Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजअलवर में एक और दलित महिला के साथ बलात्कार, एम्बुलेंस चालक ने किया दुष्कर्म

अलवर में एक और दलित महिला के साथ बलात्कार, एम्बुलेंस चालक ने किया दुष्कर्म

जब पीड़िता ने शोर मचाया तो उन लोगों ने महिला को थप्पड़ मारे और धमकी दी कि अगर उसने किसी को भी बताया तो वो बहू की डिलीवरी केस को खराब कर देंगे और साथ ही नवजात पोते को भी मार देंगे।

राजस्थान के अलवर में पति के सामने दलित महिला से गैंगरेप के बाद रेप का एक और शर्मनाक मामला सामने आया है। अलवर की पुलिस को गुरुवार (मई 9, 2019) को एक अन्य दलित महिला से सामूहिक बलात्कार की शिकायत मिली। यहाँ कठूमर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डिलीवरी रूम में सरकारी एम्बुलेंस के ड्राइवर ने 40 वर्षीय दलित महिला के साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया। जानकारी के मुताबिक, रेप की यह वारदात 7 मई के रात की है और महिला ने दो दिन बाद यानी गुरुवार (मई 9, 2019) को कठूमर थाने में यह मामला दर्ज कराया।

जानकारी के मुताबिक, दलित महिला 5 मई को अपनी गर्भवती बहू को लेकर कठूमर सामुदायिक अस्पताल पहुँची थी। यहाँ डिलीवरी के बाद छुट्‌टी नहीं मिलने से अस्पताल में रुकी हुई थी। रेप पीड़िता ने बताया कि मंगलवार (मई 7, 2019) की रात एम्बुलेंस के ड्राइवर ने डिलीवरी से जुड़े जरूरी कागजों की बात कही और अपने साथ डिलीवरी रूम ले गया। वहाँ उसके मुँह में कपड़ा ठूँसकर उसके साथ रेप किया।

जब पीड़िता ने शोर मचाया तो उन लोगों ने महिला को थप्पड़ मारे और धमकी दी कि अगर उसने किसी को भी बताया तो वो बहू की डिलीवरी केस को खराब कर देंगे और साथ ही नवजात पोते को भी मार देंगे। जिससे डरी-सहमी पीड़िता बहू को अस्पताल से छुट्टी करवा कर घर ले आई और समाज के डर से चुप रही। लेकिन फिर उसने दो दिन बाद हिम्मत दिखाई और पुलिस थाने में जाकर उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है और अब मामले की जाँच कर रही है।

गौरतलब है कि 26 अप्रैल को राजस्थान के अलवर जिले के थानागाजी इलाके में 5 युवकों ने पति के सामने ही पत्नी के साथ कथित तौर पर गैंगरेप को अंजाम दिया और साथ ही दलित जाति की पीड़ित युवती का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। पीड़िता अपने पति के साथ बाइक पर सवार होकर दोपहर 3 बजे तालवृक्ष की तरफ जा रही थी, तभी थानागाजी-अलवर बाइपास रोड पर उनकी बाइक के सामने 5 युवकों ने अपनी मोटरसाइकिलें लगा दीं। इसके बाद वे महिला एवं उसके पति को रेत के टीलों की तरफ ले गए। वहाँ उन्होंने पति के साथ मारपीट की और दंपति को बंधक बना लिया। फिर दलित महिला के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में दुर्गा विसर्जन से लौट रहे श्रद्धालुओं पर बम से हमला, कई घायल, पुलिस ने कहा – ‘हमलावरों की अभी तक पहचान...

हमलावर मौके से फरार हो गए। सूचना पाकर पहुँची पुलिस ने लोगों की भीड़ को हटाकर मामला शांत किया और घायलों को अस्पताल भेजा।

राहुल गाँधी सहित सभी कॉन्ग्रेसियों ने दम भर खाया, 2 साल से नहीं दे रहे 35 लाख रुपए: कैटरिंग मालिक ने दी आत्महत्या की...

कैटरिंग मालिक खंडेलवाल का आरोप है कि उन्हें 71 लाख रुपए का ठेका दिया गया था। 36 लाख रुपए का भुगतान कर दिया गया है जबकि 35 लाख रुपए...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,199FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe