Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाजहिन्दुओं के घरों पर पत्थरबाजी, पलट दी अभिमन्यु की दुकान: अधिकतर हमलावर मुस्लिम नाबालिग,...

हिन्दुओं के घरों पर पत्थरबाजी, पलट दी अभिमन्यु की दुकान: अधिकतर हमलावर मुस्लिम नाबालिग, बोले पीड़ित- पलायन के लिए किया जा रहा मजबूर

बजरंग दल के गाजीपुर सह-संयोजक शिवम चौबे ने इस घटना पर ऑपइंडिया से बात की। उन्होंने बताया कि घटना के बाद वो गाँव में गए थे। गाँव में उपद्रव की वजह बढ़ रही मुस्लिम आबादी को बताते हुए शिवम ने कहा कि सिर्फ पत्थरबाजी ही नहीं, बल्कि अक्सर पान खाकर हिन्दुओं के घरों पर थूका जाता है और बहन बेटियों को भी छेड़ा जाता है।

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में हिन्दुओं के कुछ मकानों पर पत्थरबाजी की गई है। पत्थरबाजी का आरोप मुस्लिम समुदाय के 5 लोगों पर लगा है, जिनके खिलाफ नामजद FIR दर्ज की गई है। शुक्रवार (12 अप्रैल 2024) को पुलिस ने मामले में 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया है कि हमले के पीछे उन्हें डराकर भगाने की साजिश है। बजरंग दल का आरोप लगाया है कि मुस्लिम समुदाय के कुछ उपद्रवी न सिर्फ हिन्दू लड़कियों से छेड़खानी करते हैं, बल्कि पान खाकर घरों पर थूकते भी हैं।

यह मामला गाजीपुर जिले के थाना क्षेत्र दिलदारनगर का है। यहाँ के गाँव उसिया में रहने वाले शिव विलास गुप्ता ने 12 मार्च को शिकायत दर्ज करवाई कि 5 अप्रैल 2024 को 2 उपद्रवियों ने उनके घर पर पत्थरबाजी की थी। इस दौरान घर में लगे CCTV कैमरे को भी निशाना बनाया गया। इस घटना के बाद 9-10 अप्रैल की रात कुछ उपद्रवी शिव विलास के घर पर पत्थरबाजी करने लगे।

पीड़ित ने बताया है कि पत्थरबाजी के दौरान उन्होंने मुस्लिम समुदाय के 5 आरोपितों की CCTV फुटेज से पहचान की है। आशंका है कि इनमें से कुछ नाबालिग भी हो सकते हैं। शिकायत में 5 नामजदों सहित 2 अज्ञात पर पत्थरबाजी का आरोप लगाया गया है। पीड़ित ने इन आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की माँग की है। इन सभी पर IPC की धारा 147, 352 और 427 के तहत कार्रवाई की गई है।

मैं ही नहीं, कई हिन्दू पीड़ित

ऑपइंडिया को शिव विलास ने बताया कि वह मेडिकल स्टोर चलाकर परिवार का भरण-पोषण करते हैं। उन्होंने कहा कि पत्थरबाजी से अकेले वो नहीं, बल्कि उसिया गाँव के कई हिन्दू प्रभावित हैं। शिव के अनुसार, गाँव में हिन्दू और मुस्लिम आबादी लगभग बराबर है। पीड़ित को यह पता ही नहीं है कि उसके घर को निशाना क्यों बनाया गया। उनका दावा है कि हमलावरों से उनका पूर्व में किसी तरह का विवाद नहीं है।

अभिमन्यु की भी दुकान तोड़ी गई

जिस रात शिव विलास गुप्ता के घर पर हमला हुआ था, उसी रात उसिया गाँव के अभिमन्यु चौरसिया की दुकान को भी निशाना बनाया गया था। अभिमन्यु चौरसिया ने 11 अप्रैल 2024 को इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई है। अभिमन्यु ने बताया कि 9 अप्रैल की रात को उनके पान के ठेले को पलट दिया गया था। इसी रात बदमाशों द्वारा कई अन्य हिन्दुओं के घरों को भी क्षतिग्रस्त किया गया था।

मुस्लिम त्योहारों पर किया जाता है नुकसान

अपनी शिकायत में अभिमन्यु ने दावा किया है कि हिन्दुओं को प्रताड़ित करने की बात उसिया गाँव में आए दिन की है। बकौल अभिमन्यु, मुस्लिम त्योहारों में हिन्दुओं को अक्सर नुकसान उठाना पड़ता है। हमलावरों को आपराधिक सोच वाला बताते हुए अभिमन्यु ने भी उनको ही नामजद किया है, जिनके खिलाफ शिव विलास गुप्ता ने FIR दर्ज करवाई है। ऑपइंडिया के पास शिकायत कॉपी मौजूद है।

छेड़ते हैं लड़कियाँ, थूकते हैं पान खाकर

बजरंग दल के गाजीपुर सह-संयोजक शिवम चौबे ने इस घटना पर ऑपइंडिया से बात की। उन्होंने बताया कि घटना के बाद वो गाँव में गए थे। गाँव में उपद्रव की वजह बढ़ रही मुस्लिम आबादी को बताते हुए शिवम ने कहा कि सिर्फ पत्थरबाजी ही नहीं, बल्कि अक्सर पान खाकर हिन्दुओं के घरों पर थूका जाता है और बहन बेटियों को भी छेड़ा जाता है।

बकौल शिवम, हमलावरों के घर वाले अवैध धंधे करते हैं जिसकी वजह से उनके पास पैसे होते हैं। इन पैसे से वो अपने अपराधों की पैरवी करते हैं। ऑपइंडिया के पास घटना के वीडियो फुटेज भी मौजूद हैं। इन फुटेज में कुछ लोग पत्थरबाजी करते देखे जा सकते हैं। ऑपइंडिया ने SHO दिलदारनगर को कॉल किया, लेकिन उनका आधिकारिक नंबर नॉट रीचबल आया।

थाना प्रभारी से बात होने के बाद खबर को अपडेट किया जाएगा। हालाँकि हमारे द्वारा जुटाई गई जानकारी के मुताबिक FIR में नामजद सभी आरोपित नाबालिग हैं। पुलिस ने उन्हें हिरासत में लिया है। हालाँकि जरूरी कानूनी कार्रवाई के बाद उनको जमानत मिल गई। मामले की जाँच चल रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -