशी करवट महंत के पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि वो एजेंडा के तहत चलाई गई खबरों से निराश हैं। 'The Lallantop' ने चलाया था प्रोपेगंडा।

नूपुर शर्मा का सिर कलम करने वाले को ₹20 लाख इनाम का ऐलान, बताया ‘गुस्ताख़-ए-रसूल’: मुस्लिमों को उकसा रहा AltNews वाला जुबैर

तहरीक-ए-लब्बैक (TLP) वही समूह है जिसने कुछ दिनों सियालकोट में पहले श्रीलंकाई नागरिक की हत्या कर दी थी। अब नूपुर शर्मा का सिर कलम करने पर रखा इनाम।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe