Sunday, August 1, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनरिया की जमानत पर NCB देगी कोर्ट को चुनौती, कोर्ट ने दिया पासपोर्ट जमा...

रिया की जमानत पर NCB देगी कोर्ट को चुनौती, कोर्ट ने दिया पासपोर्ट जमा करने का आदेश

कोर्ट ने कहा कि रिया को प्रत्येक 10 दिन बाद पुलिस स्टेशन में जाकर अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी और रिहा होने के बाद उन्हें अपना पासपोर्ट जमा करना होगा।

ड्रग्स कनेक्शन को लेकर कई दिनों से न्यायिक हिरासत में रहने के बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती को भले ही बॉम्बे हाईकोर्ट ने सर्शत जमानत दे दी, लेकिन अभी भी उनकी परेशानियाँ कम नहीं हुई। दरअसल, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) अब रिया चक्रवर्ती की जमानत के विरोध में सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देगी। NCB के पास रिया की जमानत के विरोध में अपने तर्क हैं।

एडिशनल सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह ने हाईकोर्ट का फैसला आने के बाद कहा, “इस केस में कानून से जुड़े कई तरह के सवाल हैं। इसलिए एनसीबी रिया चक्रवर्ती की जमानत के खिलाफ शीर्ष अदालत में अपील करेगी।”

जमानत का विरोध करते हुए अनिल सिंह ने कहा, “मैं यह बताना हूँ कि यह एक ड्रस सिंडिकेट है और वे सभी आपस में जुड़े हैं। अब तक गिरफ्तार किए गए सभी एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं और यह एक सिंडिकेट है। सभी लगातार खरीदारी कर रहे थे। बॉम्बे हाईकोर्ट ने रिया को सशर्त जमानत दी है। वहीं, रिया के भाई शोविक और एक अन्य की जमानत याचिका को खारिज कर दिया गया है।

जमा करना होगा पासपोर्ट

गौरतलब है कि रिया चक्रवर्ती को 1 लाख रुपए के मुचलके पर जमानत मिली है। इस जमानत के साथ कई तरह की शर्त है। जिसका रिया चक्रवर्ती को भी पालन करना होगा। कोर्ट ने कहा कि रिया को प्रत्येक 10 दिन बाद पुलिस स्टेशन में जाकर अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी और रिहा होने के बाद उन्हें अपना पासपोर्ट जमा करना होगा। विदेश यात्रा में जाने से पहले रिया को कोर्ट की अमुमति लेनी होगी। अगर रिया को ग्रेटर मुंबई छोड़ना होगा तो उन्हें अपने जाँच अधिकारी से इजाजत लेनी होगी।

ड्रग्स मामले में अनिल सिंह ने अदालत में कहा था कि रिया ना सिर्फ सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग्स खरीदती थीं बल्कि वो उसे फाइनांस भी करती थीं। यानी कि वो अवैध ड्रग्स तस्करी सिंडिकेट में शामिल थीं जो समाज के लिए घातक है। कोई भी हत्या या गैर इरादतन हत्या की वारदात एक परिवार को प्रभावित करती है जबकि मादक पदार्थों का नशा पूरे समाज को प्रभावित करता है।

रिया चक्रवर्ती की जमानत पर उनके वकील सतीश मानेशिंदे ने कहा रिया को गलत तरीके से गिरफ्तार किया गया था। तीनों केंद्रीय एजेंसियों- CBI, ED और NCB- की मिलीभगत से यह किया गया है।

उल्लेखनीय है कि रिया को एनसीबी ने 8 सितंबर को गिरफ्तार किया था। रिया पर सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग्स की खरीद-फरोख्त करने का आरोप है। इसके अलावा उन पर कलाकार के पैसों की हेर-फेर का भी आरोप है। जिसकी जाँच ईडी कर रही है।

याद दिला दें सुशांत के अकॉउंट्स से जुड़ी जानकारी जुटाते समय ड्रग्स चैट का खुलासा हुआ था। इसके बाद प्रवर्तन निदेशालय ने मामला एनसीबी को सौंपा और फिर ताबड़तोड़ कार्रवाई के बाद रिया, शौविक, सैमुअल समेत कई लोग गिरफ्तार कर लिए गए। रिया को अब तक भायखला जेल में बंद किया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

पीवी सिंधु ने ओलम्पिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता: वेटलिफ्टिंग और बॉक्सिंग के बाद बैडमिंटन ने दिलाया देश को तीसरा मेडल

भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता। चीनी खिलाड़ी को 21-13, 21-15 से हराया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,477FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe