Friday, May 24, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनसुशांत मामले में कंगना रनौत को क़ानूनी मदद मुहैया कराएँगे सुब्रमण्यम स्वामी, बताया सबसे...

सुशांत मामले में कंगना रनौत को क़ानूनी मदद मुहैया कराएँगे सुब्रमण्यम स्वामी, बताया सबसे ज्यादा हिम्मती अभिनेत्री

भाजपा सांसद ने कहा कि वो ईशकरण के साथ मिल कर जल्द ही इस बात पर चर्चा करेंगे कि कंगना को इस मामले में कैसे और किस तरह से क़ानूनी सहायता मुहैया कराई जाएगी। मुंबई पुलिस के साथ कंगना की मुलाकात के दौरान क्या बातें होंगी और कैसे चीजों को हैंडल किया जाएगा।

भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कंगना रनौत के पक्ष में आवाज़ उठाई है और उन्हें क़ानूनी सहायता मुहैया कराने का आश्वासन दिया है। स्वामी ने कहा कि कंगना रनौत को भले ही बॉलीवुड में टॉप-3 अभिनेत्रियों में शुमार किया जाता हो लेकिन हिम्मत के मामले में उनसे ऊपर कोई नहीं है। उन्होंने ईशकरण भंडारी को इस मामले को देखने को कहा है। वो कंगना को क़ानूनी मदद देंगे।

सुब्रमण्यम स्वामी ने जानकारी दी कि कंगना रनौत के दफ्तर ने ईशकरण भंडारी से संपर्क किया है। भाजपा सांसद ने कहा कि वो ईशकरण के साथ मिल कर जल्द ही इस बात पर चर्चा करेंगे कि कंगना को इस मामले में कैसे और किस तरह से क़ानूनी सहायता मुहैया कराई जाएगी। मुंबई पुलिस के साथ कंगना की मुलाकात के दौरान क्या बातें होंगी और कैसे चीजों को हैंडल किया जाएगा।

वहीं अधिवक्ता ईशकरण भंडारी ने भी इसकी पुष्टि की है। बता दें कि सुब्रमण्यम स्वामी के अधिकतर अदालती मामलों को वही देखते हैं। भंडारी ने कहा कि जैसा कि स्वामी ने पहले ही बताया है, अगर कंगना मुंबई पुलिस को बयान देने के मामले में उनसे किसी भी प्रकार का लीगल हेल्प चाहती हैं तो वो इसके लिए तैयार हैं। बता दें कि ईशकरण को देश के सबसे काबिल युवा वकीलों में से एक गिना जाता है।

उन्होंने ही मुंबई पुलिस को पत्र भेज कर माँग की थी की जब तक सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या मामले की जाँच नहीं हो जाए, तब तक उनके फ्लैट को पूर्णरूपेण सील कर के रखा जाए। उन्होंने इसके लिए ‘प्रिजर्वेशन ऑफ क्राइम सीन’ वाले सिद्धांत पर जोर दिया था। इसके लिए उन्होंने सुनंदा पुष्कर की मौत वाले होटल के कमरे का उदाहरण दिया था, जिसे 3 सालों तक सील रखा गया था। तब तक जाँच चलती रही थी।

ईशकरण ने कहा कि कंगना रनौत ने जो साहस दिखाया है, वो उदाहरण पेश करने वाला है। साथ ही उन्होंने बॉलीवुड के इकोसिस्टम से उनके हितों की रक्षा करने की ज़रूरत पर भी बल दिया। उन्होंने अर्नब गोस्वामी से बातचीत के दौरान कंगना द्वारा दिए गए बयानों का समर्थन करते हुए भी सुशांत मामले में सीबीआई जाँच की माँग की थी। अभी तक कंगना ने क़ानूनी मामलों को लेकर कोई बयान नहीं दिया है।

नेपोटिज्म विवाद के बीच दूसरी तरफ फिल्म निर्देशक करण जौहर का एक पुराना वीडियो वायरल होने के बाद वो लोगों की आलोचना का शिकार बने हैं। करण जौहर इस वीडियो में अभिनेत्री कंगना रनौत पर टिप्पणी करते नजर आ रहे हैं। ये वीडियो ‘लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स’ का है, जिसमें करण जौहर ये कहते सुने जा सकते हैं कि कंगना रनौत को फिल्म इंडस्ट्री छोड़ देनी चाहिए। उनके इस बयान पर उनके समर्थक तालियाँ पीटते हुए नजर आते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘घेरलू खान मार्केट की बिक्री कम हो गई है, इसीलिए अंतरराष्ट्रीय खान मार्केट मदद करने आया है’: विदेश मंत्री S जयशंकर का भारत विरोधी...

केंद्रीय विदेश मंत्री S जयशंकर ने कहा है कि ये 'खान मार्केट' बहुत बड़ा है, इसका एक वैश्विक वर्जन भी है जिसे अब 'इंटरनेशनल खान मार्केट' कह सकते हैं।

राजीव गाँधी की हत्या के बाद चुनाव आगे बढ़ाने से कॉन्ग्रेस को ऐसे हुआ था फायदा, चुनाव आयुक्त रहे TN शेषन को आडवाणी के...

राजीव गाँधी की हत्या के बाद चुनाव स्थगित हुए। कॉन्ग्रेस फायदे में आ गई। TN शेषन मुख्य चुनाव आयुक्त थे, बाद में LK अडवाणी के खिलाफ कॉन्ग्रेस ने उन्हें अपना प्रत्याशी बनाया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -