Monday, May 16, 2022
Homeविविध विषयविज्ञान और प्रौद्योगिकीट्विटर की मुफ्त सेवा कुछ लोगों के लिए होगी समाप्त: एलन मस्क ने ऐलान...

ट्विटर की मुफ्त सेवा कुछ लोगों के लिए होगी समाप्त: एलन मस्क ने ऐलान करके कहा- ‘देने पड़ेंगे पैसे’

एलन मस्क ने अपने ट्वीट में लिखा, "सामान्य यूजर के लिए ट्विटर हमेशा मुफ्त रहेगा। लेकिन हो सकता है कि इसका कमर्शियल और सरकारी प्रयोग करने वालों को इसकी कीमत देनी पड़े।"

ट्विटर के बिकने के बाद इसमें होने वाले बदलावों पर लगातार जानकारियाँ सामने आ रही हैं। ताजा खबर के मुताबिक आने वाले समय में ट्विटर को इस्तेमाल कर पाना कुछ लोगों के लिए मुफ्त नहीं होगा और इसकी कीमत उन्हें ट्विटर को देनी होगी।

एलन मस्क ने 4 मई को किए अपने ट्वीट में जानकारी दी कि ट्विटर कमर्शियल इस्तेमाल और सरकारी उपभोक्ताओं के लिए थोड़ी कीमत तय करेगा। उनके अलावा कैजुअल यूजर्स के लिए ट्विटर की सेवा बिलकुल फ्री होगी। उन्होंने लिखा, “सामान्य यूजर के लिए ट्विटर हमेशा मुफ्त रहेगा। लेकिन हो सकता है कि इसका कमर्शियल और सरकारी प्रयोग करने वालों को इसकी कीमत देनी पड़े।”

इस ट्वीट के बाद कई लोग एलन मस्क से नाराजगी व्यक्त कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर कुछ लोग एलन के फैसले की आलोचना करने वालों की प्रतिक्रिया का मखौल उड़ा रहे हैं। उनका कहना है कि एलन मस्क वामपंथियों के लिए नए ट्रंप बनते जा रहे हैं।

बता दें कि टेस्ला कंपनी के प्रमुख एलन मस्क ट्विटर को खरीदने के बाद इसमें बदलावों की ओर ज्यादा फोकस कर रहे हैं। पहले उनके ट्विट्स ने ये साफ किया कि कैसे वो ट्विटर की पुरानी पॉलिसी के विरुद्ध हैं जहाँ सही स्टोरी दिखाने पर भी मीडिया संस्थान को ब्लॉक कर दिया जाता था। उसके बाद पता चला कि वो ट्विटर में जल्द ही एडिट बटन जैसे फीचर लाने पर काम कर रहे हैं। इसके बाद खबर आई कि एलन मस्क ट्विटर की मैनेजमेंट टीम से खुश नहीं है, इसलिए उनके आधिकारिक तौर पर मालिक बनने के बाद टीम बदली जाएगी।

एलन मस्क ने कंपनी के सीईओ को बदलने का मन भी बनाया हुआ है। खबरों में दावा किया जा रहा है कि उन्होंने पराग अग्रवाल की रिप्लेसमेंट भी ढूँढनी शुरू कर दी है। उनके अलावा ट्विटर की लीगल हेड व ट्रंप का अकॉउंट बैन करवाने वाली विजया गड्डे भी कंपनी से निकाली जाएँगी। हाल में उन्हें अपनी टीम के साथ इस मुद्दे पर चर्चा के दौरान सिसकते देखा गया था। उन्होंने मस्क के हाथों में कंपनी जाने के बाद इसके भविष्य़ पर चिंता जताई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CRPF करेगी ज्ञानवापी में मिले शिवलिंग की सुरक्षा, अदालत ने सील की जगह, वजू पर मनाही: जैसे ही दिखे बाबा, ‘हर-हर महादेव’ से गूँजा...

सर्वे के तीसरे दिन हिन्दू पक्ष की तरफ से सोमवार को करीब 12 फीट 8 इंच लंबा शिवलिंग नंदी के सामने विवादित ढाँचे के वजूखाने में मिलने का दावा किया गया है।

राहुल भट की 5 साल पहले की फेसबुक पोस्ट – ‘हम मुस्लिम हैं, रोहिंग्या मुस्लिमों की हत्या बंद करो’, ‘संघी’ और ‘भारतीय एजेंट’ बता...

तस्वीर के वायरल होने के बाद कहा जा रहा है कि राहुल भट रोहिंग्या मुस्लिम को बचाना चाहते थे, मगर वह खुद इस्लामी आतंकियों के शिकार हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,091FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe