Tuesday, September 27, 2022
Homeदेश-समाजबिजली को लेकर मुजफ्फरनगर में दो पक्ष भिड़े, ग्राम प्रधान फजरूद्दीन और उसका बेटा...

बिजली को लेकर मुजफ्फरनगर में दो पक्ष भिड़े, ग्राम प्रधान फजरूद्दीन और उसका बेटा असलान गिरफ्तार

एसएसपी ने बताया कि कुछ लोगों ने एक खास क्षेत्र की बिजली आपूर्ति बंद कर दी थी, जिसके कारण झड़प हुई। तनाव को देखते हुए गाँव में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और अतिरिक्त पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के तुल्हेड़ी गाँव में मामूली बात को लेकर दो पक्षों के बीच झड़प में 10 लोग घायल हो गए। ग्राम प्रधान फजरुद्दीन और उसके बेटे असलान को घटना के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने रविवार (सितंबर 8, 2019) को इसकी जानकारी दी।

घटना शनिवार (सितंबर 7, 2019) रात की है। रिपोर्ट्स के अनुसार, एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच बिजली की आपूर्ति को लेकर झड़प हुई। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने एक खास क्षेत्र की बिजली आपूर्ति बंद कर दी थी। जब उस पक्ष के लोगों ने इस पर आपत्ति जताई तो दोनों पक्षों के बीच झड़प हो गई। झड़प में तकरीबन 10 लोग घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल ले जाया गया है।

एसएसपी ने कहा कि घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस की एक टीम मौके पर पहुँची और स्थिति को नियंत्रण में किया। उन्होंने बताया कि तनाव को कम करने के लिए गाँव में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और अतिरिक्त पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

इसके साथ ही मुजफ्फरनगर में ही एक अन्य घटना में पुलिस ने रविवार (सितंबर 8, 2019) दोपहर को छापा मारा और अवैध शराब का निर्माण करने वाली दो कंपनियों को सील कर दिया। पुलिस ने एक सिविल लाइंस में और दूसरा छपार में स्थित शराब की दुकान पर छापा मारा। पहली छापेमारी सिविल लाइंस थाने के अंतर्गत सुजरु चुंगी के पास हुई थी। मुखबिर द्वारा सूचना मिलने के बाद सिविल लाइंस पुलिस की टीम ने परिसर में छापा मारा और अवैध शराब बनाने और बेचने के आरोप में 5 लोगों को गिरफ्तार किया।

खबर के मुताबिक, आरोपितों की पहचान नौशाद, बारू, तालिब, इमरान और शहजाद के रूप में हुई। वे हरियाणा से शराब की तस्करी करते थे, इसे पानी और यूरिया के साथ मिलाते थे और महंगे ब्रांड के बोतलों में भरकर बेचते थे। वहीं, दूसरी जगह छपार में छापेमारी के दौरान रामदास और रणवीर को गिरफ्तार किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पुलकित के रिजॉर्ट में चलता था जिस्मफरोशी, नशे का कारोबार… अंकिता को ज्वाइंट रूम में शिफ्ट करने को कहा था: पूर्व कर्मचारियों का खुलासा

"(पुलकित) आर्य VIP गेस्ट को लाता था और लड़कियों को उन्हें एक्स्ट्रा सर्विस देने के लिए कहता था। यहाँ उन्हें ड्रग्स, महँगी शराब परोसी जाती थी।”

‘भारत जोड़ो यात्रा’ छोड़ कर दिल्ली पहुँचे कॉन्ग्रेस के महासचिव, कमलनाथ-प्रियंका से भी मिलीं सोनिया गाँधी: राजस्थान के बागी बोले- सड़कों पर बहा सकते...

राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच कॉन्ग्रेस हाईकमान के सामने मुश्किल खड़ी हो गई है। वेणुगोपाल और कमलनाथ दिल्ली पहुँच गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,450FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe