Monday, June 17, 2024
Homeविविध विषयअन्यमीराबाई की मदद को PM मोदी जब आए आगे... चानू ने मणिपुर के CM...

मीराबाई की मदद को PM मोदी जब आए आगे… चानू ने मणिपुर के CM को बताया तो वे भी रह गए हैरान

"जब हमने चानू की मदद करने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया तो पीएम मोदी मुस्कुराते रहे। उन्होंने एक और एथलीट की भी मदद की। यह उनकी महानता है।"

टोक्यो ओलंपिक में सिल्वर मेडल हासिल करने वाली मीराबाई चानू की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीधी मदद की थी। मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने इसके बारे में दुनिया को बताते हुए प्रधानमंत्री का आभार जताया है। सिंह के अनुसार जब चानू ने उन्हें इसके बारे में बताया तो वे भी हैरान रह गए थे।

उन्होंने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने टोक्यो ओलंपिक में जाने से पहले दो खिलाड़ियों की अमेरिका में अच्छी मेडिकल केयर और ट्रेनिंग में मदद की थी। इनमें से एक चानू थीं। दूसरे एथलीट का नाम मुख्यमंत्री ने नहीं बताया है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि चानू ने एक सार्वजनिक समारोह में उन्हें प्रधानमंत्री कार्यालय से मिली मदद के बारे में बताया था। सीएम ने कहा कि मैं चानू से प्रधानमंत्री से मिली मदद के बारे में सुनकर हैरान था। चानू ने उनसे बताया कि अगर उन्हें मांसपेशियों के ऑपरेशन और अभ्यास के लिए अमेरिका जाने का मौका नहीं मिलता, तो वह अपने लक्ष्य को हासिल नहीं कर पातीं। उन्होंने बताया कि पीएम मोदी को जैसे ही एथलीट के बारे में पता चला उन्होंने उनके इलाज के लिए तुरंत मदद का हाथ आगे बढ़ाया। सिंह ने कहा कि मणिपुर के लोग यह जानकर बहुत खुश हुए कि पीएम मोदी ने चानू की मदद की।

प्रधानमंत्री से मुलाकात का जिक्र करते हुए सिंह ने बताया, “जब हमने चानू की मदद करने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया तो पीएम मोदी मुस्कुराते रहे। उन्होंने एक और एथलीट की भी मदद की। यह उनकी महानता है।”

सिंह ने कहा, “चानू को पीठ में दर्द की शिकायत थी। यह संदेश जब पीएमओ में मिला, तब पीएम मोदी ने बिना कोई देर किए विदेश में उनके इलाज और ट्रेनिंग पर होने वाले सभी खर्च का जिम्मा लिया।” मणिपुर के मुख्यमंत्री ने कहा, “मुझे बताया गया है कि वह अकेली नहीं हैं, जिसकी पीएम मोदी ने मदद की। प्रधानमंत्री ने कभी भी कहीं भी इसका उल्लेख नहीं किया। मैं नाम नहीं लूँगा, लेकिन एक और एथलीट है जिसे पीएम मोदी ने इलाज और ट्रेनिंग के लिए अमेरिका भेजा था।”

गौरतलब है कि पदक हासिल करने के बाद चानू ने भी पीएम को धन्यवाद कहा था। उन्होंने कहा था, “मैं प्रधानमंत्री और खेल मंत्री को धन्यवाद देना चाहती हूँ कि उन्होंने मुझे बहुत कम समय में अभ्यास के लिए अमेरिका भेजा था। सभी तैयारियों को एक दिन में पूरा किया गया था। उनके कारण ही मुझे अच्छा प्रशिक्षण मिला और मैं पदक जीतने में सफल रही। मेरी सफलता का श्रेय टारगेट ओलंपिक पोडियम जैसी योजनाओं को भी जाता है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बकरों के कटने से दिक्कत नहीं, दिवाली पर ‘राम-सीता बचाने नहीं आएँगे’ कह रही थी पत्रकार तनुश्री पांडे: वायर-प्रिंट में कर चुकी हैं काम,...

तनुश्री पांडे ने लिखा था, "राम-सीता तुम्हें प्रदूषण से बचाने के लिए नहीं आएँगे। अगली बार साफ़-स्वच्छ दिवाली मनाइए।" बकरीद पर बदल गए सुर।

पावागढ़ की पहाड़ी पर ध्वस्त हुईं तीर्थंकरों की जो प्रतिमाएँ, उन्हें फिर से करेंगे स्थापित: गुजरात के गृह मंत्री का आश्वासन, महाकाली मंदिर ने...

गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि किसी भी ट्रस्ट, संस्था या व्यक्ति को अधिकार नहीं है कि इस पवित्र स्थल पर जैन तीर्थंकरों की ऐतिहासिक प्रतिमाओं को ध्वस्त करे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -