Thursday, June 13, 2024
Homeविविध विषयअन्य'सुशांत की डायरी के कुछ पन्ने फाड़ डाले': मुंबई पुलिस पर सबूतों से छेड़छाड़...

‘सुशांत की डायरी के कुछ पन्ने फाड़ डाले’: मुंबई पुलिस पर सबूतों से छेड़छाड़ का आरोप

सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में अपने सबमिशन में स्पष्ट कर दिया है कि इस केस को मुंबई पुलिस को ट्रांसफर करने का कोई सवाल ही नहीं उठता, क्योंकि वहाँ अब कुछ भी पेंडिंग नहीं है। रिया चक्रवर्ती ने इसके लिए याचिका डाली हुई है।

सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या मामले में सबूतों से छेड़छाड़ को लेकर मुंबई पुलिस पर एक और आरोप लगा है। सुशांत के चचेरे भाई और विधायक नीरज सिंह बबलू ने मुंबई पुलिस पर डायरी के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। उनका दावा है कि डायरी के कुछ पन्ने फाड़ दिए गए हैं।

बबलू का कहना है कि सुशांत की मौत के बाद उन्होंने ही उसकी डायरी पुलिस को सौंपी थी। उन्होंने कहा कि सुशांत लंबे समय से डायरी लिखा करते थे। इसमें सुशांत के करियर प्लानिंग को लेकर सब कुछ था। वो कैसे हॉलीवुड में एंट्री लेते और फिल्में करते, इस बारे में पूरी योजना थी। उन्होंने कहा कि सुशांत हॉलीवुड मे जाने में सक्षम थे और 100 गरीब बच्चों को NASA में भी भेजना चाहते थे।

सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में अपने सबमिशन में स्पष्ट कर दिया है कि इस केस को मुंबई पुलिस को ट्रांसफर करने का कोई सवाल ही नहीं उठता, क्योंकि वहाँ अब कुछ भी पेंडिंग नहीं है। रिया चक्रवर्ती ने इसके लिए याचिका डाली हुई है। मुंबई पुलिस पर ये भी आरोप लगा है कि उसने न सिर्फ सुशांत सिंह राजपूत के फोन बल्कि अन्य गैजेट्स को भी फोरेंसिक जाँच के लिए भेजने में देरी की।

अब जब उनकी मौत के 2 महीने हो चुके हैं, नित नए खुलासों से मुंबई पुलिस की पोल खुल रही है। उनके फैंस ने आज ‘ग्लोबल प्रेयर्स फॉर SSR’ का भी आयोजन किया। उधर उनकी पूर्व गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे ने इन आरोपों को नकारा है कि सुशांत सिंह राजपूत उनके फ्लैट की EMI भर रहे थे। उन्होंने अपना बैंक स्टैट्मन्ट शेयर कर के दिखाया है कि EMI उनके ही अकाउंट से कट रहा था।

वहीं रिया चक्रवर्ती की कॉल डिटेल्स भी सामने आई है। इससे पता चला है कि 13 जून 2020 की रात रिया ने 5 लोगों को कॉल्स किए थे। 13 जून की शाम रिया ने 7:50 में कास्टिंग डायरेक्टर निशा चिटालिया को कॉल किया था। इस दौरान दोनों के बीच 1 मिनट की बात हुई थी। इसके बाद 8:53 पर रिया ने फिर निशा से बात की और इस दौरान दोनों के बीच 57 सेकेंड बातचीत हुई थी। 

रिया ने 9 बजकर 21 मिनट पर रूपा चड्ढा नामक महिला से फोन पर बातचीत की थी और दोनों की 7 मिनट 8 सेकेंड लंबी बात हुई। अंतिम कॉल रिया ने किसी AU नाम से रजिस्टर्ड नंबर पर कॉल की। दोनों की 1 मिनट 38 सेकेंड बात हुई थी। वहीं सुशांत के एक पूर्व ड्राइवर का चौंकाने वाला बयान आया है, जिसमें उसने दावा किया है कि सुशांत के बीमार रहने पर भी रिया पार्टी किया करती थी।

ड्राइवर ने बताया कि ऐसा उसने लोगों से सुना है कि जब सुशांत बीमार रहते थे, तब भी उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती पार्टियों में मशगूल रहती थी। उन्होंने अपना अनुभव बताते हुए लिखा कि ऐसे ही एक समय वे खुद रिया चक्रवर्ती, शौविक और सुशांत की बहन प्रियंका को पार्टी में लेकर गए थे। हालाँकि, प्रियंका इसके बाद दिल्ली चली गई थी। ड्राइवर ने ये भी बताया कि सुशांत अपनी बहन के काफी करीब थे।

उधर जिया खान की माँ राबिया खान ने सुशांत मामले में सीबीआई जाँच का समर्थन किया है। साथ ही महेश भट्ट को लेकर बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने बताया है कि जिया के अंतिम संस्कार के समय में महेश भट्ट ने उन्हें धमकाने की कोशिश की थी। जिया के अंतिम संस्कार पर भट्ट ने उनको कहा कि उनकी बेटी (जिया) डिप्रेशन में थी। उन्होंने इसका खंडन किया। लेकिन भट्ट ने उनसे कहा, “तुम चुप हो जाओ वरना तुम्हें भी इंजेक्शन देकर सुला देंगे।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -