Thursday, June 13, 2024
Homeविविध विषयअन्य'मैंने नरेंद्र मोदी का अकाउंट हैक कर लिया है, COVID के लिए इसमें पैसे...

‘मैंने नरेंद्र मोदी का अकाउंट हैक कर लिया है, COVID के लिए इसमें पैसे डालो’ – रात 3:09 से 3:16 के बीच 4 ट्वीट

2-3 सितंबर की रात में 3 बजकर 9 मिनट से 3 बजकर 16 मिनट तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पर्सनल वेबसाइट का टि्वटर अकाउंट हैक रहा। इस दौरान हैकर ने कुल चार ट्वीट किए। इनमें से तीन ट्वीट कोविड-19 रिलीफ फंड के लिए पैसे की माँग को लेकर थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पर्सनल वेबसाइट (www.narendramodi.in) का टि्वटर अकाउंट रात में हैक हो गया था। जॉन विक (John Wick) नाम के हैकर ने अकाउंट हैक करने के बाद कोविड-19 रिलीफ फंड के लिए बिटक्वॉइन में डोनेशन की माँग की।

हैक करने के बाद सबसे पहला ट्वीट
हैकर जॉन विक का दूसरा ट्वीट

2-3 सितंबर की रात में 3 बजकर 9 मिनट से 3 बजकर 16 मिनट तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पर्सनल वेबसाइट का टि्वटर अकाउंट हैक रहा। इस दौरान हैकर ने कुल चार ट्वीट किए। इनमें से तीन ट्वीट कोविड-19 रिलीफ फंड के लिए पैसे की माँग को लेकर थी।

रात के 3:14 पर तीसरा ट्वीट

जॉन विक (John Wick) नाम के हैकर ने हालाँकि चालाकी बहुत दिखाई लेकिन बिटक्वॉइन में डोनेशन की माँग कर वह मूर्खता कर बैठा। आपको बता दें कि भारत में बिटक्वॉइन की कानूनन मान्यता नहीं है। इसलिए संवैधानिक पद (प्रधानमंत्री) की ओर से इस मुद्रा में कोविड-19 रिलीफ फंड के लिए पैसे माँगने पर लोग चौंके और सोशल मीडिया पर उसी तरह के रिएक्शन भी देखने को मिले।

‘हाँ, मैंने यह अकाउंट हैक कर लिया है’

रात के 3 बजकर 16 मिनट पर हैकर जॉन विक ने यह बताया कि उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पर्सनल वेबसाइट का ट्विटर अकाउंट हैक कर लिया है। हालाँकि इसके तुरंत बाद PM मोदी के इस पर्सनल ट्विटर अकाउंट को रिस्टोर किया गया और हैकर द्वारा किए गए सभी ट्वीट्स डिलीट कर दिए गए।

सब कुछ ठीक होने के बाद PM मोदी के पर्सनल वेबसाइट का ट्विटर हैंडल पहले के जैसा

हैकर जॉन विक ग्रुप

पेटीएम मॉल की डेटा चोरी में भी इसी हैकर ग्रुप जॉन विक का नाम आया था। साइबर सिक्योरिटी फर्म साइबल ने तब इस बात का दावा किया था। लेकिन PM मोदी के पर्सनल ट्विटर अकाउंट को हैक करने वाले ने अपने आखिरी ट्वीट में इस बात से इनकार किया है।

ट्विटर और हैकिंग

15 जुलाई को हाई-प्रोफाइल बिजनस लीडर और राजनेताओं के पर्सनल या उनसे संबंधित ट्विटर अकाउंट हैक किए गए थे। ट्विटर के 14 साल के इतिहास में इसे सबसे बड़ा हैकिंग माना गया। इसके बाद ट्विटर ने एक बयान जारी कर कहा था:

“ऐसा कुछ आम हैकरों और इंजिनियरों (social engineering attack) द्वारा एक साथ मिल कर किए गए हैकिंग के कारण हुआ। कुछ लोगों (हैकरों) ने संभवतः हमारे कुछ कर्मचारियों और हमारी आंतरिक प्रणालियों तक अपनी पहुँच बनाने में सफलता पाई। कंपनी (ट्विटर) की आंतरिक प्रणालियों से समझौता हुआ है। इस हैकिंग में ट्विटर यूजर की गलती नहीं है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लड़की हिंदू, सहेली मुस्लिम… कॉलेज में कहा, ‘इस्लाम सबसे अच्छा, छोड़ दो सनातन, अमीर कश्मीरी से कराऊँगी निकाह’: देहरादून के लॉ कॉलेज में The...

थर्ड ईयर की हिंदू लड़की पर 'इस्लाम' का बखान कर धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित किया गया और न मानने पर उसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी गई।

जोशीमठ को मिली पौराणिक ‘ज्योतिर्मठ’ पहचान, कोश्याकुटोली बना श्री कैंची धाम : केंद्र की मंजूरी के बाद उत्तराखंड सरकार ने बदले 2 जगहों के...

ज्तोतिर्मठ आदि गुरु शंकराचार्य की तपोस्‍थली रही है। माना जाता है कि वो यहाँ आठवीं शताब्दी में आए थे और अमर कल्‍पवृक्ष के नीचे तपस्‍या के बाद उन्‍हें दिव्‍य ज्ञान ज्‍योति की प्राप्ति हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -