Monday, July 26, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनकंगना ने किया योगी सरकार के सबसे बड़ी फिल्म सिटी बनाने के ऐलान का...

कंगना ने किया योगी सरकार के सबसे बड़ी फिल्म सिटी बनाने के ऐलान का समर्थन, कहा- फिल्म इंडस्ट्री में कई और बड़े सुधारों की ज़रूरत

“मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरफ से किए गए इस ऐलान की प्रशंसा करती हूँ। हमें फिल्म इंडस्ट्री में कई बड़े सुधारों की ज़रूरत है और उसके पहले हमें एक बड़ी फिल्म इंडस्ट्री की ज़रूरत है, जिसे भारतीय फिल्म उद्योग कहा जाए। फ़िलहाल हम कई आधार पर हिस्सों में बँटे हुए हैं नतीजतन इसका लाभ हॉलीवुड को मिलता है। इंडस्ट्री एक है पर फिल्म सिटी कई हो सकती है।”

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार (18 सितंबर 2020) को प्रदेश में देश की सबसे बड़ी फिल्म सिटी बनाने का ऐलान किया था। इस ऐलान पर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए मुख्यमंत्री के इस निर्णय पर ख़ुशी जाहिर की। इसके अलावा कंगना ने ट्वीट करते हुए लिखा कि हमें इस तरह के कई बदलावों की आवश्यकता है। 

कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा, “मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरफ से किए गए इस ऐलान की प्रशंसा करती हूँ। हमें फिल्म इंडस्ट्री में कई बड़े सुधारों की ज़रूरत है और उसके पहले हमें एक बड़ी फिल्म इंडस्ट्री की ज़रूरत है, जिसे भारतीय फिल्म उद्योग कहा जाए। फ़िलहाल हम कई आधार पर हिस्सों में बँटे हुए हैं नतीजतन इसका लाभ हॉलीवुड को मिलता है। इंडस्ट्री एक है पर फिल्म सिटी कई हो सकती है।” 

इसके बाद कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा, “लोगों के बीच ऐसी धारणा बन चुकी है कि हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री भारत की सबसे बड़ी फिल्म इंडस्ट्री है जबकि ऐसा नहीं है। तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री अब देश की सबसे बड़ी फिल्म इंडस्ट्री बन चुकी है। तेलुगू फिल्म पूरे देश में कई अन्य भाषाओं में रिलीज़ होती हैं। हैदराबाद के रामोजीराव फिल्म सिटी में बहुत सी फिल्मों की शूटिंग होती है। क्षेत्रीय भाषा सिनेमा की ऐसी बहुत सी फिल्म होती हैं जिन्हें पूरे भारत में रिलीज़ नहीं किया जाता है। वहीं हॉलीवुड की डब की गई फिल्मों को मुख्यधारा में रिलीज़ किया जाता है। यह हमारे लिए बहुत अच्छे संकेत नहीं हैं। इसका बड़ा कारण है भारतीय सिनेमा और थियेटर में हिन्दी फिल्मों का एकाधिकार। इसके अलावा मीडिया में भी हॉलीवुड फिल्मों को बढ़ा चढ़ा कर दिखाया जाता है।”    

कंगना ने बॉलीवुड क्षेत्र में बुनियादी स्तर पर सुधार लेकर आने के लिए कई सुझाव भी दिए। कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा, “हमें अपनी बॉलीवुड इंडस्ट्री को कई प्रकार के आतंकवादियों से बचाना है, जिसमें भाई भतीजावाद, ड्रग माफ़िया का आतंक, सेक्सिज़म का आतंक, धार्मिक और क्षेत्रीय आतंक, विदेशी फिल्मों का आतंक, पायरेसी का आतंक, मजदूरों के शोषण का आतंक, हुनर के शोषण का आतंक प्रमुख हैं।”

दरअसल, बीते दिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में देश की सबसे बड़ी फिल्म सिटी बनाने की घोषणा की थी। उन्होंने ऐलान करते हुए कहा था कि देश को एक अच्छी फिल्म सिटी की आवश्यकता है और उत्तर प्रदेश यह जिम्मा उठाने को तैयार है। फिल्म सीट के लिए ज़मीन नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेस वे में चिन्हित की जाएगी। अंत में उन्होंने कहा हम जल्द ही इस दिशा में कार्रवाई शुरू करेंगे।   

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,341FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe