Friday, July 30, 2021
Homeदेश-समाजअलीगढ़ के बाद उन्नाव में मासूम की ईंट से कूचकर हत्या, रेप की आशंका

अलीगढ़ के बाद उन्नाव में मासूम की ईंट से कूचकर हत्या, रेप की आशंका

अलीगढ़ की घटना से सबक लेते हुए तत्काल पुलिस सक्रीय हो गई है। सूचना मिलने पर सफीपुर कोतवाली पुलिस के अलावा एसपी व एएसपी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुँच गए।

अलीगढ़ के बाद यूपी के उन्नाव से शुक्रवार (जून 21, 2019) देर रात दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है, जहाँ एक 11 वर्षीय नाबालिक बच्ची का रेप करने के बाद ईंट से कूँच-कूँच कर हत्या कर दी गई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आरोपित बच्ची का रिश्ते में चाचा बताया जा रहा है। मामलें में पॉक्सो और सम्बंधित धाराओं में फिलहाल FIR दर्ज कर लिया गया है।

रिपोर्ट के अनुसार, सफीपुर के देवगाँव में घर के बाहर सो रही 11 वर्ष की बच्ची को रात के अंधेरे का फायदा उठाकर एक युवक उसे उठा ले गया और घर से करीब 50 कदम दूरी पर बच्ची के चेहरे पर कई वार कर मौत के घाट उतार दिया। सुबह बच्ची के घर पर ना होने से परिजन परेशान हो गए। खोजबीन के दौरान घर के पीछे ही एक बाग़ में बच्ची को नग्न अवस्था में व चेहरा बुरी तरह कुचला देखकर चारों तरफ मातम का माहौल है। बच्ची की स्थिति देखकर उससे दुष्कर्म की आशंका भी जताई जा रही है।

रिपोर्ट के अनुसार, अलीगढ़ की घटना से सबक लेते हुए तत्काल पुलिस सक्रिय हो गई है। सूचना मिलने पर सफीपुर कोतवाली पुलिस के अलावा एसपी व एएसपी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुँच गए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जाँच पड़ताल शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि बच्ची के गर्दन, चेहरे और प्राइवेट पार्ट पर गहरे जख्म के निशान पाए गए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने कहा है कि बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या में रिश्ते के चाचा के शामिल होने के शुरूआती साक्ष्य मिले हैं जो फरार है और जिसकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के अनुसार, उन्नाव एसपी एमपी वर्मा ने टीमें गठित कर मामले के जल्द खुलासे की बात कही है। वही आईजी जोन ने घटना स्थल का निरीक्षण कर आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया है। हालाँकि, बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ है कि नहीं के सवाल पर आईजी ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद ही कुछ भी बताने की बात कही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,052FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe