Thursday, March 4, 2021
Home विविध विषय अन्य Google ने प्ले स्टोर से 'भारत-विरोधी' ऐप हटाया, पंजाब को 'भारत के क़ब्जे' से...

Google ने प्ले स्टोर से ‘भारत-विरोधी’ ऐप हटाया, पंजाब को ‘भारत के क़ब्जे’ से मुक्त कराने के लिए कर रहा था काम

पंजाब रेफरेंडम 2020 एक अनौपचारिक ऑनलाइन रेफरेंडम है, जो दावा करता है कि यह अभियान पंजाब को मुक्त करने के लिए काम कर रहा है, जो 'वर्तमान में भारत के क़ब्जे' में है।

Google ने अपने Play Store पर मौजूद भारत-विरोधी ऐप ‘2020 Sikh Referendum’ को हटा दिया है। पंजाब सरकार ने इस ऐप को हटाने की माँग की थी। इसके परिणामस्वरूप अब भारत में यूज़र्स के लिए यह उपलब्ध नहीं है।

पंजाब सरकार द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, ऐप ने “आम जनता को RE PUNJAB REFERENDUM 2020 KHALISTAN’ में मतदान करने के लिए ख़ुद को पंजीकृत करने के लिए कहा।”

रिलीज़ में कहा गया है कि आवेदन के विश्लेषण से पता चला है कि ऐप पर पंजीकृत मतदाताओं का डेटा ‘est yestoKhalistan.org’ नामक वेबसाइट के वेब सर्वर पर संग्रहीत किया गया था।

ऐसा माना जाता है कि इस वेबसाइट को एक यूएस-आधारित अलगाववादी समूह ‘Sikhs for Justice’ द्वारा बनाया और प्रबंधित किया गया है। इस समूह को भारत सरकार द्वारा इस साल जुलाई में अलगाववाद के आधार पर प्रतिबंधित कर दिया गया था।

प्रतिबंध के बाद, सिंह ने कहा

“यह ISI समर्थित संगठन के भारत-विरोधी अलगाववादियों से राष्ट्र की रक्षा करने की दिशा में पहला क़दम था”

पंजाब के डिजिटल जाँच, प्रशिक्षण और विश्लेषण केंद्र (DITAC) साइबर लैब ने नवंबर की शुरुआत में भारत में Google की क़ानूनी टीम से इस मुद्दे को उठाया था, क्योंकि उनका मानना ​​था कि ‘Sikhs for Justice’ नामक प्रतिबंधित संगठन द्वारा ग़ैर-क़ानूनी और देश-विरोधी गतिविधियों के लिए इस ऐप का दुरुपयोग किया गया था।

वेबसाइट के अनुसार, पंजाब रेफरेंडम 2020 एक अनौपचारिक ऑनलाइन रेफरेंडम है, जो दावा करता है कि यह अभियान पंजाब को मुक्त करने के लिए काम कर रहा है, जो ‘वर्तमान में भारत के क़ब्जे’ में है।

यह अभियान, SFJ द्वारा आयोजित किया जा रहा था। यह एक ऐसा संगठन है जो 2007 में गठित किया गया था, जो सिखों के लिए एक अलग मातृभूमि चाहता है। SFJ का कहना है कि यह नवंबर 2020 में पंजाब और उत्तरी अमेरिका, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, मलेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर, केन्या और मध्य पूर्वी देशों के प्रमुख शहरों में इस तथाकथित रेफरेंडम को आयोजित करने की योजना बना रहा है।

वेबसाइट में कहा गया है कि एक बार जब पंजाबी लोगों के बीच यह सहमति बन जाती है कि उन्हें भारत से आज़ादी चाहिए, तो हम पंजाब को एक राष्ट्र के रूप में स्थापित करने के लक्ष्य के साथ संयुक्त राष्ट्र और अन्य अंतरराष्ट्रीय रूपों और निकायों से भी संपर्क करेंगे।

रेफरेंडम के माध्यम से, यह अभियान पंजाब के लिए स्वतंत्रता के समर्थन में कम से कम 5 मिलियन वोट प्राप्त करना चाहता है, जिसके बाद वह संयुक्त राष्ट्र से सम्पर्क करने की योजना बना रहा है। पंजाब पुलिस का कहना है कि SFJ और रेफरेंडम 2020 दोनों ही पाकिस्तान द्वारा समर्थित हैं।

SFJ का चेहरा गुरपतवंत सिंह पन्नुन नाम का एक शख़् है, जो भारतीय राजनेताओं के ख़िलाफ़ मुक़दमा दायर करने के लिए जाना जाता है। अमेरिका में स्थित पन्नून ने 2002 के गुजरात दंगों और 1984 के सिख विरोधी दंगों के मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पूर्ववर्ती मनमोहन सिंह के ख़िलाफ़ मामले दर्ज किए हैं।

2016 में, अमरिंदर सिंह को SFJ द्वारा दायर एक मामले के कारण कनाडा की यात्रा रद्द करनी पड़ी थी। 2018 में, शिरोमणि अकाली दल अमृतसर (मान) के अध्यक्ष, सिमरनजीत सिंह मान, और सबसे दूर के समूह दल खालसा ने पन्नून को लिखा है कि एक ऑनलाइन रेफरेंडम के लिए SFJ का आह्वान ‘दूर की कौड़ी’ और ‘असाध्य’ था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अनुराग कश्यप, तापसी पन्नू और अन्य के ठिकानों पर लगातार दूसरे दिन रेड, ED का भी कस सकता है शिकंजा

फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप, अभिनेत्री तापसी पन्नु और अन्य के यहाँ लगातार दूसरे दिन 4 मार्च को भी आयकर विभाग की छापेमारी जारी है।

मारा गया शार्प शूटर अमजद, साथी भी ढेर: मुख्तार अंसारी के लिए किया था काम, UP पुलिस से एनकाउटंर में काम तमाम

दोनों शूटर प्रयागराज किसी राजनीतिक व्यक्ति की हत्या करने के इरादे से आए थे। यूपी पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने...

चोरी करके बनाया गया दीपिका पादुकोण का Levi’s जीन्स वाला विज्ञापन? Yeh Ballet के डायरेक्टर ने लगाया आरोप

"ऐसा कोई स्टूडियो मुंबई में नहीं था, इसलिए विज्ञापन के डायरेक्टर ने इसे देखा और हमारे सेट को प्लेगराइज किया।" - ‘Yeh Ballet’ के निर्देशक ने...

‘मुगलों-औरंगजेब ने करवाई मंदिरों की मरम्मत’ – NCERT बिना सबूत के पूरे देश को पढ़ा रहा था, भेजा गया लीगल नोटिस

मुगलों का महिमामंडल करने वाली NCERT को एक RTI कार्यकर्ता ने लीगल नोटिस भेजा है। NCERT को ये नोटिस मुगलों पर अप्रमाणित कंटेंट छापने को लेकर...

स्विडन में आतंक: अकेले कुल्हाड़ी से 8 लोगों पर हमला, 3 साल पहले इस्लामी आतंकी ने लॉरी से रौंद डाला था 5 को

पुलिस ने फिलहाल आरोपित से जुड़ी कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं की है। स्विडन की राजधानी में पहले भी दो बार इस्लामी आतंकियों ने हमले...

‘इस बार चुनाव बंगाल के भविष्य का, ऐसा करंट लगेगा कि कुर्सी से 2 फुट ऊपर उठ जाएँगी ममता’: नितिन गडकरी

"चुनाव के दिन आप लोग सुबह उठिएगा…अपने भगवान को याद कीजिएगा… इसके बाद मतदान केंद्रों पर जाकर कमल का बटन दबाइए। ऐसा करंट लगेगा कि ममता जी अपनी कुर्सी से दो फुट ऊपर उठ जाएँगी।"

प्रचलित ख़बरें

BBC के शो में PM नरेंद्र मोदी को माँ की गंदी गाली, अश्लील भाषा का प्रयोग: किसान आंदोलन पर हो रहा था ‘Big Debate’

दिल्ली में चल रहे 'किसान आंदोलन' को लेकर 'BBC एशियन नेटवर्क' के शो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी (माँ की गाली) की गई।

पुलिसकर्मियों ने गर्ल्स हॉस्टल की महिलाओं को नंगा कर नचवाया, वीडियो सामने आने पर जाँच शुरू: महाराष्ट्र विधानसभा में गूँजा मामला

लड़कियों ने बताया कि हॉस्टल कर्मचारियों की मदद से पूछताछ के बहाने कुछ पुलिसकर्मियों और बाहरी लोगों को हॉस्टल में एंट्री दे दी जाती थी।

‘प्राइवेट पार्ट में हाथ घुसाया, कहा पेड़ रोप रही हूँ… 6 घंटे तक बंधक बना कर रेप’: LGBTQ एक्टिविस्ट महिला पर आरोप

LGBTQ+ एक्टिविस्ट और TEDx स्पीकर दिव्या दुरेजा पर पर होटल में यौन शोषण के आरोप लगे हैं। एक योग शिक्षिका Elodie ने उनके ऊपर ये आरोप लगाए।

‘हाथ पकड़ 20 मिनट तक आँखें बंद किए बैठे रहे, किस भी किया’: पूर्व DGP के खिलाफ महिला IPS अधिकारी ने दर्ज कराई FIR

कुछ दिनों बाद उनके ससुर के पास फोन कॉल कर दास ने कॉम्प्रोमाइज करने को कहा और दावा किया कि वो पीड़िता के पाँव पर गिरने को भी तैयार हैं।

‘बिके हुए आदमी हो तुम’ – हाथरस मामले में पत्रकार ने पूछे सवाल तो भड़के अखिलेश यादव

हाथरस मामले में सवाल पूछने पर पत्रकार पर अखिलेश यादव ने आपत्तिजनक टिप्पणी की। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद उनकी किरकिरी हुई।

आगरा से बुर्के में अगवा हुई लड़की दिल्ली के पीजी में मिली: खुद ही रचा ड्रामा, जानिए कौन थे साझेदार

आगरा के एक अस्पताल से हुई अपहरण की यह घटना सीसीटीवी फुटेज वायरल होने के बाद सामने आई थी।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,284FansLike
81,889FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe