Tuesday, July 5, 2022
Homeविविध विषयअन्यविनय प्रकाश बने ट्विटर के शिकायत अधिकारी, हाईकोर्ट की फटकार के बाद कंपनी आई...

विनय प्रकाश बने ट्विटर के शिकायत अधिकारी, हाईकोर्ट की फटकार के बाद कंपनी आई रास्ते पर

अब आप अपनी शिकायतें [email protected] पर भेज सकते हैं। दिल्ली हाईकोर्ट में कंपनी ने कहा था कि नए आईटी नियमों के तहत शिकायत अधिकारी 11 जुलाई को या उससे पहले नियुक्त कर लिया जाएगा।

ट्विटर ने विनय प्रकाश को भारत के लिए कंपनी का रेजिडेंस शिकायत अधिकारी (resident grievance officer) नियुक्त किया है। साथ ही विभिन्न मामलों में ट्विटर अकाउंट्स के खिलाफ की गई कार्रवाई पर एक मासिक रिपोर्ट भी जारी की है। कंपनी की वेबसाइट पर यह जानकारी दी गई है। वेबसाइट में दी गई जानकारी के मुताबिक आप अपनी शिकायतें [email protected] पर भेज सकते हैं।

हाईकोर्ट ने लगाई थी फटकार

दिल्ली हाईकोर्ट में गुरुवार (जुलाई 8, 2021) को कंपनी ने कहा था नए आईटी नियमों के तहत शिकायत अधिकारी (Resident Grievance Officer) की नियुक्ति प्रक्रिया में है और 11 जुलाई को या उससे पहले ऐसा करने की उम्मीद करता है।

बता दें कि दिल्ली हाईकोर्ट ने गुरुवार को ट्विटर कंपनी को नए आईटी नियमों का पालन करने को लेकर अमेरिका में अनुप्रमाणित शपथ पत्र दायर करने के लिए दो हफ्ते का समय दिया। साथ ही साफ किया था कि वह माइक्रोब्लॉगिंग साइट को नियम के खिलाफ किसी तरह की सुरक्षा प्रदान नहीं की जा रही है। हाईकोर्ट ने कहा कि केंद्र सरकार नए आईटी नियमों के किसी भी उल्लंघन की स्थिति में ट्विटर के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए स्वतंत्र है।

भारत में नए आईटी नियमों का अनुपालन करने में विफल रहने की वजह से ट्विटर लगातार विवादों के घेरे में थी। नए आईटी नियमों के तहत 50 लाख से अधिक यूजर्स वाली सोशल मीडिया कंपनियों को तीन महत्वपूर्ण नियुक्तियाँ- मुख्य अनुपालन अधिकारी, नोडल अधिकारी और शिकायत अधिकारी की नियुक्ति करने की जरूरत है। ये तीन अधिकारी भारत के निवासी होने चाहिए।

कंपनी ने 26 मई 2021 से 25 जून 2021 के लिए अपनी अनुपालन रिपोर्ट भी प्रकाशित की है। 26 मई से लागू हुए नए आईटी नियमों के तहत यह एक और अनिवार्यता है। इससे पहले ट्विटर ने आईटी नियमों के तहत धर्मेंद्र चतुर को भारत के लिए अपना अंतरिम निवासी शिकायत अधिकारी नियुक्त किया था। चतुर ने पिछले महीने इस्तीफा दे दिया था। ट्विटर के भारत में करीब 1.75 करोड़ यूजर्स हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चित्रकूट में ‘कोदंड वन’ की स्थापना, CM योगी ने हरिशंकरी का पौधा लगाकर की शुरुआत: श्रीराम की तपोभूमि में लगेंगे 35 करोड़ पौधे

सीएम योगी ने 124 करोड़ रुपए की 28 योजनाओं का शिलान्यास और 15 योजनाओं का लोकार्पण करते हुए कहा कि गोस्वामी तुलसीदास व महर्षि वाल्मीकि की धरती पर धार्मिक व पर्यटन विकास में कोताही नहीं होगी।

‘सोशल मीडिया की जवाबदेही तय होगी’: मोदी सरकार के खिलाफ कोर्ट पहुँचा ट्विटर, नहीं हटा रहा भड़काऊ और झूठे कंटेंट्स

कर्नाटक हाईकोर्ट में ट्विटर ने सरकार के आदेशों को चुनौती दे दी है। नए आईटी नियमों को मानने में भी सोशल मीडिया कंपनी ने खासी आनाकानी की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,707FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe