Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाज24 मजदूरों की मौत, 15 गंभीर: औरैया हादसे पर CM योगी ने आईजी से...

24 मजदूरों की मौत, 15 गंभीर: औरैया हादसे पर CM योगी ने आईजी से माँगी रिपोर्ट

औरैया में तड़क दो ट्रकों की टक्कर हो गई। एक पर मजदूर सवार थे जो राजस्थान से बि​हार और झारखंड जा रहे थे। CM योगी ने पीड़ितों को हरसंभव मदद और जिम्मेदारों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

उत्तर प्रदेश के औरैया में शनिवार (मई 16, 2020) तड़के एक भीषण सड़क हादसा हुआ। हादसे में 24 मजदूरों की मौत हो गई। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Aditynath) हादसे पर कानपुर रेंज के कमिश्नर और आईजी से रिपोर्ट तलब की है।

हादसे के शिकार मजदूर लॉकडाउन के बीच एक ट्रक पर सवार होकर घर लौट रहे थे। औरैया के पास उनकी ट्रक की टक्कर एक अन्य ट्रक से हो गई।

योगी आदित्यनाथ ने औरैया में हुए हादसे का संज्ञान लेते हुए जान गँवाने वाले मजदूरों के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। साथ ही मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि सभी घायलों को तुरंत चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाए।

इसके साथ ही उन्होंने कमिश्नर और कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल को घटनास्थल का दौरा कर दुर्घटना के कारणों की तत्काल रिपोर्ट देने को कहा है। उन्होंने का कि जो लोग भी इसके जिम्मेदार पाए जाएँगे, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

हादसे पर सीएम योगी ने दुख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, ”जनपद औरैया में सड़क दुर्घटना में प्रवासी कामगारों/श्रमिकों की मृत्यु दुर्भाग्यपूर्ण एवं दुःखद है। मेरी संवेदनाएँ मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं। पीड़ितों को हरसंभव राहत प्रदान करने, घायलों का समुचित उपचार कराने व दुर्घटना की त्वरित जाँच करवाने के निर्देश भी दिए गए हैं।”

इस घटना को लेकर औरैया के डीएम अभिषेक सिंह ने बताया कि हादसा सुबह करीब 3:30 बजे हुआ। 24 लोगों की मौत हो गई है और लगभग 15-20 लोगों को चोटें आई हैं। उनमें से अधिकांश बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल हैं।

औरैया की चीफ मेडिकल ऑफिसर (CMO) अर्चना ​श्रीवास्तव ने जानकारी देते हुए बताया कि 24 लोगों की मौत हो चुकी है। 22 लोग अस्पताल में भर्ती हैं, जिनमें से 15 लोगों की हालत गंभीर हैं। उन्हें सैफई PGI रेफर किया गया है। ये सभी राजस्थान से बिहार और झारखंड जा रहे थे।

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मजदूरों के पलायन को लेकर दी गई हिदायत के महज 12 घंटे बाद ही ये हादसा हो गया। शुक्रवार (मई 15, 2020) को ही मुख्यमंत्री ने सख्त हिदायत दी थी कि कोई भी मजदूर पैदल या असुरक्षित तरीके से यात्रा न करें।

इसको लेकर अधिकारियों को भी निर्देश जारी किए गए थे। साथ ही सीएम ने ये भी कहा था कि ट्रकों में भरकर मजदूरों को ले जाने वालों पर भी सख्त कार्रवाई होगी।

इससे पहले गुरुवार को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में एक दर्दनाक सड़क हादसे में बिहार के 6 मजदूरों की मौत हो गई थी। ये सभी मजदूर बिहार के गोपालगंज, आरा और पटना के रहने वाले थे।

वहीं बुधवार को मध्य प्रदेश के गुना में हुए एक ऐसे ही सड़क हादसे में आठ मजदूरों की जान चली गई, जबकि 50 से ज्यादा घायल हो गए। पिछले दिनों महाराष्ट्र के औरंगाबाद में भी ट्रेन ट्रैक पर सो जाने की वजह से 17 प्रवासी मजदूरों की जान चली गई थी

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,052FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe