Wednesday, November 30, 2022
Homeदेश-समाज'अब PM और मंत्रालय का मिलता है साथ': पूर्व एथलीट अंजू बॉबी जॉर्ज ने...

‘अब PM और मंत्रालय का मिलता है साथ’: पूर्व एथलीट अंजू बॉबी जॉर्ज ने मोदी सरकार Vs पहले की सरकार का बताया राज

अंजू बॉबी जॉर्ज ने कहा कि उनके समय में तो वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी मेडल जीतने पर देश तो सेलिब्रेट करता था लेकिन खेल मंत्रालय ऐसा दिखाता था जैसे ये कोई बड़ी बात नहीं। अब शुरू से सरकार खिलाड़ियों के साथ होती है। उनकी तैयारी के दौरान भी।

टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रदर्शन शानदार रहा है। न सिर्फ हमारे 127 खिलाड़ियों ने इस बार टूर्नामेंट में हिस्सा लिया, बल्कि 7 मेडल जीत कर भारत ने पिछले रिकॉर्ड तोड़ डाले। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खुद हर एक खिलाड़ी के प्रदर्शन पर नजर थी और कभी हमने उन्हें सेमीफाइनल में हार के बाद भारतीय महिला हॉकी टीम को सांत्वना देते देखा तो कभी स्वर्ण पदक जीतने पर नीरज चोपड़ा को बधाई देते। पूर्व एथलिट अंजू बॉबी जॉर्ज ने भारत के खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर अपनी बात रखी है।

अंजू बॉबी जॉर्ज ने अपने अनुभव साझा करते हुए कहा कि आज पहली बार ऐसा हो रहा है जब केंद्र सरकार इस तरह से खिलाड़ियों को प्रोत्साहित कर रही है, वरना उनके समय में तो वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी मेडल जीतने पर देश तो सेलिब्रेट करता था लेकिन खेल मंत्रालय ऐसा दिखाता था जैसे ये कोई बड़ी बात नहीं। उन्होंने कहा कि अब प्रधानमंत्री खुद टूर्नामेंट से पहले खिलाड़ियों से एक-एक कर बात करते हैं और उन्हें प्रोत्साहित करते हैं।

‘अर्जुन अवॉर्ड’, ‘मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवॉर्ड’, ‘पद्म श्री’ और ‘BBC लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड’ से सम्मानित अंजू बॉबी जॉर्ज आज भारतीय स्पोर्ट्स को लेकर सरकार के रुख में काफी बदलाव देखने को मिल रहा है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार में खेल मंत्री खुद खिलाड़ियों पर ध्यान देते हैं। उन्होंने बताया कि मोदी सरकार में खेल मंत्री रहे किरण रिजिजू खुद खेल के क्षेत्र से थे और जब भी ज़रूरत होती थी, वो उपस्थित रहते थे।

उन्होंने बताया कि नए खेल मंत्री अनुराग ठाकुर भी खिलाड़ियों की ज़रूरतों को समझते हैं। 2003 में पेरिस में हुए एथलेटिक्स के वर्ल्ड चैंपियनशिप में लॉन्ग जम्प में कांस्य पदक जीतने वाली अंजू बॉबी जॉर्ज ने कहा कि ऐसा नहीं है कि आज की सरकार सिर्फ मेडल जीतने पर ही खिलाड़ियों को प्रोत्साहित कर रही है, बल्कि वो शुरुआत से उनके साथ हैं। उनकी तैयारी के दौरान भी उनकी मदद की जाती है।

अंजू बॉबी जॉर्ज ने 31 जुलाई, 2021 को टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर की थी बात

उन्होंने बताया कि किस तरह खिलाड़ियों को सरकार और खेल मंत्रालय से उम्मीद होती है कि वो उनका साथ दें। उन्होंने कहा कि इसके परिणाम देखने को भी मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि जमीनी स्तर पर भी योजनाएँ बन रही हैं और अभी से 2028 और 2032 के ओलंपिक की तैयारी हो रही है। बकौल अंजू बॉबी जॉर्ज, इस तरह का समर्थन मिलता रहा तो भारत का प्रदर्शन और शानदार होता जाएगा।

कैसे व्यवस्था बदली है, इस पर ‘सोनी स्पोर्ट्स इंडिया’ से बात करते हुए अंजू बॉबी जॉर्ज ने कहा कि जब सिस्टम में स्पोर्ट्समेन को पद दिया जाता है तो वो जानते हैं कि कैसे बदलाव लाया जा सकता है। जैसे, राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने खेल मंत्री रहते कई योजनाएँ लागू की। उन्होंने कहा कि खेल संघों व प्रशासन में और खिलाड़ियों की ज़रूरत है, ऐसा अमेरिका जैसे देशों में भी हो रहा। अंजू बॉबी जॉर्ज खुद ‘टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम’ की अध्यक्ष हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मौलाना साद को सौंपी जाए निजामुद्दीन मरकज की चाबियाँ’: दिल्ली HC के आदेश पर पुलिस को आपत्ति नहीं, तबलीगी जमात ने फैलाया था कोरोना

दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को तबलीगी जमात के निजामुद्दीन मरकज की चाबी मौलाना साद को सौंपने की हिदायत दी। पुलिस ने दावा किया है कि वह फरार है।

e₹-R के लिए हो जाइए तैयार, डिजिटल रुपए के लॉन्च के लिए तैयार है रिजर्व बैंक: इन 8 बैंकों से होगी लेनदेन की शुरुआत,...

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने गुरुवार (1 दिसबंर, 2022) से रिटेल डिजिटल रुपए (Digital Rupee) या ई-रुपी (e₹-R) को लॉन्च करने का ऐलान किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,110FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe