Saturday, May 18, 2024
Homeविविध विषयअन्यवो दारूबाज क्रिकेटर... युजवेंद्र चहल को 15वीं मंजिल की बालकनी से लटका दिया: भारतीय...

वो दारूबाज क्रिकेटर… युजवेंद्र चहल को 15वीं मंजिल की बालकनी से लटका दिया: भारतीय स्पिनर ने बताया- मुंबई इंडियंस में रहते कैसे बची थी जान

"मैं 15वीं मंजिल से ही गिर गया होता। तभी वहाँ मौजूद लोगों ने पूरी स्थिति को सँभाला। मैं तो बेहोश हो गया था, मुझे लोगों ने पानी पिलाया।"

टीम इंडिया के लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कई वर्षों से खेल रहे हैं। 2014 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) से जुड़ने से पहले चहल मुंबई इंडियंस (MI) का हिस्सा थे। आईपीएल के सीजन 15 में चहल राजस्थान रॉयल्स की ओर से खेल रहे हैं। राजस्थान रॉयल्स ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से गुरुवार (7 अप्रैल 2022) को एक वीडियो शेयर किया जिसमें करुण नायर (Karun Nair) चहल के साथ आर अश्विन (Ravichandran Ashwin) चर्चा करते दिख रहे हैं।

चहल ने इस वीडियो में एक हैरान करने वाली घटना का जिक्र किया है। उन्होंने बताया है कि 2013 में आईपीएल के छठे सीजन में उनकी जान जाते-जाते बची थी। उस समय वह मुंबई इंडियंस का हिस्सा थे। 6 मिनट 40 सेंकेंड के इस वीडियो में चहल 2 मिनट 50 सेकेंड से बोलना शुरू करते हैं।

वे कहते हैं, “मेरी यह स्टोरी कुछ लोगों को पता है। लेकिन आज से पहले मैंने यह बात कभी किसी को नहीं बताई। अब लोग इसके बारे में जानेंगे। यह 2013 की बात है, जब मैं मुंबई इंडियंस टीम का हिस्सा था। हमारा बैंगलोर में एक मैच था। मैच के बाद एक गेट-टुगेदर था। वहाँ एक खिलाड़ी था, जो शराब के नशे में धुत था, मैं उसका नाम नहीं लूँगा। वह काफी देर से मुझे घूर रहा था, फिर कुछ सोचकर उसने मुझे अपने पास बुलाया।”

चहल ने आगे कहा, “वह मुझे बाहर ले गया और मुझे बालकनी से लटका दिया। मेरे हाथ उसके गले से लिपटे हुए थे। अगर मेरा हाथ फिसल जाता तो… मैं 15वीं मंजिल से ही गिर गया होता। तभी वहाँ मौजूद लोगों ने पूरी स्थिति को सँभाला। मैं तो बेहोश हो गया था, मुझे लोगों ने पानी पिलाया। उस दिन मुझे समझ में आया कि हमें बाहर जाते हुए कितना सर्तक रहना चाहिए। यह एक ऐसी घटना थी, जिसमें मैं बाल-बाल बचा था। अगर थोड़ी सी भी चूक हो जाती तो मैं 15वीं मंजिल से नीचे गिर गया होता।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘AAP झूठ की बुनियाद पर बनी पार्टी, इसकी विश्वसनीयता शून्य नहीं, माइनस में’ – BJP के साथ स्वाति मालीवाल मुद्दे पर जेपी नड्डा का...

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल लंबे समय से भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं और उनके ही इशारे पर ये साजिश रची गई।

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -