Tuesday, July 23, 2024
Homeविविध विषयअन्यपुलवामा बलिदानियों के परिवार की ज़िम्मेदारी संभालेगा रिलायंस, लद्दाख में करेंगे बड़ा निवेश: अम्बानी

पुलवामा बलिदानियों के परिवार की ज़िम्मेदारी संभालेगा रिलायंस, लद्दाख में करेंगे बड़ा निवेश: अम्बानी

मुकेश अम्बानी ने वादा किया कि वे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए एक स्पेशल टास्क फाॅर्स का गठन करेंगे जो क्षेत्र के विकास कार्यों को बढ़ावा देने की योजनाएँ तैयार करेंगे। अम्बानी ने कहा कि आने वाले दिनों में दोनों केंद्र शासित प्रदेशों के लिए रिलायंस परिवार की तरफ से कई बड़ी घोषणाएँ की जाएँगी।

रिलायंस समूह के चेयरमैन मुकेश अम्बानी ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में निवेश को लेकर योजनाएँ तैयार करने की बात कही है। अम्बानी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में उद्योग स्थापित करने और रोजगार को बढ़ावा देने का जो स्वप्न देखा है, रिलायंस परिवार उसे पूरा करने में सहयोग करने के लिए प्रतिबद्ध है। अम्बानी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की जनता व क्षेत्र के विकास की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए वह प्रतिबद्ध हैं।

भारत के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अम्बानी ने वादा किया कि वे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए एक स्पेशल टास्क फाॅर्स का गठन करेंगे जो क्षेत्र के विकास कार्यों को बढ़ावा देने की योजनाएँ तैयार करेंगे। अम्बानी ने कहा कि आने वाले दिनों में दोनों केंद्र शासित प्रदेशों के लिए रिलायंस परिवार की तरफ से कई बड़ी घोषणाएँ की जाएँगी। ज्ञात हो कि अगस्त 8, 2019 को राष्ट्र के नाम सम्बोधन में पीएम मोदी ने जम्मू कश्मीर और लद्दाख के विकास के लिए कंपनियों से आगे आने की अपील की थी।

प्रधानमंत्री ने कंपनियों ने कहा था कि वे दोनों केंद्र शासित प्रदेशों की जनता के लिए नए अवसर पैदा करें। मुकेश अम्बानी ने एक और बड़ी घोषणा करते हुए पुलवामा हमले में वीरगति को प्राप्त जवानों के बच्चों की शिक्षा-दीक्षा की ज़िम्मेदारी लेने की बात कही। मुकेश अम्बानी ने कहा कि पुलवामा के बलिदानियों के सम्मान में रिलायंस परिवार ने उनके परिवार की आजीविका व उनके बच्चों की शिक्षा-दीक्षा की ज़िम्मेदारी लेने का निर्णय लिया है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अम्बानी ने उक्त बातें कम्पनी की 42वीं जनरल एनुअल मीटिंग (AGM) में कही। अम्बानी ने देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में रिलायंस द्वारा बड़ा योगदान देने का वादा किया। जब मुकेश अम्बानी ने बैठक को सम्बोधित करते हुए पुलवामा का जिक्र किया तब पूरा हॉल तालियों की गड़गड़ाहट से गूँज उठा।

रिलायंस की 42वीं वार्षिक बैठक के दौरान मुकेश अम्बानी का पूरा सम्बोधन

रिलायंस की जिओफाइबर योजना की बात करते हुए मुकेश अम्बानी ने कहा कि इसके लिए 1600 शहरों से 1.5 करोड़ से भी ज्यादा लोगों ने रजिस्टर किया है। अम्बानी के अनुसार, जिओफाइबर के जरिए 1 जीबी प्रति सेकेण्ड की दर से डेटा स्पीड मिलेगी। अम्बानी ने जिओ सेट-अप-बॉक्स लॉन्च करने की घोषणा की। अम्बानी ने कहा कि 2030 तक भारत 10 ट्रिलियन डॉलर की विशाल अर्थव्यवस्था बन सकता है और इस लक्ष्य को प्राप्त करना संभव है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेचुरल फार्मिंग क्या है, बजट में क्यों इसे 1 करोड़ किसानों से जोड़ने का ऐलान: गोबर-गोमूत्र के इस्तेमाल से बढ़ेगी किसानों की आय

प्राकृतिक खेती एक रसायनमुक्त व्यवस्था है जिसमें प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल किया जाता है, जो फसलों, पेड़ों और पशुधन को एकीकृत करती है।

नारी शक्ति को मोदी सरकार ने समर्पित किए ₹3 लाख करोड़: नौकरी कर रहीं महिलाओं और उनके बच्चों के लिए भी रहने की सुविधा,...

बजट में महिलाओं की हिस्सेदारी कार्यबल में बढ़ाने पर काम किया गया है। इसके अलावा कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रावास स्थापित करने का भी ऐलान हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -