Tuesday, May 17, 2022
Homeविविध विषयअन्यशेन वार्न के थाईलैंड वाले कमरे के फर्श और तौलियों पर ‘खून के धब्बे’,...

शेन वार्न के थाईलैंड वाले कमरे के फर्श और तौलियों पर ‘खून के धब्बे’, मौत के आधिकारिक कारण पर पुलिस अब भी चुप

"कमरे में अच्छी-खासी मात्रा में खून पाया गया था। जब सीपीआर शुरू किया गया था, मृतक को तरल खाँसी आई थी और खून बह रहा था।" - स्थानीय पुलिस कमांडर ने यह तो बता दिया लेकिन मौत के आधिकारिक कारण पर अभी चुप हैं।

शेन वार्न अब हमारे बीच नहीं रहे। थाईलैंड के एक प्राइवेट विला में उनका निधन (4 मार्च 2022) हुआ। अब वहीं की पुलिस से खबर आई है कि जिस कमरे में शेन वार्न थे, वहाँ के फर्श और तौलियों पर ‘खून के धब्बे’ मिले थे।

थाईलैंड पुलिस के अनुसार शेन वार्न को अस्पताल ले जाने के बाद उनके कमरे में खून देखा गया। पुलिस ने स्पष्ट किया है कि विला में जो खून पाया गया, वो वार्न की जान बचाने के लिए दिए जा रहे सीपीआर (CPR: Cardiopulmonary Resuscitation) के कारण आया था।

थाईलैंड के जिस कोह सामुई स्थित प्राइवेट विला में शेन वार्न (Shane Warne in Koh Samui) ठहरे थे, वहाँ के स्थानीय पुलिस कमांडर ने थाई मीडिया को बताया, “कमरे में अच्छी-खासी मात्रा में खून पाया गया था। जब सीपीआर शुरू किया गया था, मृतक को तरल खाँसी आई थी और खून बह रहा था।”

स्काईन्यूज.कॉम के अनुसार थाईलैंड पुलिस ने शेन वार्न के निधन के अगले दिन शनिवार को बताया – वार्न के परिवार ने उन्हें पूर्व ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर के अस्थमा और हृदय रोग के बारे में बताया था। वहाँ के पुलिस अधीक्षक युताना सिरिसोम्बा के अनुसार वार्न ने हाल ही में अपने हृदय रोग के संबंध में एक डॉक्टर को दिखाया था।

थाईलैंड की पुलिस ने शेन वार्न की मौत को संदिग्ध मानने से इनकार किया है। हालाँकि अभी तक मौत का आधिकारिक कारण भी नहीं बताया है। पुलिस अधीक्षक युताना सिरिसोम्बा ने इसको लेकर कहा – “मैं यकीन से नहीं कह सकता हूँ, यह डॉक्टर की राय पर निर्भर करता है।”

शेन वॉर्न को 4 दोस्त दे रहे थे CPR

थाईलैंड पुलिस के अनुसार घटना के समय शेन वार्न के दोस्तों ने 20 मिनट तक उनकी जान बचाने के लिए संघर्ष किया था। पुलिस के अनुसार रात को खाने के वक्त जब वॉर्न नीचे नहीं आए तो एक दोस्त उन्हें देखने के लिए गया था। इसी दौरान वो बेहोश पड़े मिले।

शेन वॉर्न को बेहोश पड़े देख कर दोस्तों ने सीपीआर के जरिए उनकी जान बचाने की कोशिश की थी। साथ ही एंबुलेंस को भी फोन किया था। वहाँ से वॉर्न को थाई इंटरनेशनल हॉस्पिटल ले जाया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभिनेत्री के घर पहुँची महाराष्ट्र पुलिस, लैपटॉप-फोन सहित कई उपकरण जब्त किए: पवार पर फेसबुक पोस्ट, एपिलेप्सी से रही हैं पीड़ित

अभिनेत्री ने फेसबुक पर 'ब्राह्मणों से नफरत' का आरोप लगाते हुए 'नर्क तुम्हारा इंतजार कर रहा है' - ऐसा लिखा था। हो चुकी हैं गिरफ्तार। अब घर की पुलिस ने ली तलाशी।

जिसे पढ़ाया महिला सशक्तिकरण की मिसाल, उस रजिया सुल्ताना ने काशी में विश्वेश्वर मंदिर तोड़ बना दी मस्जिद: लोदी, तुगलक, खिलजी – सबने मचाई...

तुगलक ने आसपास के छोटे-बड़े मंदिरों को भी ध्वस्त कर दिया और रजिया मस्जिद का और विस्तार किया। काशी में सिकंदर लोदी और खिलजी ने भी तबाही मचाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,227FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe