Wednesday, May 22, 2024
Homeविविध विषयअन्य12 मई से 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें चलेंगी: सोमवार शाम 4 बजे से रिजर्वेशन,...

12 मई से 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें चलेंगी: सोमवार शाम 4 बजे से रिजर्वेशन, कंफर्म टिकट होने पर ही कर सकेंगे यात्रा

इन ट्रेनों में आरक्षण के लिए बुकिंग 11 मई को शाम 4 बजे से शुरू होगी और केवल IRCTC की वेबसाइट से ही टिकट बुक किए जा सकेंगे। रेलवे स्टेशनों पर टिकट बुकिंग काउंटर बंद रहेंगे और कोई काउंटर टिकट (प्लेटफॉर्म टिकट सहित) जारी नहीं किया जाएगा।

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए‍ 17 मई तक पूरे देश में लॉकडाउन जारी है। लेकिन रेलवे ने 12 मई से ही ट्रेनें चलाने का फैसला किया है। रेलवे चरणबद्ध तरीके से अपनी सेवाएँ शुरू करने की योजना बना रहा है। भारतीय रेलवे की योजना है कि 12 मई से धीरे-धीरे ट्रेनों का संचालन शुरू किया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक 15 जोड़ी ट्रेनों (30 वापसी यात्रा) के साथ इस योजना की शुरुआत की जाएगी। इस दौरान नई दिल्ली स्टेशन से डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, राँची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू तवी को जोड़ने वाली इन ट्रेनों को विशेष ट्रेनों के रूप में चलाया जाएगा।

उसके बाद रेलवे कुछ अन्य मार्गों पर विशेष ट्रेनें संचालित करेगी। हालाँकि यह कोचों की उपलब्धता पर निर्भर करेगा, क्योंकि 20,000 कोचों को कोविड-19 केयर सेंटर के रूप में आरक्ष‍ित किया गया है। प्रतिदिन 300 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाने के लिए भी पर्याप्त संख्या में कोच रिजर्व हैं।

रेल मंत्रालय के अनुसार इन ट्रेनों में आरक्षण के लिए बुकिंग 11 मई को शाम 4 बजे से शुरू होगी और केवल IRCTC की वेबसाइट से ही टिकट बुक किए जा सकेंगे। रेलवे स्टेशनों पर टिकट बुकिंग काउंटर बंद रहेंगे और कोई काउंटर टिकट (प्लेटफॉर्म टिकट सहित) जारी नहीं किया जाएगा।

केवल वैध कंफर्म टिकट वाले यात्रियों को रेलवे स्टेशनों में प्रवेश करने की अनुमति होगी। यात्रियों को प्रवेश के दौरान मास्क अनिवार्य होगा और प्रस्थान के समय स्क्रीनिंग से गुजरना होगा और सिर्फ बिना कोरोना लक्षण वाले व्यक्तियों को ही यात्रा की अनुमति दी जाएगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत की ज्ञानकीर्ति का मुकुटमणि है कश्मीर का शंकराचार्य मंदिर: ईसाई-इस्लाम के आगामी प्रभाव से परिचित थे आचार्य शंकर, जानिए कैसे एक सूत्र में...

वैदिक ऋषियों की वेदोक्त समदृष्टि केवल उपदेश मात्र नही; अपितु यह उनका अनुभव जन्य साक्षात्कृत् ज्ञान है। जो सभी काल, स्थान, परिस्थिति में अनुकरणीय एवं अकाट्य हैं।

फर्जी वोटिंग करते पकड़े गए मोहम्मद सनाउल्लाह और 3 खातूनें, भीड़ ने थाने पर हमला कर सबको छुड़ाया: बिहार के जाले की घटना, 20...

फर्जी वोटिंग में पकड़े गए लोगों को छुड़ाने के लिए 130-140 लोगों ने थाने पर हमला कर दिया और पुलिस पदाधिकारियों के साथ दुर्व्यवहार करते हुए चारों को पुलिस की अभिरक्षा से छुड़ा लिया

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -