Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाज'तांडव' पर यूपी पुलिस सख्त: हजरतगंज थाने में अमेज़न प्राइम की नेशनल हेड से...

‘तांडव’ पर यूपी पुलिस सख्त: हजरतगंज थाने में अमेज़न प्राइम की नेशनल हेड से 3.5 घंटे पूछताछ, 100 में कई सवाल अनुत्तरित

यूपी पुलिस ने इस मामले में 100 सवालों की सूची तैयार की थी। लेकिन, अपर्णा पुरोहित पहले दिन कई सवालों के जवाब नहीं दे सकीं, इसलिए अभी कई सवालों को लेकर पूछताछ बाकी है। अपर्णा पुरोहित के साथ उनके सुरक्षाकर्मी और अधिवक्ता भी साथ गए थे, जिन्हें कक्ष के बाहर ही रोक दिया गया।

उत्तर प्रदेश की पुलिस ने हिन्दुओं का अपमान करने वाले ‘तांडव’ वेब सीरीज को लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। इस मामले में मंगलवार (फरवरी 23, 2021) को बयान दर्ज कराने के लिए अमेज़न प्राइम की नेशनल हेड अपर्णा पुरोहित लखनऊ के हजरतगंज पुलिस थाने पहुँचीं। दोपहर के 2 बजे पहुँचीं अपर्णा का बयान बंद कमरे में दर्ज किया गया। लगभग साढ़े 3 घंटे तक उनका बयान दर्ज किया गया। यूपी पुलिस इस मामले में तेज़ी से आगे बढ़ रही है।

जनवरी 18 को दर्ज किए गए इस मामले में अपर्णा पुरोहित का बयान दर्ज कराने की प्रक्रिया की वीडियोग्राफ़ी भी कराई गई। यूपी पुलिस ने इस मामले में 100 सवालों की सूची तैयार की थी। लेकिन, अपर्णा पुरोहित पहले दिन कई सवालों के जवाब नहीं दे सकीं, इसलिए अभी कई सवालों को लेकर पूछताछ बाकी है। अपर्णा पुरोहित के साथ उनके सुरक्षाकर्मी और अधिवक्ता भी साथ गए थे, जिन्हें कक्ष के बाहर ही रोक दिया गया।

अपर्णा पुरोहित से पूछताछ का क्रम जारी रहेगा। इलाहबाद हाईकोर्ट की एकल पीठ ने इस मामले में उन्हें थाने पहुँच कर बयान दर्ज कराने का आदेश दिया था। इस मामले में निर्देशक अली अब्बास ज़फर और निर्माता हिमांशु कृष्ण मैहर का बयान मुंबई में ही दर्ज किया गया था। ‘तांडव’ में हिन्दू देवी-देवताओं का मजाक बनाने और हिन्दू धर्म का अपमान करने के बाद देश भर में विरोध प्रदर्शन हुए थे। शो के निर्माताओं ने माफ़ी भी माँगी थी।

हजरतगंज के अलावा उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर में अपर्णा पुरोहित समेत अन्य के खिलाफ धारा 153- A (1) (B), 295-A, 505(1)(B), 505(2) में FIR दर्ज हुई थी। हजरतगंज वाला मामला इंस्पेक्टर अमरनाथ वर्मा ने दर्ज कराया था। उन्होंने ‘तांडव’ के सारे एपिसोड में से हिन्दू धर्म का अपमान करने वाले दृश्यों का विवरण नोट कर के पेश किया था। अब इस मामले में आगे की कार्रवाई का इंतजार है।

बता दें कि अमेजन प्राइम की वेब सीरिज ‘तांडव’ के मेकर्स के खिलाफ पिछले दिनों लखनऊ में शिकायत दर्ज की गई थी। इस संबंध में जाँच के लिए यूपी पुलिस मुंबई भी गई थी। गुरुवार जनवरी 21, 2020 को यूपी पुलिस की टीम सीरीज के डायरेक्टर, लेखक के घर तथा प्रोड्यूसर के दफ्तर पहुॅंची थीं। लेकिन, इनमें से कोई भी नहीं मिला था। इन सभी के ख़िलाफ़ सीरिज के जरिए लोगों की धार्मिक भावनाएँ आहत करने के आरोप में केस दर्ज है। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘₹100 करोड़ का ऑफर, ₹5 करोड़ एडवांस’: कॉन्ग्रेस नेता शिवकुमार की पोल खुली, कर्नाटक सेक्स सीडी में PM मोदी को बदनाम करने का दिया...

BJP नेता देवराजे गौड़ा ने कहा है कि पीएम मोदी को बदनाम करने के लिए कर्नाटक के डेप्यूटी सीएम डीके शिवकुमार ने उन्हें 100 रुपए का ऑफर दिया था।

‘जिसे कहते हैं अटाला मस्जिद, उसकी दीवारों पर त्रिशूल-फूल-कलाकृतियाँ’: ​कोर्ट पहुँचे हिंदू, कहा- यह माता का मंदिर

जौनपुर की अटाला मस्जिद पर हिंदुओं ने दावा पेश किया है। इसे माता का मंदिर बताया है। मस्जिद की दीवारों पर हिंदू चिह्न होने की बात कही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -