Tuesday, October 19, 2021
Homeविविध विषयअन्य'आत्मनिर्भर भारत' के लिए साथ आए फ्लिपकार्ट और अडानी: लिबरल गिरोह को लगी मिर्ची,...

‘आत्मनिर्भर भारत’ के लिए साथ आए फ्लिपकार्ट और अडानी: लिबरल गिरोह को लगी मिर्ची, कहा- Flipkart का करेंगे बहिष्कार

अब तो गिरोह विशेष और उससे जुड़े लोगों ने सोशल मीडिया पर फ्लिपकार्ट का भी बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया है। कुछ यूजर्स का कहना है कि अडानी उनका डेटा चुरा लेगा, इसीलिए वो अब फ्लिपकार्ट से कुछ नहीं खरीदेंगे।

‘अडानी ग्रुप’ ने स्वदेशी ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट को अपना नया स्ट्रेटेजिक पार्टनर बनाया है। खुद चेयरमैन गौतम अडानी ने इसकी घोषणा की है। उन्होंने बताया कि जहाँ AdaniConneX एक नया टायर-4 डेटा सेंटर का निर्माण करने जा रहा है, वहीं लॉजिस्टिक्स के मामले में भारत में अग्रणी ‘अडानी लॉजिस्टिक्स’ इसके लिए 5,34,000 स्क्वायर फीट क्षेत्र में फुलफिलमेंट सेंटर बनाएगा। इससे मुंबई में हजारों नई नौकरियाँ पैदा होंगी।

फ्लिपकार्ट ने भी ‘अडानी ग्रुप’ के साथ इस स्ट्रेटेजिक और कमर्शियल साझेदारी की पुष्टि की है। इससे कंपनी का सप्लाई चेन इंस्फ्रास्ट्रक्टर मजबूत होगा और लगातार बढ़ रहे ग्राहकों तक पहुँचने में भी उसे आसानी होगी। पश्चिमी भारत में ई-कॉमर्स वेबसाइट के बढ़ते ग्राहकों को संतुष्ट करने के लिए अडानी का फुलफिलमेंट सेंटर फ्लिपकार्ट को लीज पर दिया जाएगा। इससे क्षेत्र के कई लघु उद्योग और हजारों विक्रेताओं को सीधे बाजार तक पहुँच मिलेगी

आशा जताई है कि 2020 की तीसरी चौमाही में ये डेटा सेंटर काम करना चालू कर देगा। इसमें किसी भी समय हजारों विक्रेताओं की वस्तुओं के 1 करोड़ यूनिट्स को स्टोर कर रखने की क्षमता होगी। इससे न सिर्फ MSMEs और विक्रेताओं को मदद मिलेगी, बल्कि फ्लिपकार्ट प्रत्यक्ष रूप से 2500 और अप्रत्यक्ष रूप से हजारों नौकरियाँ पैदा करेगा। अडानी के साथ साझेदारी का फायदा उठाते हुए वो चेन्नई में अपना तीसरा डेटा सेंटर चालू करेगा।

‘अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन (APSEZ)’ के CEO करण अडानी ने कहा कि भारत के दो सबसे तेज़ी से विकसित हो रही कंपनियाँ साथ आ रही हैं, जिससे काफी संवेदनशील और अत्याधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण होगा। उन्होंने कहा कि यही तो ‘आत्मनिर्भर भारत’ है। ये एक यूनिक मॉडल होगा, जिससे फ्लिपकार्ट के डिजिटल और फिजिकल ज़रूरतें पूरी होंगी। इससे तकनीकी रूप से भी समृद्धता आएगी।

अडानी ने कहा कि देश के MSME सेक्टर को और सुदृढ़ करने के लिए और ग्राहकों तक उनकी ज़रूरतें पहुँचाने के लिए ये साझेदारी अहम साबित होगी, जो लंबी भी चलेगी। फ्लिपकार्ट के CEO कल्याण कृष्णमूर्ति ने कहा कि भारत में इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण में ‘अडानी ग्रुप’ का कोई सानी नहीं है, क्योंकि इसने लॉजिस्टिक्स, रियल एस्टेट, ग्रीन एनर्जी और डेटा सेंटर्स का यूनिक कॉम्बो पेश किया है। उन्होंने इस साझेदारी पर ख़ुशी जताई।

ये भी याद करने लायक है कि कॉन्ग्रेस पार्टी और इसके पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने किस तरह बार-बार ‘अम्बानी-अडानी’ की रट लगा कर दोनों उद्योगपतियों और उनकी कंपनियों को लेकर देश में नकारात्मक माहौल बनाने की कोशिश की। वो अब भी लिबरल गिरोह और वामपंथी मीडिया के सहयोग से इस कार्य में लगे हुए हैं। इनलोगों ने भारत में जॉब्स पैदा करने और GDP में योगदान देने वाले उद्योगपतियों को ‘जनता का दुश्मन’ बताने का अभियान चला रखा है।

स्थिति ये है कि अब तो गिरोह विशेष और उससे जुड़े लोगों ने सोशल मीडिया पर फ्लिपकार्ट का भी बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया है। कुछ यूजर्स का कहना है कि अडानी उनका डेटा चुरा लेगा, इसीलिए वो अब फ्लिपकार्ट से कुछ नहीं खरीदेंगे। सच्चाई ये है कि जिन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का प्रयोग कर वो ये सब कह रहे हैं, उन्हीं पर डेटा की सुरक्षा से लेकर बेचने तक के आरोप हैं। कइयों ने आलिया भट्ट और वरुण धवन को फ्लिपकार्ट का एड न करने की सलाह दी है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe