Monday, July 15, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'मुस्लिम चिश्ती रंग की दीपिका ने पहनी बिकिनी, पठान से निकालो गाना': NHRC से...

‘मुस्लिम चिश्ती रंग की दीपिका ने पहनी बिकिनी, पठान से निकालो गाना’: NHRC से ‘बेशरम रंग’ की कंप्लेन, भगवा पर बहके छत्तीसगढ़ के CM बघेल

दानिश खान ने अपनी शिकायत में कहा है कि हिंदू समाज जिसे भगवा रंग बोल रहा है, दरअसल, वह मुस्लिम समुदाय के लिए भी बहुत मायने रखता है। यह मुस्लिम समुदाय के लिए चिश्ती रंग भी है। इस देश में सभी को इस रंग का सम्मान करना चाहिए।

बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान (Shahrukh Khan) और अभिनेत्री दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) की फिल्म ‘पठान’ (Pathaan) के ‘बेशरम रंग’ गाने पर विवाद जारी है। हिंदू संगठनों, उलेमा बोर्ड के बाद अब आरटीआई एक्टिविस्ट दानिश खान ने भी दीपिका के बिकिनी और इसे गाने के दृश्यों पर एतराज जताया है।

उन्होंने इसे इसे मजहब का अपमान बताते हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) में शिकायत की है। फिल्म से बेशरम रंग (Besharam Rang) गाने को हटाने की माँग की है। वहीं, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गाने का समर्थन करते हुए भगवा को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि बजरंगी गुंडों ने भगवा रंग वसूली करने के लिए पहना है।

दानिश खान ने अपनी शिकायत में कहा है कि हिंदू समाज जिसे भगवा रंग बोल रहा है, दरअसल, वह मुस्लिम समुदाय के लिए भी बहुत मायने रखता है। यह मुस्लिम समुदाय के लिए चिश्ती रंग भी है। इस देश में सभी को इस रंग का सम्मान करना चाहिए। इस्लाम में भगवा रंग होता ही नहीं है, लेकिन इस देश में भगवा रंग की अलग ही इज्जत है। इसलिए इस्लाम मजहब वालों ने भी भगवा रंग अपना लिया है। जिसे चिश्ती रंग कहते हैं। ‘पठान’ फिल्म का गाना हिंदू-मुस्लिम एकता को आहत करने वाला है। है। केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड ​इस गाने को फिल्म से हटाने का आदेश देने की कृपा करे।

उधर बघेल ने कहा है, “भगवा रंग पहनना और धारण करना दोनों अलग हैं। जब साधु संत अपने घर-परिवार का त्याग ​कर देते हैं, तब जाकर वे भगवा वस्त्र धारण करते हैं। ये बजरंगी गुंडे भगवा रंग के गमछे पहन के निकले हैं, बताइए इन्होंने क्या त्याग किया है समाज के लिए। परिवार के लिए क्या त्याग किया है। ये तो बल्कि वसूली करने के लिए ये पहन रहे हैं। इस कलर को तो हर कोई पहन रहा है। कलर की बात है तो भारतीय जनता पार्टी के जो सांसद हैं, विधायक हैं वो हीरो हैं और ये हिरोइनों के साथ जब भगवा रंग के कपड़े पहनकर डांस कर रहे हैं उसके बारे में इनके क्या विचार हैं। रंगों से किसी की जाति, और धर्म को तय नहीं करना चाहिए।”

गौरतलब है कि इससे पहले मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा और अयोध्या के महंत राजू दास भी इस गाने का विरोध कर चुके हैं। महंत ने हाल ही में आरोप लगाया था कि ‘पठान’ फिल्म में सनातन धर्म का मजाक उड़ाया गया है। हिंदू देवी-देवताओं का अपमान करने के नए-नए तरीके खोजे जा रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने दर्शकों से अपील की थी मैं चाहता हूँ कि आप लोग ऐसी फिल्मों का बहिष्कार करो और जहाँ भी, जिस भी थिएटर में ये लगे उसको फूँक दो। नहीं फूँकोगे, तो ये मानने वाले नहीं हैं। जैसे को तैसा करना पड़ता है। दुष्टों के साथ जब तक दुष्टतापूर्वक व्यवहार नहीं करोगे, तो इसके ऊपर आप कंट्रोल नहीं लगा सकते।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मंगलौर के बहाने समझिए मुस्लिमों का वोटिंग पैटर्न: उत्तराखंड की जिस विधानसभा से आज तक नहीं जीता कोई हिन्दू, वहाँ के चुनाव परिणामों से...

मंगलौर में हाल के विधानसभा उपचुनावों में कॉन्ग्रेस ने भाजपा को हराया। इस चुनाव में मुस्लिम वोटिंग का पैटर्न भी एक बार फिर साफ़ हो गया।

IAS बेटी ऑडी पर बत्ती लगाकर बनाती थी भौकाल, माँ-बाप FIR के बाद फरार: पूजा खेडकर को जाँच के बाद डॉक्टरों ने नहीं माना...

पूजा खेडकर का मामला मीडिया में उठने के बाद उनके माता-पिता से जुड़ी कई वीडियो सामने आई है। ऐसे में पुलिस ने उनकी माँ के खिलाफ एफआईआर की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -