Sunday, June 16, 2024
Homeविविध विषयअन्यस्टंप माइक पर विराट कोहली की हरकत से उखड़े गौतम गंभीर, कहा- आप आदर्श...

स्टंप माइक पर विराट कोहली की हरकत से उखड़े गौतम गंभीर, कहा- आप आदर्श नहीं हो सकते: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट में DRS पर विवाद

DRS कॉल के बाद टीवी एंपायर द्वारा एल्गार को नॉट आउट करार दिए जाने के बाद विराट कोहली ने स्टंप माइक के पास आकर कहा था, “अपनी टीम पर भी ध्यान दें, सिर्फ विरोधी टीम पर ही नहीं। हर समय लोगों को पकड़े रहने का प्रयास करते रहते हो।”

साउथ अफ्रीका के ख़िलाफ़ केप टाउन में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन हुए डीआरएस/DRS (डिसिजन रिव्यू सिस्टम) विवाद के चलते विराट कोहली से पूर्व क्रिकेटर्स नाराज हैं। इसी क्रम में गौतम गंभीर ने भी उन पर अपना गुस्सा निकाला है। भारतीय पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर ने टेस्ट मैच कप्तान विराट कोहली को DRS कॉल विवाद के चलते अपरिपक्व कहा।

दरअसल, मैच के तीसरे दिन साउथ अफ्रीका खिलाड़ी डीन एल्गार को टीवी एंपायर द्वारा नॉट आउट करार दिए जाने पर भारतीय टीम के कई खिलाड़ी नाराज हो गए थे। सबने स्टंप माइक के सामने अपना गुस्सा निकाला था। विराट कोहली ने भी स्टंप माइक के पास आकर कहा था, “अपनी टीम पर भी ध्यान दें, सिर्फ विरोधी टीम पर ही नहीं। हर समय लोगों को पकड़े रहने का प्रयास करते रहते हो।”

इसी टिप्पणी पर गंभीर ने भारतीय कप्तान को कहा कि वो इस तरह की हरकतें करके कभी भी युवाओं के लिए प्रेरणा नहीं बन पाएँगे। स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए गंभीर ने कहा, “कोहली बहुत अपरिपक्‍व हैं। भारतीय कप्‍तान के लिए स्‍टंप्‍स पर इस तरह की बात करना बहुत गलत है। ऐसा करके आप कभी युवाओं के आदर्श नहीं बन सकते। पहली पारी में विकेटकीपर कैच वाला मामला 50-50 था, तब आप चुप थे और मयंक अपील कर रहे थे। मेरे ख्‍याल से द्रविड़ को इस मामले में कोहली से बातचीत करना चाहिए।”

गंभीर के अलावा आकाश चोपड़ा ने भी इस मामले में कोहली का बर्ताव देख अपनी बात रखी और पूछा, “आपको आवाज उठाने का अधिकार है लेकिन क्या यह सही तरीका है। मैं 100 प्रतिशत निश्चित नहीं हूँ क्योंकि मोर्ने मोर्कल (सह-पैनलिस्ट) ने बताया कि बहुत सारे बच्चे खेल देख रहे हैं और वे वास्तव में DRS, एंपायरों के बारे में एक राय बना सकते हैं।”

बता दें कि एल्गार के आउट होने के बावजूद जब टीवी एंपायर द्वारा उन्हें नॉट आउट करार दिया गया तो इससे भारतीय क्रिकेट टीम नाराज हो गई। विराट की तरह उप-कप्तान के एल राहुल ने भी स्टंप के पास आकर कहा, “’पूरा देश मिलकर 11 खिलाड़ियों के खिलाफ खेल रहा है।” इससे पहले अश्विन अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कह चुके थे कि जीतने के लिए सुपरस्पोर्ट को दूसरे तरीके ढूँढना चाहिए।

पूरा मामला

साउथ अफ्रीका के साथ तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन 21 वें ओवर में रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर डीन एल्गार को फील्ड एंपायर मराइस ने LBW ऑउट दिया था। रिप्ले में साफ लग रहा था कि गेंद स्टंप पर लग सकती थी। हालाँकि, बावजूद इसके अफ्रीकी कप्तान ने DRS ले लिया और टीवी एंपायर ने भी उन्हें नॉटआउट कह दिया। इसी बात पर भारतीय क्रिकेट टीम नाराज हो गई और माइक के पास आकर अपना गुस्सा निकालने लगी। टीम का यही गुस्सा पूर्व क्रिकेटर्स को नहीं भाया और उन्हें कप्तान के बचकाने बर्ताव पर अपनी नाराजगी दिखाई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -