Sunday, July 21, 2024
Homeविविध विषयअन्यबांग्लादेशी क्रिकेटर शाकिब अल हसन ने भरी भीड़ में की फैन की पिटाई, कैप...

बांग्लादेशी क्रिकेटर शाकिब अल हसन ने भरी भीड़ में की फैन की पिटाई, कैप से जमकर धुना: Video वायरल

साल 2019 में ICC ने शाकिब पर प्रतिबंध लगा दिया था, क्‍योंकि भ्रष्‍टचारी लोगों की सूचना नहीं दी थी। साल 2014 में उन्होंने बांग्लादेश के स्टेडियम में ही एक शख्स की पिटाई कर दी थी। आरोप था कि जिस व्यक्ति की शाकिब ने पिटाई की थी, उसने उनकी बीवी के साथ बदतमीजी की थी। बता दें कि शाकिब ने उम्मे अहमद शिशिर से निकाह किया है।

बांग्‍लादेश के क्रिकेटर शाकिब अल हसन ने अपने एक फैन की पिटाई करके एक बार फिर से विवाद खड़ा कर दिया है। टेस्‍ट और टी-20 इंटरनेशनल के कप्‍तान शाकिब इंग्‍लैंड को मैच में मात देने के बाद एक प्रमोशनल इवेंट में शामिल हुए थे। इस दौरान उन्होंने अपना आपा खो दिया और फैन की पिटाई कर दी। इसके पहले भी शाकिब विवादों में रहे हैं।

शाकिब जब प्रमोशनल इवेंट से बाहर निकले तो फैंस ने उन्हें घेर लिया। सुरक्षाकर्मियों के घेरे में रहने के बावजूद शाकिब को फैंस की भीड़ से निकलना मुश्किल हो रहा था। किसी तरह शाकिब अपनी कार के पास पहुँचे। इस दौरान एक फैन ने उनकी कैप छीन ली। इससे उन्हें गुस्‍सा आ गया और फैन के हाथ से कैप छीनकर उसकी कैप से ही पिटाई कर दी।

यह पहली बार नहीं है, जब शाकिब विवादों में घिरे हैं। 021 में बांग्‍लादेश प्रीमियर लीग के दौरान शाकिब लेग अंपायर पर भड़क गए थे। सिर के ऊपर की गेंद को वाइड नहीं देने पर शाकिब ने अंपायर को खरी-खोटी सुनाई थी और गुस्‍से में स्‍टंप उखाड़कर फेंक दिया था।

साल 2019 में ICC ने शाकिब पर प्रतिबंध लगा दिया था, क्‍योंकि भ्रष्‍टचारी लोगों की सूचना नहीं दी थी। साल 2014 में उन्होंने बांग्लादेश के स्टेडियम में ही एक शख्स की पिटाई कर दी थी। आरोप था कि जिस रईसजादे राहीद की शाकिब ने पिटाई की थी, उसने उनकी बीवी के साथ बदतमीजी की थी। बता दें कि शाकिब ने उम्मे अहमद शिशिर से निकाह किया है।

शॉर्ट टेंपर्ड शाकिब ने क्रिकेट में हाल ही में एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। उन्होंने वनडे में 6000 रन बनाने और 300 विकेट लेने वाले दुनिया के तीसरे ऑलराउंडर बने हैं। इससे पहले यह खिताब पाकिस्‍तान के पूर्व कप्‍तान शाहिद अफरीदी और श्रीलंका के पूर्व कप्‍तान सनथ जयसूर्या के नाम थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शुक्र है मीलॉर्ड ने भी माना कि वो इंसान हैं! चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने को मद्रास हाई कोर्ट ने नहीं माना था अपराध, अब बदला...

चाइल्ड पोर्नोग्राफी को अपराध नहीं बताने वाले फैसले को मद्रास हाई कोर्ट के जज एम. नागप्रसन्ना ने वापस लिया और कहा कि जज भी मानव होते हैं।

आरक्षण के खिलाफ बांग्लादेश में धधकी आग में 115 की मौत, प्रदर्शनकारियों को देखते ही गोली मारने के आदेश: वहाँ फँसे भारतीयों को वापस...

बांग्लादेश में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के भी आदेश दिए गए हैं। वहाँ हिंसा में अब तक 115 लोगों की जान जा चुकी है और 1500+ घायल हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -