Friday, September 17, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजन'नशे में कौन नहीं है, मुझे बताओ जरा?': सितारों का बचाव कर संजय राउत...

‘नशे में कौन नहीं है, मुझे बताओ जरा?’: सितारों का बचाव कर संजय राउत ने ‘शराबी’ वाले अमिताभ की याद दिलाई

एनसीबी जहाँ बॉलीवुड के काले सच को उजागर करने की कोशिश कर रही है, वहीं शिवसेना नेता नामी हस्तियों का नाम मामले में आने के बाद ऐसे बयान दे रहे हैं, जिससे लोगों को अमिताभ बच्चन की फिल्म 'शराबी' की याद आए।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद सामने आए बॉलीवुड ड्रग्स स्कैंडल का दायरा दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के रडार पर कई बड़े सितारे हैं। ऐसे में शिवसेना सांसद संजय राउत ने बॉलीवुड सितारों का बचाव करते हुए एनसीबी पर निशाना साधा है। उन्होंने अपने बयान से ‘शराबी’ फिल्म में अमिताभ बच्चन पर फिल्माए उस गाने की यादें भी ताजा कर दी है, जिसमें वह पूछते हैं कि नशे में कौन नहीं है, मुझे बताओ जरा।

शिवसेना नेता राउत ने बॉलीवुड में ड्रग्स केस पर हो रही जाँच पर एनसीबी को उसकी जिम्मेदारियाँ याद दिलाई है। साथ ही बताया है कि उनका काम क्या है और वह क्या कर रहे हैं। राउत ने कहा कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो का काम ड्रग्स की तस्करी को रोकना है। लेकिन वे एक के बाद दूसरे लोगों को बुला रहे हैं। किस क्षेत्र में लत नहीं है? किसी को पैसे का लत है तो किसी को कुछ और चीज का।

उन्होंने कहा, “एनसीबी का काम देश के बाहर से आने वाले ड्रग के बड़े-बड़े कनसाइनमेंट को पकड़ना और उसकी जड़ तक पहुँचकर उसे खत्म करना है। फिर चाहे वो सामान हवाई मार्ग से आता हो या दूसरे किसी माध्यम से। लेकिन अभी एनसीबी क्या कर रही है?”

वह आगे कहते हैं, “अभी एनसीबी एक-एक आदमी को पकड़कर पूछताछ कर रही है। जबकि इसके लिए प्रत्येक शहर और राज्य में सरकार द्वारा गठित एक पुलिस डिपार्टमेंट होता है।” राउत ने आरोप लगाया कि सुशांत केस में सीबीआई के हाथ कुछ नहीं लगा, इसलिए एनसीबी से जाँच शुरू करवा दी गई। सुशांत के मामले में जाँच कहाँ तक पहुँची है, ये भी मालूम होना चाहिए।

यहाँ बता दें कि एक ओर जहाँ संजय राउत बॉलीवुड कलाकारों के पक्ष में उतर आए है, वहीं एनसीबी कल यानी शनिवार (26 सितंबर 2020) को दीपिका पादुकोण से ड्रग्स मामले में पूछताछ करने वाली है। ख़बर के मुताबिक़ दीपिका पादुकोण उस व्हाट्सएप ग्रुप की एडमिन थीं, जिसमें ड्रग्स के सेवन और लेन-देन को लेकर चर्चा होती थी। इस व्हाट्सएप ग्रुप के ज़रिए कई बड़े कलाकारों का नाम सामने आने की संभावना है।

एनसीबी जहाँ बॉलीवुड के काले सच को उजागर करने की कोशिश कर रही है, वहीं शिवसेना नेता नामी हस्तियों का नाम मामले में आने के बाद ऐसे बयान दे रहे हैं, जिससे लोगों को अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘शराबी’ की याद आए। इसलिए, अब जब तक संजय राउत कोई नया ज्ञान या बयान नहीं देते, ऑपइंडिया की टीम यह गाना संजय राउत को समर्पित करती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,922FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe