Sunday, July 3, 2022
Homeविविध विषयअन्यचीटियों ने बता दिया कहाँ है 'बिहार का KGF'! देश का सबसे बड़ा स्वर्ण...

चीटियों ने बता दिया कहाँ है ‘बिहार का KGF’! देश का सबसे बड़ा स्वर्ण खादान, जहाँ छिपा है 23 करोड़ टन सोना: सरकार जल्द लेगी बड़ा फैसला

भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (जीएसआई) ने बिहार के जमुई जिले में करीब 23 करोड़ टन (लगभग 222.88 मिलियन टन) सोने का सर्वेक्षण किया है। उन्होंने सोने के साथ-साथ करीब 37.6 टन खनिज अयस्क की भी सूचना दी है।

कहा जा रहा है कि ‘बिहार को KGF’ मिल गया है। आप तब तक फिल्म याद कीजिए लेकिन यह सच है कि माओवादियों के दबदबे वाले बिहार के जमुई में सोने का अकूत भंडार मिला है। यहाँ की लाल मिट्टी के नीचे इतना सोना है इस बात का कभी किसी को अंदाजा नहीं था। वहीं अब इसे पूरे देश के स्वर्ण भंडार का करीब 44% बताया जा रहा है। यह स्वर्ण भंडार इसलिए भी चर्चा में आया क्योंकि बिहार सरकार ने देश की सबसे बड़ी सोने की खदान के खनन की अनुमति देने का फैसला किया है। यह जानकारी मीडिया में राज्य के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से शनिवार (28 मई, 2022) को दी गई है।

वहीं मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (जीएसआई) ने बिहार के जमुई जिले में करीब 23 करोड़ टन (लगभग 222.88 मिलियन टन) सोने का सर्वेक्षण किया है। उन्होंने सोने के साथ-साथ करीब 37.6 टन खनिज अयस्क की भी सूचना दी है। इसी को देखते हुए नीतीश कुमार सरकार ने हाल ही में जमुई जिले के उस इलाके में सोने के खोज का फैसला किया है। कहा जा रहा है कि इस मुद्दे पर केंद्र के साथ बातचीत चल रही है।

वैसे बिहार के इस क्षेत्र में सोने के भंडार को खोजने में कहा जा रहा है कि करीब 40 साल लग गए हैं। और यह संभव हुआ चींटियों की वजह से। इस इलाके में ऐसी किंवदंती है कि चालीस साल पहले इस क्षेत्र में एक विशाल बरगद का पेड़ था। सूरज की गर्मी और गर्मी से बचने के लिए चींटियाँ बरगद के पेड़ के नीचे घोंसला बनाना शुरू कर देती हैं। कहते हैं कि जब चीटियों ने मिट्टी को नीचे से उठाना शुरू किया, तो स्थानीय लोगों ने मिट्टी में पीले धातु के छोटे-छोटे कण मिले हुए देखे। तभी यह खबर इलाके के लोगों में फैल गई। कहते हैं वह खोज की शुरुआत है।

हालाँकि, जमुई के कई गाँवों के लोग ऐसी बाते कहते आए हैं। वहीं ग्रामीणों का यह भी कहना है कि आज से लगभग 15-16 साल पहले कोलाकाता से भी एक टीम आई थी, जिसने करमटिया में सोना होने की बात कही थी। इसके बाद में कई जाँच और सर्वे एजेंसियों ने भी जाँच कर जमुई जिले को सोने का बड़ा स्रोत बताया है।

बता दें कि बिहार के जमुई जिले में सोने के बड़े भंडार की चर्चा पिछले साल लोकसभा में केंद्रीय खान मंत्री प्रह्लाद जोशी ने की थी। उस समय भी मामला तेजी के साथ सुर्खियों में आया था। अब यहाँ से सोना निकालने के लिए बिहार सरकार की ओर से अनुमति देने का फैसला लिया जा रहा है। शनिवार को इस बाबत एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी।

रिपोर्ट के अनुसार, बिहार के जमुई जिले में करमटिया, झाझा और सोनो में भारी मात्रा में सोना और खनिज होने के संकेत कई सालों से लोगों को मिलते आ रहे हैं। जिस पर मुहर राज्य का खान और भूविज्ञान विभाग भी लगा चुका है। वहीं बिहार का अब यह विभाग जमुई में सोने के भंडार की खोज के लिए जीएसआई और राष्ट्रीय खनिज विकास निगम (एनएमडीसी) सहित ऐसी खोज में लगी एजेंसियों के साथ भी विचार-विमर्श कर रहा है।

गौरतलब है कि भारत में सबसे अधिक सोना कर्नाटक राज्य में पाया जाता है। इस राज्य में कोलार सोने की खान भारत की सबसे पुरानी और प्रमुख सोने की खानों में से एक है। हालाँकि, 2001 में सोने की यह खान बंद कर दी गई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिर कलम करने में जिस डॉ युसूफ का हाथ, वो 16 साल से था दोस्त: अमरावती हत्याकांड में कश्मीर नरसंहार वाला पैटर्न, उदयपुर में...

अमरावती में उमेश कोल्हे की हत्या में उनका 16 साल पुराना वेटेनरी डॉक्टर दोस्त यूसुफ खान भी शामिल था। उसी ने कोल्हे की पोस्ट को वायरल किया था।

‘1 बार दलित को और 1 बार महिला आदिवासी को चुना राष्ट्रपति’: BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में भारत को पुनः विश्वगुरु बनाने की बात

"सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक, अनुच्छेद 370 खत्म करने, GST, आयुष्मान भारत, कोरोना टीकाकरण, CAA, राम मंदिर - कॉन्ग्रेस ने सबका विरोध किया।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,752FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe