Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजउत्तर प्रदेश: शामली में लॉकडाउन का उल्लंघन कर 'निकाह का मुद्दा' सुलझाने के लिए...

उत्तर प्रदेश: शामली में लॉकडाउन का उल्लंघन कर ‘निकाह का मुद्दा’ सुलझाने के लिए बुलाई पंचायत, 28 गिरफ्तार

आरोपित जलालाबाद शहर का रहने वाला है। कथित तौर पर खुर्शीद कुरैशी द्वारा अपने बेटे जावेद के निकाह को रद्द कर दिए जाने के बाद वो क्रोधित था। खुर्शीद कुरैशी के बेटे जावेद की शादी 22 अप्रैल को पड़ोसी गाँव में होने वाली थी कि.....

उत्तर प्रदेश के शामली जिले में लॉकडाउन का उल्लंधन कर पंचायत में हिस्सा लेने के आरोप में 28 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि ये पंचायत इसलिए बुलाई गई थी, ताकि गाँव के एक शख्स को लेकर यह तय किया जा सके कि उसका बहिष्कार किया जाए या नहीं।

जानकारी के मुताबिक आरोपित जलालाबाद शहर का रहने वाला है। कथित तौर पर खुर्शीद कुरैशी द्वारा अपने बेटे जावेद के निकाह को रद्द कर दिए जाने के बाद वो क्रोधित था। खुर्शीद कुरैशी के बेटे जावेद की शादी 22 अप्रैल को पड़ोसी गाँव में होने वाली थी।

आरोपित ने खुद को ठगा हुआ महसूस करते हुए आरोप लगाया कि कुरैशी ने बिना उसे सूचना दिए जान-बूझकर अपने बेटे की निकाह रद्द करवाकर किसी और परिवार में उसकी शादी तय कर दी।

हालाँकि, शामली के कुरैशी के परिवार ने कहा कि पुलिस ने उन्हें समारोह के लिए अनुमति नहीं दी, जबकि पुलिस ने दावा किया कि उनसे कोई संपर्क नहीं किया गया था।

डीएसपी अमित सक्सेना ने इस बाबत कहा कि एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें कई लोगों को विवाह विवाद को सुलझाने के लिए बुलाई गई सामुदायिक पंचायत में भाग लेते देखा गया था। इस सभा में अचानक से अपने बेटे जावेद का विवाह कैंसिल कर देने की वजह से खुर्शीद कुरैशी के खिलाफ फैसला सुनाया गया।

लॉकडाउन के उल्लंघन में 28 गिरफ्तार

उन्होंने आगे बताया कि इस दौरान गाँव के कई लोग लॉकडाउन का उल्लंघन कर एक जगह पर इकट्ठे हुए थे। इनके खिलाफ FIR दर्ज की गई है और 28 लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। आरोपितों के खिलाफ आईपीसी की धारा 188, 269, 270 और महामारी रोग अधिनियम की धारा 3 के तहत FIR दर्ज की गई है।

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के मद्देनजर 3 मई तक लॉकडाउन जारी है। मगर कुछ लोग लगातार इसका उल्लंघन कर रहे हैं। पिछले दिनों केरल के कासरगोड जिले के एक मस्जिद में लॉकडाउन के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करके नमाज अता करवाने वाले इमाम और एक अन्य व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया था।

बिहार के गया जिले में लॉकडाउन के दौरान नियमों का उल्लंघन कर खुली दुकानों को बंद करवाने जब पुलिस की टीम पहुँची तो स्थानीय लोगों ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया। हमले में एसआइ ददन प्रसाद व एक अन्य पुलिसकर्मी घायल हो गए।

पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दो महिलाओं समेत छह हमलावरों को मौके से गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद तत्काल पुलिस ने कानूनी कार्रवाई करते दस नामजद और 10 अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। वहीं पुलिस ने गिरफ्तार किए सभी छह आरोपितों को जेल भेज दिया। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe