Sunday, June 26, 2022
Homeविविध विषयअन्यअम्बुजा और ACC में खरीदी बड़ी हिस्सेदारी, होल्सिम इंडिया से हुई ₹80000 करोड़ की...

अम्बुजा और ACC में खरीदी बड़ी हिस्सेदारी, होल्सिम इंडिया से हुई ₹80000 करोड़ की डील: सीमेंट इंडस्ट्री का ‘किंग’ बन रहा अडानी समूह

यह देश के इंफ्रास्ट्रक्चर और मैटेरियल इंडस्ट्री का अबतक का सबसे बड़ा डील बताया जा रहा है।

जल्द ही देश की दो प्रमुख सीमेंट कम्पनियाँ अम्बुजा सीमेंट लिमिटेड और ACC लिमिटेड में बड़ी हिस्सेदारी अडानी ग्रुप की हो जाएगी। जहाँ सोमवार को बीएसई पर शुरुआती सौदों में अंबुजा सीमेंट्स और एसीसी के शेयरों में क्रमशः 3% और 7% की तेजी आई, वहीं गौतम अडानी के अडानी समूह ने रविवार (15 मई, 2022) को ही बता दिया था कि वह इन दोनों कंपनियों में स्विट्ज़रलैंड की कंपनी होल्सिम एजी की पूरी हिस्सेदारी खरीदेगी। यह देश के इंफ्रास्ट्रक्चर और मैटेरियल इंडस्ट्री का अबतक का सबसे बड़ा डील बताया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अडानी समूह ने स्विस निर्माण सामग्री निर्माता होल्सिम लिमिटेड की अंबुजा सीमेंट्स और एसीसी लिमिटेड में हिस्सेदारी को 10.5 अरब डॉलर (₹ 80,000 करोड़) में खरीदने के लिए सहमत हो गया है। बताया जा रहा है कि अडानी समूह विदेश में स्थित अपनी एक सब्सिडियरी के जरिए इस हिस्सेदारी को खरीद रही है।

रिपोर्ट के अनुसार स्विट्ज़रलैंड की कंपनी होल्सिम के पास अपनी सहयोगी कंपनी के जरिए अम्बुजा सीमेंट में 63.19% और ACC में 54.3% हिस्सेदारी है। वहीं इसमें 50.05% हिस्सेदारी अम्बुजा सीमेंट के जरिए लिया गया है। दोनों कंपनियों में होल्सिम की हिस्सेदारी खरीदने के लिए अडानी समूह 10.5 अरब डॉलर का भुगतान कर रही है।

इतने बड़े डील को देखते हुए कहा जा रहा है कि जहाँ अडानी समूह सीमेंट बिजिनेस में अपनी पकड़ बना रही है वहीं इस डील के साथ ही होल्सिम बिल्डिंग टेक्नोलॉजी पर फोकस करने की रणनीति पर काम कर रही है। कहा जा रहा है कि कंपनी सस्टेनेबल डेवेलपमेंट को ध्यान में रखते हुए भारत में अपने सीमेंट कारोबार को बेचना चाहती है।

रिपोर्ट के अनुसार यह भी दावा किया जा रहा है कि कंपनी ने इसी रणनीति के तहत सितम्बर 2021 में अपनी ब्राजीलियन यूनिट को 1 अरब डॉलर में बेचा था। इसके साथ ही होल्सिम कंपनी जिम्बाब्वे में भी अपने कारोबार को बेचने की तैयारी कर रही है।

गौरतलब है कि अम्बुजा सीमेंट भारत की एक लीडिंग सीमेंट कंपनी है। जिसकी स्थापना 1983 में की गई थी। वहीं ACC सीमेंट अम्बुजा की ही सब्सिडियरी कंपनी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भारत जल्द बनेगा $30 ट्रिलियन की इकोनॉमी’ : देश का मजाक उड़वाने के लिए NDTV ने पीयूष गोयल के बयान से की छेड़छाड़, पोल...

एनडीटीवी ने झूठ बोलकर पाठकों को भ्रमित करने का काम अभी बंद नहीं किया है। हाल में इस चैनल ने भाजपा नेता पीयूष गोयल के बयान को तोड़-मरोड़ के पेश किया।

’47 साल पहले हुआ था लोकतंत्र को कुचलने का प्रयास’: जर्मनी में PM मोदी ने याद दिलाया आपातकाल, कहा – ये इतिहास पर काला...

"आज भारत हर महीनें औसतन 500 से अधिक आधुनिक रेलवे कोच बना रहा है। आज भारत हर महीने औसतन 18 लाख घरों को पाइप वॉटर सप्लाई से जोड़ रहा है।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,523FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe