Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाजहयातुनिसा ने दो बार ₹2-2 लाख कर्ज लिया, शौहर मुस्तफा ने सारे पैसे डुबोए,...

हयातुनिसा ने दो बार ₹2-2 लाख कर्ज लिया, शौहर मुस्तफा ने सारे पैसे डुबोए, टोका तो बल्ले से पीट कर मार डाला

शनिवार को दोनों के बीच बहस छिड़ गई। इसके बाद मुस्तफा ने गुस्से में बल्ला उठाया और हयातुननिसा की पिटाई शुरू कर दी। हयातुनिसा की मौके पर ही मौत हो गई। सुबह में पुलिस के सामने सरेंडर कर मुस्तफा ने घटना की जानकारी दी।

आंध्र प्रदेश के नरसरावपेट में तीखी बहस के बाद शौहर ने बीबी की बल्ले से मारकर हत्या कर दी। ग्रामीण पुलिस इंस्पेक्टर वाई अचैया ने बताया कि नरसरावोपेट के साई नगर इलाके में रहने वाले मुस्तफा और उसकी बीबी हयातुननिसा के बीच शनिवार (दिसंबर 21, 2019) रात को किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इसी दौरान मुस्तफा ने बीवी पर हमला कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई। दोनों का निकाह करीब 10 साल पहले हुआ था।

जानकारी के मुताबिक हयातुननिसा बर्नपेट के एक सरकारी उच्च प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका थी, जबकि मुस्तफा बेरोजगार था। पुलिस ने कहा कि हयातुननिसा ने मुस्तफा की मदद करने के लिए बार-बार प्रयास किए। यहाँ तक कि अपने पति के लिए कार खरीदने के लिए 2 लाख रुपए का ऋण भी लिया, ताकि मुस्तफा ट्रेवल बिजनेस करके कमा सके। लेकिन उसे नुकसान उठाना पड़ा, जिसके बाद उसने कार बेच दी। हयातुननिसा ने फिर से 2 लाख रुपए का ऋण लेकर मुस्तफा के लिए कपड़ों की दुकान खोल दी, मगर इस बार भी मुस्तफा की लापरवाही की वजह से नुकसान हुआ और दुकान बंद हो गया।

पुलिस ने बताया कि इस सबकी वजह से दोनों का रिश्ता तनावपूर्ण हो गया था। दोनों अक्सर लड़ते-झगड़ते रहते थे। शनिवार की रात को भी दोनों के बीच बहस छिड़ गई, जिसके बाद मुस्तफा ने गुस्से में बल्ला उठाया और हयातुननिसा की पिटाई शुरू कर दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। 

मुस्तफा ने रविवार (दिसंबर 22, 2019) सुबह पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया और उन्हें घटना की जानकारी दी। पुलिस ने मुस्तफा के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर हयातुननिसा के शव को पोस्टमार्टम के लिए नरसरावपेट सरकारी क्षेत्र अस्पताल में भेज दिया है।

गौरतलब है कि इससे पहले तेलंगाना में दो भाइयों ने बहस होने पर अपने जीजा सद्दाम की गला काटकर हत्या कर दी थी। इसके बाद दोनों मृतक का कटा हुआ सिर लेकर नामपल्ली पुलिस थाने पहुँचकर आत्मसमर्पण कर दिया था। इरफान और घोसे ने घटना को सड़क पर भरी दोपहर में अंजाम दिया थी। आरोपितों के हाथ में मृतक का कटा हुआ सिर देखकर पुलिस भी हैरत में पड़ गई थी। इरफान और घोसे चाकू से तब तक सद्दाम पर हमला करते रहे, जब तक कि उसका सिर धड़ से अलग नहीं हो गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe