Friday, July 30, 2021
Homeदेश-समाजनहीं टूटेगा मंदिर: फ्लाईओवर के लिए 25 फ़ीट खिसकाया जा रहा यह मंदिर, लगाए...

नहीं टूटेगा मंदिर: फ्लाईओवर के लिए 25 फ़ीट खिसकाया जा रहा यह मंदिर, लगाए गए 350 जैक

प्रशासन ने पहले तो इस मंदिर को तोड़ने तक की भी योजना बनाई थी लेकिन बाद में प्लान में बदलाव किया गया। 350 टन वजन वाले इस मंदिर को अब 25 फ़ीट अलग खिसकाने का निर्णय लिया गया है।

तमिलनाडु के नारायणपुरम में मदुरै-नाथम एलिवेटेड राजमार्ग निर्माण का कार्य चल रहा है। इस दौरान एक फ्लाईओवर भी बनाया जाना है लेकिन ऐन वक्त पर एक समस्या खड़ी हो गई। दरअसल, फ्लाईओवर निर्माण के लिए जो नक्शा प्रस्तावित था, उसमें रास्ते में एक मंदिर था। अधिकारियों के मुताबिक़, 21 वर्ष पुराने इस मंदिर के कारण फ्लाईओवर का काम रुक रहा था। प्रशासन ने पहले तो इस मंदिर को तोड़ने तक की भी योजना बनाई लेकिन बाद में प्लान में बदलाव किया गया। 350 टन वजन वाले इस मंदिर को अब 25 फ़ीट अलग खिसकाने का निर्णय लिया गया है।

नेपाल, बिहार और हरियाणा से आई टीमों को इस मंदिर को खिसकाने की प्रक्रिया में लगाया गया है। अमर उजाला में प्रकाशित ख़बर के अनुसार, मंदिर के पुजारी ए दामोदरन ने बताया कि पहले मंदिर के 15 फ़ीट के हिस्से को तोड़ने की बात कही गई थी। बाद में कमिटी ने अनुमान लगाया कि इसे दुबारा बनवाने में सवा करोड़ के आसपास ख़र्च आएगा। इसीलिए कमिटी ने आर्थिक रूप से सस्ता तरीका निकाला। कमिटी के नए अनुमान के मुताबिक़, मंदिर को खिसकाने में 22 लाख रुपए का ख़र्च आएगा।

इंजीनियर धर्मालिंगम ने अधिक जानकारी देते हुए बताया कि अगर शिखर को भी मिला दें तो 4225 वर्गफीट में बने इस मंदिर की ऊँचाई 25 फीट है। दूसरी जगह बगल में ही मंदिर को शिफ्ट करने के लिए स्थान तैयार कर लिया गया है। वहीं पर मंदिर को शिफ्ट किया जाएगा। इस कार्य के लिए 350 जैक लगाए गए हैं।

शुक्रवार (अप्रैल 5, 2019) को सुबह में मंदिर को खिसकाने की प्रक्रिया शुरू की गई। लेकिन, तीन घंटे में इसे महज तीन फ़ीट ही खिसकाया जा सका। हालाँकि, मंदिर को 15 फ़ीट ही खिसकाने की ज़रुरत थी लेकिन भविष्य में होने वाले निर्माण कार्यों को देखते हुए इसे 25 फ़ीट खिसकाने का निर्णय लिया गया है। मंदिर के मुख्य भाग के साथ इसके साथ बने तीन अन्य छोटे-बड़े मंदिरों को भी खिसकाया जाएगा।

बता दें कि मदुरै-नाथम राजमार्ग के लिए केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने हरी झंडी दी थी। नवम्बर 2017 में गडकरी ने बताया था कि भारत सरकार ने तमिलनाडु में सड़क परियोजनाओं के लिए एक लाख करोड़ से भी अधिक की राशि स्वीकृत की है। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलनीसामी ने इस कार्य के लिए गडकरी को धन्यवाद दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Tokyo Olympics: 3 में से 2 राउंड जीतकर भी हार गईं मैरीकॉम, क्या उनके साथ हुई बेईमानी? भड़के फैंस

मैरीकॉम का कहना है कि उन्हें पता ही नहीं था कि वह हार गई हैं। मैच होने के दो घंटे बाद जब उन्होंने सोशल मीडिया देखा तो पता चला कि वह हार गईं।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,934FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe